6 माह बाद महाकाल मंदिर परिसर के सभी 59 मंदिरों के दर्शन करें

कोरोना संक्रमण के चलते 6 महीने से बंद थे ज्योतिर्लिंग महाकालेश्वर मंदिर के सभी 59 मंदिर

By: Hitendra Sharma

Updated: 30 Sep 2020, 09:22 AM IST

उज्जैन. दुनिया में कोरोना संक्रमण की दस्तक के बाद अब बाबा महाकाल के मंदिर के साथ ही साथ ही मंदिर परिसर में मौजूद सभी मंदिर भक्तों के लिये बंद कर दिये गये थे। हालांकि अनलॉक के साथ ही बाबा के दर्शन तो शुरु हो गये पर परिसर में मौजूद अन्य मंदिर बंद ही रहे। अब मंदिर प्रबंधन ने महाकालेश्वर मंदिर के सभी 59 मंदिरों को फिर श्रद्धालुओं के लिए खोल दिया है। अब भक्त परिसर में स्थित प्रमुख 59 मंदिर के दर्शन कर सकेंगे।

6 महीने बाद शुरु हुए दर्शन की सूचना के बाद भक्त बढ़ी संख्या में महाकालेश्वर मंदिर के ओंकारेश्वर परिसर में पहुंचे। मंदिर परिसर में पूरे 6 महीने बाद फिर से रौनक लौट आई है। हालांकि मंदिर कर्मचारी और सुरक्षाकर्मियों को निर्देश दिये गये हैं कि किसी भी स्थिति में कोरोना गाइडलाइन का उल्लंघन नहीं होना चाहिये। मंदिर परिसर में आने वाले भक्तों को भी इन नियमों का पालन करना होगा।

चौकी गेट के शीघ्र दर्शन काउंटर को जनसुविधा के संदर्भ में बाहर खुलने वाली खिड़की के साथ प्रारंभ कर दिया गया है। अब दर्शनार्थी बाहर से ही रसीद प्राप्त कर सकेंगे तथा अंदर भीड़ से बचेंगे व सुरक्षित रहेंगे। प्रशासक एसएस रावत ने बताया कि कोविड-19 के चलते मंदिर द्वारा श्रद्धालुओं की सुरक्षा हेतु सभी उपाय किए जा रहे हैं, जिसमें मास्क, सोशल डिस्टेंसिंग, लगातार सेनेटिसेशन, विशेष कोटिंग आदि शामिल हैं।

कोरोना महामारी के चलते करीब 6 माह से बंद मंदिर की दोनों धर्मशालाओं को पुन: यात्रियों के ठहरने के लिए खोलने पर विचार किया जा रहा है। प्रशासक एसएस रावत ने बताया कि वर्तमान परिस्थिति को देखते हुए मप्र के बाहर के दर्शनार्थियों को सुविधा प्रारंभ करने के उद्देश्य से मंदिर की दोनों धर्मशालाओं को दर्शनार्थियों के लिए प्रारंभ किया जाएगा। शुरुआत में मंदिर आने वाले दर्शनार्थी उपलब्धता के आधार पर नियमानुसार इनमें ठहर सकेंगे। यद्यपि कोविड-19 के संदर्भ में बीमारी के लक्षण न होना, मास्क, सेनेटिसेशन एवं दूरी व सरकार के निर्देशों का कड़ाई से पालन करना अनिवार्य होगा। ऑनलाइन सुविधा का लाभ लेते हुए मंदिर की वेबसाइट से बुकिंग कराई जा सकती है।

mahakall_6175739-m.png
Corona virus
Show More
Hitendra Sharma
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned