उज्जैन. सोमवती अमावस्या पर बड़ी संख्या में श्रद्धालु उज्जैन पहुंचे। रामघाट पर शिप्रा और बडनगर रोड़ स्थित सोमकुंड में स्नान कर दान-पुण्य कर महाकाल सहित अन्य देव स्थलों पर दर्शन-पूजन किए। सोमवती अमावस्या पर शिप्रा और सोमकुंड में स्नान कर लोगों ने दान-पुण्य किया। इसके अलावा बडऩगर रोड के पास प्राचीन सोमकुंड में स्नान और सोमेश्वर महादेव का पूजन किया। अमावस्या पर्व काल में सिद्धवट घाट भैरवगढ़ पर भी लोग पितरों के निमित्त पिंडदान-तर्पण किया।
श्रद्धालु पहुंचे महाकाल मंदिर- आम दिनों की तुलना में सोमवार को महाकाल मंदिर में दर्शन-पूजन करने वालों की संख्या हजारों में थी।
पुण्य लाभ के बाद घर जाने की जल्दी.....जान जोखिम में डाली
ज्जैन में सोमवती अमावस्या पर शिप्रा व सोमकुंड में स्नान कर पुण्य लाभ लेने के बाद श्रद्धालुओं ने जान जोखिम में डालने की परंपरा भी निभाई। शहर में हर पर्व व धार्मिक कार्यक्रमों के बाद बाहरी यात्री स्टेशन पर सीट व ट्रेन में प्रवेश के लिए जद्दोजहद करते हुए नजर आते हैं। सोमवार को भी स्टेशन पर एेसी स्थिति रही। यात्री ट्रेन में चढऩे के लिए ट्रैक पर उतर गए। प्लेटफॉर्म के दूसरे तरफ भीड़ लगा दी। साथ ही स्थिति यह रही कि दो कोच के बीच की जगह में बैठक यात्रा करने से भी चूके नहीं। हालांकि पुलिस यात्रियों को संभालने में लगी रही, लेकिन यात्रियों की संख्या ज्यादा होने के चलते मौजूद बल लोगों को संभालने में नाकाम नजर आया।
बस की छत पर भी हुआ सफर
उज्जैन से ग्रामीण क्षेत्रों में चलने वाली बस भी पूरी तरह से फुल चली। बडऩगर, तराना, घट्टिया, घौंसला आदि रूट से आने वाली बस की छत पर बैठकर यात्रियों ने सफर किया। इन रूट पर प्रतिदिन सफर करने वाले नौकरी पेशा और विद्यार्थियों को भी काफी समस्या का सामना करना पड़ा।
भंडारे का आयोजन
दादा भाई धार्मिक एवं पारमार्थिक ट्रस्ट उज्जैन द्वारा सोमवती अमावस्या पर हरसिद्धि के पीछे झालरिया मठ के सामने शिप्रा तट पर भंडारे का आयोजन किया गया। इसमें हजारों लोगों ने भोजन प्रसादी ग्रहण की। ट्रस्ट के अध्यक्ष जुगलकिशोर भागवत एवं सचिव कृष्णा भागवत ने बताया ट्रस्ट द्वारा विगत 5 वर्षों से आयोजन सोमवती अमावस्या पर किया जा रहा है। इस अवसर प्रवीण भागवत, मंगलेश जायसवाल, मनमोहन तिवारी, संतोष सिंह राजपूत, शैलेन्द्र शर्मा, मुकेश खंडेलवाल, अशोकसिंह गेहलोत, राजेन्द्रसिंह दियोधरा आदि ने सेवा कार्य किया।

MP/CG लाइव टीवी

Ad Block is Banned