किसान को ५४.५५ फीसदी विकसित भूखंड देने का किया समझौता

यूडीए बोर्ड बैठक में २५ करोड़ की जमीन लेने पर लगाई मुहर

By: Gopal Bajpai

Published: 04 Jan 2018, 08:05 AM IST

उज्जैन. उज्जैन विकास प्राधिकरण की बोर्ड बैठक में त्रिवेणी विहार योजना में एक किसान की जमीन लेने में बड़े समझौते पर मोहर लगाई गई है। इसमें किसान से ली गई जमीन पर विकसित होने वाले भूखंड का ५४.५५ फीसदी दिया जाएगा वहीं यूडीए ४५.५५ फीसदी अपने पास रखेगा। हालांकि जमीन के एवज में किसी प्रकार का मुआवजा नहीं दिया जाएगा। बोर्ड बैठक में शिप्रा विहार में १७७ मकानों की क्लोज कॉलोनी बनाने पर भी स्वीकृति ली गई है।
प्राधिकरण में सुबह ११ बजे शुरू हुई बोर्ड बैठक में २३ बिंदु रखे गए थे। इसमें त्रिवेणी विहार योजना ८/९ में आपसी समझौते के तहत यथार्थ इंफ्रास्ट्रक्चर प्रालि के राकेश शर्मा की मालनवासा व शक्करवासा की ७.९९५ हेक्टेयर (७९९५० वर्ग मीटर) जमीन ली गई है। बताया जा रहा है कि इस जमीन में से विकसित जमीन ४१३५८ वर्ग मीटर है। समझौते के तहत ५४.५५ प्रतिशत विकसित जमीन यानी २२५६०.८६ वर्ग मीटर किसान राकेश शर्मा तथा १८७९६ वर्गमीटर जमीन यूडीए लेगा। प्राधिकरण ने किसान ने रजिस्ट्री भी करवा ली है। इस जमीन की कीमत करब २५ करोड़ रुपए बताई जा रही है। बैठक में शिप्रा विहार योजना में ९.१३ करोड़ से १७१ मकानों की क्लोस्ड कॉलोनी बनाने का निर्णय लिया। इस कॉलोनी का नाम एकात्म परिसर भी दिया गया। यूडीए अध्यक्ष जगदीश अग्रवाल, सीईओ अभिषेक दुवे सहित अन्य अधिकारी मौजूद थे।
प्रशासनिक भूखंड का प्रस्ताव लौटाया: बैठक में भरतपुरी प्रशासनिक क्षेत्र के भूखंडों को पीएसपी में परिवर्तन करने का प्रस्ताव लौटा दिया है। अब अगली बैठक में रखा जाएगा। बताया जा रहा है कि जमीन के अन्य उपयोग के बिंदु जोडऩे को कहा गया है।
खेल विभाग को सौंपा स्वीमिंग पूल व खेल प्रशाल
बैठक में प्राधिकरण की ओर से महानंदा नगर में विकसित किए गए कुशाभाऊ ठाकरे स्वीमिंग पूल एवं खेल प्रशाल को खेल एवं युवक कल्याण को हस्तांतरित करने का निर्णय लिया। इसके तहत खेल प्रशाल, एथलेटिक ट्रेक, स्वीमिंग पूल, पवेलियन बिल्डिंग का रखरखाव अब खेल विभाग करेगा। वहीं महाश्वेतना नगर स्थित खेल प्रशाल को भी खेल विभाग को सौंपन की एनओसी दी गई।

इन पर भी स्वीकृति

- दिव्यांग पार्क के लिए २.३३ करोड़ की निविदा को स्वीकृति।
- त्रिवेणी विहार में ४.३६ करोड़ से बनने वाले १५ सीनियर एमआईजी भवन के टेंडर स्वीकृत।
- नानाखेड़ा बस स्टैंड के पास ५ करोड़ से बनने वाले शॉपिंग कॉम्प्लेक्स योजना को स्वीकृति।
- शिप्रा एवं त्रिवेणी विहार योजना में पौधरोपण व फेंसिंग के लिए ८७.५० लाख रुपए भुगतान की स्वीकृति।
(इनके अलावा वाहनों की मरम्मत, ग्रीन बिल्डिंग, कर्मचारियों के डीए सहित अन्य बिंदुओं पर भी स्वीकृति दी गई।)

Gopal Bajpai Editorial Incharge
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned