भाजपा नेता के दफ्तर में चोरी, चाबियों के गुच्छे से एक चाबी गायब, आशंका किस पर...

भाजपा नेता और नपा में सांसद प्रतिनिधि के ऑफिस से करीब 5 लाख रुपए चोरी हो जाने का मामला मंडी पुलिस थाने पहुंचा है।

Lalit Saxena

September, 1312:16 PM

Ujjain, Madhya Pradesh, India

नागदा. भाजपा नेता और नपा में सांसद प्रतिनिधि धर्मेश जायसवाल के महात्मा गांधी मार्ग स्थित पंचवटी ऑफिस से करीब 5 लाख रुपए चोरी हो जाने का मामला मंडी पुलिस थाने पहुंचा है। जायसवाल ने पुलिस में शिकायत दर्ज करवाई है कि उसके आफिस की अलमारी में 5 लाख रुपए के करीब जियो मोबाइल डिस्ट्रीब्यूशन का कलेक्शन रखा था। जो बुधवार सुबह गायब मिले। जिस अलमारी में पैसे रखे हुए थे वो अलमारी भी खुली मिली है। साथ ही अलमारियों की चाबियों में से एक चाबी गायब हैं।

पुलिस ने अज्ञात शख्स के खिलाफ चोरी का मामला दर्ज कर जांच प्रारंभ कर दी है। इधर मुख्य मार्ग पर हुई चोरी की इस बड़ी वारदात की जांच के लिए पुलिस ने उज्जैन से फॉरेसिंक विभाग की टीम को नागदा बुलाया था। टीम ने घटनास्थल की बारीकी से जांच कर मौके से फिंगर प्रिंटस लिए है।

चोरी का मामला दर्ज किया गया है। पुलिस मामले की हर पहलू की जांच में जुटी है। कर्मचारियों से भी पूछताछ की जा रही है। मामले में एफएसएल टीम को भी बुलाया गया था।
- रवीन्द्र कुमार, मंडी थाना प्रभारी

किसान बोले कंजर समझकर हमें पीटा गया, पुलिस बोली मारपीट नहीं हुई
नागदा. कंजरों का खौब अब खाकी वर्दी पर भी दिखने लगा है। ऐसे ही एक वाक्या शहर से ८ किमी दूर गांव बेरछा में 8 सितंबर की रात को देखने को मिला है। जब नागदा पुलिस ने पांच किसानों को कंजर समझ कर पिटाई कर दी। दरअसल इन सभी किसानों का बैरछा रोड पर खेत है और खेतों में खड़ी फसलों को मवेशियों से बचाने के लिए रात को पहरेदारी कर रहे थे। पुलिस वहां पहुंच गई और कंजर समझ कर किसानों के साथ मारपीट शुरु कर दी। पुलिस ने जिन किसानों के साथ मारपीट की है उनके नाम संतोष, लाखन, इकबाल, रफीक, संजय और राजाराम है। सभी किसान नागदा के चेतनपुरा और बैरछा रोड निवासी बताए जा रहे हैं। पुलिस ने मारपीट जैसी घटना से इंकार किया है। मंडी थाना प्रभारी रवीन्द्र कुमार का कहना है कि 8 सितंबर की रात 12 बजे के करीब किसी ने पुलिस की 100 डायल टीम को सूचना दी थी की बैरछा मार्ग पर कुछ कंजर है। सूचना पर पुलिस पहुंची थी। रोड पर ३-4 मोटर सायकल खड़ी मिलने पर एक मकान मे बैठे लोगों को पुलिस ने ललकारा था और कंजर होने के शक में सभी को सरेंडर करने को कहा गया था। लेकिन जब उन्होंने असलीयत बताई तो छोड़ दिया गया था।

Show More
Lalit Saxena
और पढ़े

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned