script35 people have increased faith in Ayurveda... distance from allopathy | आयुर्वेद पर 35 फीसदी लोगों का बढ़ा विश्वास...एलोपैथी से दूरी | Patrika News

आयुर्वेद पर 35 फीसदी लोगों का बढ़ा विश्वास...एलोपैथी से दूरी

कोरोना का साइड इफेक्ट: धन्वंतरि आयुर्वेद अस्पताल में पहले 250 मरीज पहुंचते थे इलाज कराने अब संख्या बढक़र 400 पहुंची , शहर में 250 आयुर्वेद डॉक्टर कर रहे हैं उपचार

उज्जैन

Published: June 12, 2022 10:06:50 pm

उज्जैन। कोरोना संक्रमण के दौरान एलौपेथी इलाज में सामने आए साइड इफेक्ट के बाद अब ३५ फीसदी लोगों का झुकाव आयुर्वेद उपचार के प्रति बढा है। इसका अंदाजा इससे लगाया जा सकता है कि धन्वंतरि आयुर्वेद अस्पताल की ओपीडी में दो साल पहले २०० से २५० मरीज पहुंचते थे यह आंकड़ा बढक़र ४०० तक पहुंच गया है। इसके अलावा शहर में पिछले सालों में करीब २५० आयुर्वेद चिकित्सक निजी तौर पर लोगों का उपचार कर रहे हैं। आयुर्वेद के लेकर बढ़ी दिलचस्पी के पीछे उन जटिल बीमारियों का उपचार होना है जो एलोपैथी के मुश्किल माना जाता रहा है। आयुर्वेद अस्पताल में हार्ट अटैक, डायबिटिज, पैरालिसिस, माइग्रेन और पार्किसन जैसे गंभीर रोगों का सफलतम इलाज किया जा रहा है। वहीं गर्भवती महिलाओं की १०० फीसदी तक नार्मल डिलेवरी करवाई जा रही है। आयर्वुेद उपचार के प्रति लोगों में बढ़े विश्वास के पीछे डॉक्टरों का कहना है कि एक तो आयुर्वेद दवा से साइड इफेक्ट नहीं होता और दूसरा इसमें रोग का जड़ से इलाज होता है ।
आयुर्वेद में अब चूर्ण नहीं...टैबलेट और कैप्सुल मिलते
आयुर्वेद को लेकर एक समय वैद्य चूर्ण देते थे और उसे शहद या पानी में डालकर लेना होता था। लेकिन दवाईयों के पैटर्न में बदलाव आ गया है। कई मल्टीनेशनल कंपनियां आयुर्वेद दवाईयां बना रही है। यह कंपनियां एलोपैथी की तर्ज पर कैप्सुल व टैबलेट उपलब्ध करवा रही है। इससे इन दवाईयों को लेने में कोई दिक््रकत नहीं आ रही है। मरीज को भी लगता ही नहीं कि आयुर्वेद दवा ले रहे हैं। वहीं अब आयुर्वेद डॉक्टर बहुत जररुत होने पर ही परहेज करने का सुझाव दे रहे हैं।
स्वास्थ्य व्रत विभाग, इसमें स्वस्थ व्यक्ति को बता रहे कैसे रहे निरोग
चिमनगंजमंडी स्थित धन्वंतरि आयुर्वेद अस्पताल में विभिन्न रोगों के उपचार के लिए करीब आठ विभाग बने हुए है। इसमें कायचिकित्सा, पंचकर्म, शल्य, शालके (इनएटी), बाल रोग, चर्म रोग व स्वास्थ्यवृत विभाग। इनमं सर्दी-खांसी से लेकर पाइल्स, फिशुला, स्कीन सहित हड्डी, दंत, आंख, नस सहित अन्य रोगों का उपचार किया जा रहा है। यहां स्वास्थ्य व्रत विभाग स्वस्थ्य लोगों को निरोग रहने के टिप्स दिए जा रहे हैं। यानी यहां लोगों को काउंसलिंग की जाती है कि बीमारी न हो इसके लिए दिनचर्या कैसी हो, खान-पान क्या रखे और मौसम के अनुरुप खुद को परिवर्तन कर स्वस्थ रखने के बारे में बताया जा रहा है।
एलोपैथी की तकनीकी, उपचार सस्ता
आयुर्वेद के उपचार में एलोपैथी की तकनीक का भी उपयोग किया जा रहा है। धन्वंतरि आयुर्वेद अस्पताल के आरएमओ डॉ. हेमंत मालवीय का कहना है कि अस्पताल में आधुनिक पैथालौजी लैब, आइ व डेंटल केयर यूनिट, सोनोग्राफी, ब्लड जांच आदि की जा रही है। जिनकी दरें नो लॉस नो प्राफिट के आधार पर तय है। इन जांच के आधार पर उपचार के लिए आयुर्वेद की दवाइयां दी जा रही है। अस्पताल में करीब ४० डॉक्टर मरीजों को देख रहे हैं। जल्द ही यहॉ ऑपरेशन थियेटर भी खोल जा रहा है। डॉ. मालवीय का कहना है कि आयुर्वेद का इलाज एलौपेथी की तुलना में सस्ता है बल्की इसमें स्वस्थ होने की संभावना ज्यादा है।
इतने मरीजों का इलाज
सर्जरी- ६००
पंचकर्म- १२००
काय चिकित्सा- ३०००
चर्म रोग- ८००
महिला रोग- ९००

35 people have increased faith in Ayurveda... distance from allopathy
कोरोना का साइड इफेक्ट: धन्वंतरि आयुर्वेद अस्पताल में पहले 250 मरीज पहुंचते थे इलाज कराने अब संख्या बढक़र 400 पहुंची , शहर में 250 आयुर्वेद डॉक्टर कर रहे हैं उपचार

इनका कहना
कोरोना संक्रमण के बाद लोगों में आयुर्वेद के प्रति रूझान बढ़ा है। पहले ओपीडी में २००-२५० मरीज प्रतिदिन आते थे अब यह बढक़र ४०० हो गए हैं। आयुर्वेद के प्रति इसलिए भी विश्वास बढ़ा है कि इसमें साइड इफेक्ट नहीं होते हैं। आयुर्वेद अस्पताल में डायबिटिज, पार्किसन, पैरालिसिस और सामान्य डिलेवरी जैसे मामले में बेहतर रिजल्ट आए हैं।
- डॉ. ओपी शर्मा, अधीक्षक, धन्वंतरि आयुर्वेद अस्पताल

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

Monsoon Alert : राजस्थान के आधे जिलों में कमजोर पड़ेगा मानसून, दो संभागों में ही भारी बारिश का अलर्टमुस्कुराए बांध: प्रदेश के बांधों में पानी की आवक जारी, बीसलपुर बांध के जलस्तर में छह सेंटीमीटर की हुई बढ़ोतरीराजस्थान में राशन की दुकानों पर अब गार्ड सिस्टम, मिलेगी ये सुविधाधन दायक मानी जाती हैं ये 5 अंगूठियां, लेकिन इस तरह से पहनने पर हो सकता है नुकसानस्वप्न शास्त्र: सपने में खुद को बार-बार ऊंचाई से गिरते देखना नहीं है बेवजह, जानें क्या है इसका मतलबराखी पर बेटियों को तोहफे में देना चाहता था भाई, बेटे की लालसा में दूसरे का बच्चा चुरा एक पिता बना किडनैपरबंटी-बबली ने मकान मालिक को लगाई 8 लाख रुपए की चपत, बलात्कार के केस में फंसाने की दी थी धमकीराजस्थान में ईडी की एन्ट्री, शेयर ब्रोकर को किया गिरफ्तार, पैसे लगाए बिना करोड़ों की दौलत

बड़ी खबरें

Kerala News: मुस्लिम लीग के महासचिव का विवादित बयान, बोले- 'लड़के-लड़कियों का स्कूल में साथ बैठना खतरनाक'CBI Raids Manish Sisodia House Live Updates: बीजेपी की बौखलाहट ने देश को ये संदेश दिया है कि 2024 का चुनाव AAP v/s BJP होगा- संजय सिंहबंगाल, महाराष्ट्र में भी ED के छापे, उनके सामने तो मैं तिनका हूँ, 'सांसद अफजाल अंसारी ने दी चुनौती- पूर्वांचल हमारा ही रहेगा'Mumbai News: दही हांड़ी फोड़ने पर 55 लाख से लेकर स्पेन जाने सहित मिल रहे हैं ये खास ऑफर; पढ़े पूरी खबरबिहार में सूखे का जायजा लेने निकले थे मुख्यमंत्री नीतीश कुमार, गया में हेलीकॉप्टर की करवानी पड़ी इमरजेंसी लैंडिंगबिहार में सूखे का जायजा लेने निकले थे मुख्यमंत्री नीतीश कुमार, गया में हेलीकॉप्टर की करवानी पड़ी इमरजेंसी लैंडिंगअखिलेश यादव ने किया यूपी से दिल्ली तक हमला, बीजेपी के खिलाफ मिलकर लड़ेंगेPICS: देशभर में श्री कृष्ण जन्माष्टमी की धूम, सुनाई दे रही जयश्री कृष्णा की गूंज
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.