VIDEO: इंसानियत हुई शर्मसार, बुजुर्ग को इतनी बेरहमी से पीटा कि राह चलते लोगों को आना पड़ा बचाने, cctv कैमरा बना गवाह

chandan singh

Publish: Sep, 17 2017 05:15:17 (IST)

Udaipur, Rajasthan, India
VIDEO: इंसानियत हुई शर्मसार, बुजुर्ग को इतनी बेरहमी से पीटा कि राह चलते लोगों को आना पड़ा बचाने, cctv कैमरा बना गवाह

उदयपुर. कहते है ऊपर वाला सब देख रहा है, ऐसा ही वाकया रविवार को मावली में हुआ।

उदयपुर. कहते है ऊपर वाला सब देख रहा है, ऐसा ही वाकया रविवार को मावली में हुआ। यहां हुई घटना को ऊपरवाले ने तो नहीं मगर सीसीटीवी ने जरूर देख लिया। घटना के अनुसार उदयपुर के मावली कस्बे में आज शिक्षा को शर्मसार करने वाला एक मामला सामने आया है।
पैसों के लेन देन को लेकर एक शिक्षक ने बुजुर्ग रिटायर्ड शिक्षक की पिटाई कर दी। मावली चौराहे पर यह घटना हुई और यह पूरा घटनाक्रम चोराहे पर लगे cctv में कैद हो गया। 
शिक्षक ने जिस तरह बुजुर्ग शिक्षक की पिटाई की उसको लेकर आसपास के लोग दौड़ पड़े और बीचबचाव करने लगे। सभी ने मारपीट करने वाले शिक्षक को रोका लेकिन वो बार बार अपने आप को छुड़वा कर लाते घूंसे मारने से बाझ नहीं आया।
उसने बुजुर्ग को बाइक से कीचड़ में गिरा दिया और खूब पीटा। रिटायर्ड शिक्षक गोपालसिंह राव ने मावली थाने में मामला दर्ज करवाया है।
पुलिस मामला दर्ज कर जांच में जुटी में हुई है।

 

 

 

 

 ये भी पढ़ें- बंधक बनाकर मारपीट के आरोपितों की सजा बहाल

उदयपुर. बंधक बनाकर मारपीट करने वाले तीन आरोपितों की सजा की अपील को न्यायालय ने खारिज करते हुए अधीनस्थ न्यायालय के निर्णय को यथावत रखा। वासनी खुर्द फतहनगर निवासी नानूदास पुत्र मोहनदास वैष्णव, लक्ष्मणसिंह पुत्र मेहताब सिंह राणावत व उसकी पत्नी लक्ष्मी कुंवर को न्यायिक मजिस्ट्रेट मावली ने गत 17 जनवरी 2013 को दो-दो वर्ष की कैद व साढ़े तीन-तीन हजार रुपए जुर्माने की सजा सुनाई थी। आरोपित ने निर्णय के विरुद्ध अपर न्यायालय में अपील की जिसे अपर जिला एवं सत्र न्यायालय क्रम-1 की पीठासीन अधिकारी अनुपमा राजीव बिजलानी ने खारिज कर दी। आरोपितों के विरुद्ध पारसमल पुत्र मांगीलाल जैन ने 24 सितंबर 2007 को फतहनगर थाने में मामला दर्ज करवाया था। मामले में उसने आरोपितों पर गिरवी रखी रकम के हिसाब को लेकर उसके कमरे में बांधकर मारपीट करने का आरोप लगाया था।

 

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned