खतरे के समीप हैं हम...हमारे उदयपुर में संभाग के सर्वाधिक कंटेनमेंट जोन

- उदयपुर जिले में 39 कंटेनमेंट जोन

By: bhuvanesh pandya

Published: 24 May 2020, 08:18 AM IST

भुवनेश पंड्या

उदयपुर. संभागीय मुख्यालय होने के कारण उदयपुर शहर और उदयपुर जिला कोरोना संक्रमण के मामले में भी पीछे नहीं है। हम खतरे के ज्यादा समीप हैं, इसलिए कि पूरे संभाग में सर्वाधिक कंटेनमेंट जोन उदयपुर में हैं, उनकी संख्या 39 हैं। खास बात ये कि शहर में 13 और गांवों में 23 है तो तीन ऐसे क्षेत्र है जो शहरों और गांवों में दोनों में शामिल हैं। संभाग में सबसे कम या कोरोना से सुरक्षित प्रतापगढ़ जिला है, यहां केवल 1 ही कंटेनमेंट जोन हैं। दूसरी ओर वागड़ क्षेत्र में पहले बांसवाड़ा का कुशलगढ़ बेहद खतरनाक था, जबकि अब डूंगरपुर जिले में संभाग के दूसरे नम्बर पर कंटेनमेंट जोन यानी 18 जोन बन चुके हैं।

-------

जिलेवार कंटेनमेंट जोन उदयपुर-

39

डूंगरपुर- 18

बांसवाड़ा-07

चित्तौडगढ़़-05

प्रतापगढ़- 01

राजसमन्द-05

------

कंटेनमेंट जोन कंटेनमेंट जोन को लेकर भी अलग-अलग नियम हैं। शहरी और ग्रामीण क्षेत्रों में कंटेनमेंट जोन को तय करने का अलग फ ॉर्मूला अपनाया जाता है। यदि किसी इलाके में कोरोना का एक पॉजिटिव केस आता है तो शहरी क्षेत्र में उस कॉलोनी मोहल्ले या वार्ड की सीमा के अंदर कम से कम 400 मीटर के दायरे को कंटेनमेंट घोषित किया जा सकता है, प्रशासन चाहे तो 400 मीटर से ज्यादा दायरे को भी इसमे अंतर्गत ले सकता है, वहीं यदि किसी ग्रामीण इलाके में कोरोना का एक केस आये तो पूरा गांव ही कंटेनमेंट घोषित कर दिया जाता है। यदि किसी कॉलोनी, मोहल्ले, वार्ड या गांव में कोरोना का एक से ज्यादा केस सामने आता है तो शहरी क्षेत्र में उस इलाके की सीमा या उसके आसपास के 1 किलोमीटर के दायरे में आने वाले सभी गलियों को कंटेनमेंट जोन में रखा जा सकता है। वहीं, यिद ग्रामीण इलाके में कोरोना का एक से ज्यादा केस आये तो एक किलोमीटर के अंतर्गत उस पूरे गांव को ही कंटेनमेंट जोन घोषित कर दिया जाता है।

----

1. उदयपुर जिला- 39

1. मल्लातलाई- राजा कोलोनी2. भूपालपुरा - पन्नाविहार, अशोक नगर ओ रोड, अलीपुरा3. गारियावास- गारियावास, टेकरी, 4. थामंला- ग्रामीण 5. सलूम्बर-बस्सी ग्रामीण 6. देबारी - झरनो की सराय7. सविना- शिल्पीनगर8. तीतरड़ी- अम्बामाता की घाटी9. कांजी का हाटा, जोगिवाड़ा, मीना पाड़ा, हेलावाड़ी10. हरिदास जी की मगरी- मगरी और अम्बावगढ़11. नीमच माता स्कीम- स्कीम, देवाली और नवरतन कॉम्पलेक्स12. हिरणमगरी सेक्टर तीन13. भोपालगढ़ 14. वल्लभनगर- भूपालपुरा, मेनार 15. सलूम्बर-धोलागिरी16. सलूम्बर- वार्ड नम्बर एक 17. सराड़ा- जावद18 ओसवाल नगर- ओस्तवाल नगर 19 कृषि मंडी, मंडी और सेक्टर 1420. माछला मगरा- 21. पुरोहितों की मादडी22 बडग़ांव-थूर 23. गुडली24.गिर्वा- नाई25. बडग़ांव- बेदला 26. सेक्टर तीन, जनकपुरी 27. बम्बोरा28. कुराबड़-कालीबली29. सलूम्बर-बामनिया 30. करावली31.कानोड़- राजापुरा32. अडिन्दा-रातारेला33. अडिन्दा कच्छेर की ढाणी34. उथरदा- वासा 35. अडिन्दा- पदमेला 36. गिर्वा- एकलिंपगुरा 37. गोगुन्दा में मूडी38. ऋषभदेव 39- खेड़ी

-----

उदयपुर की स्थिति...शहर व ग्रामीण- 3 गांव- 23शहरी-13

-----

2. बांसवाड़ा- 7

1. कुशलगढ़2. सूर्यानन्द नगर3. मेतवाला4. खांदू कॉलोनी5. भागाकोट6. बाहुबली7. डांगपाड़ा

------

3. चित्तौडगढ़़- 51. निंबाहेड़ा2. एरेल3. अगरपुर4. पुरोहितों का सावता5. चंदेरिया वार्ड 5

------

4. प्रतापगढ़- 011- धोलापानी क्षेत्र- नायनखेड़ी

-------

5. डूंगरपुर- 18

1- घांसीवाड़ा- सीमलवाड़ा 2- पारड़ा सोलंकी- आसपुर 3- मूंगेड़- आसपुर 4- काब्जा- आसपुर 5- रायकी- आसपुर 6- कानोडिय़ा, रीछा आसपुर 7- कर्मट फला- निठाउआ आसपुर 8- शिवाजीनगर डूंगरपुर 9- देवल-बिच्छीवाड़ा 10- सकानी- आसपुर 11- कोवाडिय़ा फला, घुवेर, आसपुर 12- रामनगर, डूंगरपुर 13- बनकोड़ा, आसपुर 14- बोडिगामा छोटा15- चितरी व बडग़ी, सीमलवाड़ा 16 - सागवाड़ा शहर17- सिलोही व गणेशपुर, सीमलवाड़ा 18- ठाकरड़ा, सागवाड़ा

-----

6. राजसमन्द - 7

केलवा पीपली नगर भीम आरवाड़ा देवड़ों का खेड़ा खठामला आमेट कामला

bhuvanesh pandya Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned