पधारो म्हारे देश 'वैक्सीन

- वैक्सीन बॉक्स उतरने लगे तो लगा कि 'कोरोना की कैद से मुक्ति का अमृत मिला

- आरएनटी मेडिकल कॉलेज व एमबी हॉस्पिटल के छह हजार कार्मिकों को लगेंगे एंटी कोरोना टीके

By: bhuvanesh pandya

Published: 14 Jan 2021, 10:42 PM IST

भुवनेश पंड्या

विमान से उतरता एंटी कोरोना वैक्सीन का एक-एक बॉक्स जैसे शहर से लेकर जिले भर के लिए खुशियों के पिटारे से कम नहीं था। जैसे ही शहर में वैक्सीन आने की जानकारी लोगों को मिली तो हर किसी के मन में अर्से से कोरोना की कैद से मुक्ति का सपना जीवंत हो उठा। हर किसी को ऐसा लग रहा था मानो कि कई महीनों की कोरोना की पाश को काटने के लिए ये वैक्सीन कटर आ चुका है। उदयपुर में बुधवार का दिन उस पल का साक्षी बना जो आने वाले समय में किसी बड़े एतिहासिक दिन से कम नहीं माना जाएगा। उदयपुर एयरपोर्ट पर जैसे ही कोरोना वैक्सीन बॉक्स प्लेन से उतारना शुरू हुए तो वहां वैक्सीन की डोज लेने पहुंचे अधिकारियों से लेकर मौजूद लोगों के चेहरे पर खुशी झलक उठी। जैसे वैक्सीन वेन में 'सवारÓ हो एयरपोर्ट से बाहर शहर की सड़क पर दौड़ी तो हर मन कह उठा पधारो म्हारे देश वैक्सीन...।
----

झलकियां
1. पल बन गया इतिहास- ठीक 12.40 बजे का क्षण इतिहास के पन्नो में दर्ज हो गया जब उतरी वैक्सीन- इंडिगो प्लेन मुम्बई -उदयपुर ठीक 12.40 बजे महाराणा प्रताप हवाईअड्डे पहुंचा।

2. सबसे पहले इन तीन ने लगाया वैक्सीन बॉक्स को हाथ - उदयपुर में जैसे ही एंटी कोरोना वैक्सीन मुम्बई से उदयपुर पहुंची तो सबसे पहले इसे निजी विमानन कंपनी के तीन अपलोडर ने उठाया। उदयपुर की धरती पर वैक्सीन पहुंचने के साथ ही ये तीनों एतिहासिक क्षण के साक्षी बने। इसमें प्रेमसिंह, मनोहर गायरी और कैलाश पुष्करणा थे।
3. चेहरे पर उभर आई खुशी- जैसे ही वैक्सीन बॉक्स उतरने लगे तो वहां डोज लेने पहुंचे अधिकारियों के चेहरे खिल उठे। वे उस वैक्सीन के बॉक्स के साथ सेल्फियां लेने लगे।
----
उदयपुर में बुधवार को कोविशिल्ड वैक्सीन आने के साथ ही तैयारियां पूरी हो चुकी है। आरएनटी मेडिकल कॉलेज व एमबी हॉस्पिटल के छह हजार कार्मिकों को 16 जनवरी से एंटी कोरोना वैक्सीन के टीके लगाए जाएंगे। इसके लिए कॉलेज परिसर में दस और रिजर्व में तीन अन्य वैक्सीनेशन सेंटर बनाए गए हैं, जहां ये टीके लगाए जाएंगे।

------
ऐसे लगेंगे टीके

- मेडिकल कॉलेज में तीन वैक्सीनेशन सेंटर रहेंगे। यहां पर सभी चिकित्सकों व मेडिकल स्टाफ को टीके लगाए जाएंगे।
- एसएसबी भवन में तीन वैक्सीनेशन सेंटर बनाए गए हैं, जहां जनाना हॉस्पिटल व एमबी हॉस्पिटल के अन्य नर्सेज को टीके लगेंगे।

- नर्सिंग कॉलेज में चार वैक्सीनेशन सेंटर बनाए गए हैं, यहां स्टूडेंट्स व अन्य कार्मिकों को टीके लगेंगे।
-एक-एक सेंटर बड़ी स्थित टीबी हॉस्पिटल, एक चांदपोल और एक हिरणमगरी स्थित सेटेलाइट हॉस्पिटल में बनाया गया है। ये रिजर्व रखे गए हैं।

------
1. आईएम इन्ट्रामस्क्यूलर टीका - यह टीका आईएम यानी इन्ट्रामस्क्यूलर टीका है। इसे हाथ के ऊपरी हिस्से यानी कंधे के समीप लगाया जाएगा।

2. बाद में होगा बड़ी वैक्सीन स्टोर का उपयोग- बड़ी में अभी जिस स्टोर में वैक्सीनरखी गई है। वह पोलियो की वैक्सीन को रखने वाला स्टोर है, जबकि एंटी कोरोना की वैक्सीन के लिए बड़ी में ही एक अन्य स्टोर तैयार हो रहा है, जिसे जब आम लोगों को इंजेक्शन लगाएंगे तब वहां वैक्सीन रखी जाएगी।
3. उदयपुर में बड़ी स्थित स्टोर स्टेट, संभाग और जिला स्टोर की केटेगरी में आता है क्योंकि यहां पर विमान से आने वाले वैक्सीन की सुविधा है। ऐसे में ये स्टेट स्टोर भी है।

4. वैक्सीन स्टोर पर चौबीसों घंटे पुलिस जाप्ता तैनात किया गया है।
5. जिले में कोविड वैक्सीनेशन के लिए दो चरणों में 20 जगहों पर ड्रायरन किया जा चुका है एवं वैक्सीनेशन के लिए जरूरी ट्रेनिंग भी दी जा चुकी है।

6. कोविड वैक्सीनेशन के लिए ड्राय रन के द्वितीय चरण में बुधवार को जिले में 17 जगहों पर ड्रायरन किया गया।
7. आरएनटी मेडिकल कॉलेज उदयपुर में सुपर स्पेशलिटी बिल्डिंग में ड्रायरन आयोजित किया गया। इस दौरान अतिरिक्त निदेशक, ग्रामीण स्वास्थ्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य सेवाएं जयपुर डॉ.रवि प्रकाश शर्मा एवं अन्य अधिकारियों ने आरएनटी मेडिकल कॉलेज व एमबी चिकित्सालय के एसएसबी ब्लॉक में आयोजित ड्रायरन का जायजा लिया गया। इस दौरान एमबीर चिकित्सालय अधीक्षक डॉ. आरएल सुमन सहित अन्य चिकित्सक मौजूद थे। निरीक्षण के दौरान उन्होंने टीकाकरण से संबंधित संपूर्ण व्यवस्थाओं यथा टीकाकरण कक्ष, प्रतीक्षा कक्ष एवं निगरानी कक्ष का दौरा कर वहां व्यवस्थाओं का जायजा लिया एवं टीकाकरण के बाद के लिए जरूरी निर्देश दिए। निरीक्षण के दौरान उन्होंने मेडिकल कॉलेज स्थित माइक्रोबायोलॉजी लैब एवं आरटीपीसीआर मशीन के बारे में भी जानकारी ली एवं आवश्यक दिशा निर्देश दिए। मेडिकल कॉलेज में आयोजित इस द्वितीय चरण के ड्रायरन में बुधवार को 20 लाभार्थियों को बुलाया गया।

bhuvanesh pandya
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned