महाकाल के दरबार में गुमनाम फरियाद, छलका खाकी का दर्द !

बाबा महाकाल के दरबार में लगी गुमनाम अर्जी, पुलिसकर्मियों की मांगों को सरकार से पूरा कराने की प्रार्थना, सोशल मीडिया पर वायरल हुई चिट्ठी..

By: Shailendra Sharma

Published: 10 Sep 2021, 05:13 PM IST

उज्जैन. चिट्ठियां तो आपने कई देखीं होंगी और पढ़ी होंगी लेकिन जो चिट्ठी हम आपको दिखा रहे हैं वैसी चिट्ठी पहले शायद ही आपने देखी हो। ये चिट्ठी दुनिया की सबसे बड़ी अदालत कहे जाने वाले बाबा महाकाल के दरबार में लगाई गई है। चिट्ठी में महाकाल से प्रार्थना की गई है कि बाबा महाकाल पुलिसकर्मियों की उन सभी मांगों को सरकार से पुरा करा दें जो बीते कई सालों से लंबित पड़ी हुई हैं। चिट्ठी किसने लिखी है इसका उल्लेख चिट्ठी में नहीं है।

letter.jpg

क्या लिखा है चिट्ठी में..
बाबा महाकाल से खाकी के दुख दर्द हर लेने की आस किस शख्स ने लगाई है ये तो पता नहीं लेकिन इस चिट्ठी ने पुलिसकर्मियों की उस पीड़ा को एक बार फिर उजागर कर दिया है जो वो बीते कई साल से झेल रहे हैं। चिट्ठी में लिखा है..हे देवों के देव महादेव तीन लोक के स्वामी महाकाल से हाथ जोड़कर नतमष्तक प्रणाम कर प्रार्थना है कि मध्यप्रदेश पुलिस के जवानों की कई सालों से लंबित पड़ी मांगों को पूरा करा दें। आप जिम्मेदारों को पुलिसकर्मियों की उस पीड़ा का एहसास कराएं जिससे वो झेलते चले आ रहे हैं। पुलिसकर्मी अनुशासन से बंधे हैं इसलिए धरना, आंदोलन वगैरह नहीं कर सकते हैं अत: हे देवों के देव महादेव आप ही उनकी मुराद पूरी करने का एहसास जिम्मेदारों को दिला दें। इसके साथ ही चिट्ठी में पुलिसकर्मियों की मांगों का भी जिक्र है जिनमें निम्नलिखित मांगे हैं..

- गृह जिले में तैनाती
- वर्तमान 1900 ग्रेड पे से बढ़ाकर 2400 ग्रेड पे किया जाये।
- पुलिसकर्मियों के बर्खास्त यूनियन को फिर से बहाल किया जाए।
- एक दिवस का साप्ताहिक अवकाश दिया जाए।
- मध्यप्रदेश सशस्त्रबल की कंपनी को 10 वर्षों तक के लिए स्थाई किया जाए व परिवार को साथ में रखने की अनुमति दी जाए।
- सायकल भत्ता 1861 से 18 रुपए माह चल रहा है जिसकी जगह मोटर साइकिल भत्ता (पेट्रोल) 3000 माह रुपए किया जाए।
- आवास भत्ता 5000 रुपए महीना किया जाए जो कि वर्तमान में 500 रुपए है।
- दो हाफ वेतन को फुल किया जाए।
- रात्रि गस्त ड्यूटी का भत्ता 300 रुपए शुरु किया जाए।

ये भी पढ़ें- नशे में धुत मॉडल का सड़क पर हंगामा, राहगीरों से भिड़ी, सेना की जिप्सी फोड़ी, देखें वीडियो

Show More
Shailendra Sharma
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned