इस गांव में लोगों के लिए आज भी गौरवपथ बना हुआ है हसीन सपना

इस गांव में लोगों के लिए आज भी गौरवपथ बना हुआ है हसीन सपना

Sushil Kumar Singh Chauhan | Updated: 20 Jun 2019, 09:38:25 PM (IST) Udaipur, Udaipur, Rajasthan, India

चार माह पूर्व बनकर तैयार होना था गौरवपथ

उदयपुर/ गोगुंदा. प्रदेश की तत्कालीन सरकार की महत्वाकांक्षी योजनाओं की दुगॢत का एक और मामला सामने आया है। मामला सायरा पंचायत समिति क्षेत्र की विसमा ग्राम पंचायत का है। करीब ९ माह पहले इस क्षेत्र के लिए स्वीकृत गौरवपथ की हकीकत यह है कि इस अवधि में सड़क के नाम पर यहां एक ढेला भी नहीं लगा है। अनुबंध अवधि के तहत संबंधित सड़क का निर्माण करीब ४ माह पूर्व हो जाना चाहिए था। ग्रामीणों की समस्या इसलिए भी गहरा रही है कि निर्माण के नाम पर संवेदक ने एक किलोमीटर तक सड़क खोद दी थी। अब बरसात में इस खोदे गए हिस्से में पानी भर गया है, जो कीचड़ में तब्दील होकर लोगों को चुनौती दे रहा है। गौरतलब है कि 2018-19 मे गौरवपथ स्वीकृत हुआ। सार्वजनिक निमार्ण विभाग ने 28 सितम्बर 2018 को विभागीय प्रकिया पूरी कर ठेकेदार को रोड बनाने का वर्क ऑर्डर जारी किया। ठेकेदार को यह कार्य तय अवधि में पूरा करना था।
इधर, ग्राम पंचायत के उपसरपंच राजेश सनाढय ने बताया कि कई बार विभागीय ओहदेदारों का ध्यान ग्रामीण समस्या की ओर खींचा गया, लेकिन किसी स्तर पर इसकी सुनवाई नहीं हुई।
बजट की कमी
बजट के अभाव में कुछ सड़कों का निर्माण कार्य अटका हुआ है। बजट मिलते ही कार्य को पूरा किया जाएगा।
सी.आर. प्रेमी, एक्सइएन, पीडब्ल्यूडी

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned