पहली बार एशिया बॉडी बिल्डिंग में बेटियां दिखाएंगी जौहर, ट्रायल में सिलेक्शन

पहली बार एशिया बॉडी बिल्डिंग में  बेटियां दिखाएंगी जौहर, ट्रायल में सिलेक्शन

Gopal Swaroop Bajpai | Publish: Aug, 12 2018 06:34:08 PM (IST) Ujjain, Madhya Pradesh, India

प्रतियोगिता- 29 बॉडी बिल्डरों ने लिया भाग, पत्रिका ने जाने इनके फिटनेस के राज..

आशीषप्रताप सिंह भदौरिया/उज्जैन. बॉडी बिल्डिंग प्रतियोगिता में युवक ही नहीं अब युवतियां भी आगे आने लगी हैं। शनिवार शाम को तीन बत्ती चौराहा स्थित निजी होटल में एशिया बॉडी बिल्डिंग सिलेक्शन ट्रायल आयोजित किए गए, जिसमें इंदौर, भोपाल, जबलपुर, देवास, नीमच, उज्जैन, रतलाम, मंदसौर सहित अन्य जिलों के २९ बॉडी बिल्डर ने भाग लिया। इसके साथ ही प्रतियोगिता में इंदौर की दो बेटियों ने जौहर दिखाया। इनका लक्ष्य इस प्रतियोगिता पर कब्जा जमाना है। जिसके चलते ये कई वर्षाें से रोजाना चार घंटे पसीना बहा रही हैं।

नाम- वंदना ठाकुर
उम्र- २७ वर्ष
जॉब- टीचिंग
वल्र्ड पॉवर लिफ्टिंग चैंपियनशिप में ३०५ किलो उठाकर जीता गोल्ड मेडल, अब बॉडी बिल्डिंग लक्ष्य
तीन साल से वंदना ठाकुर वेट लिफ्टिंग कर रही हैं। वंदना ने बताया कि बीते वर्ष नई दिल्ली में आयोजित वल्र्ड पॉवर लिफ्टिंग चैंपियनशिप में ५६ किलो वर्ग में ३०५ किलो वजन उठाकर गोल्ड मेडल जीता था। वेट लिफ्टिंग और बॉडी बिल्डिंग दोनों एक-दूसरे से मिलते-जुलते खेल हैं, जिसके चलते उन्होंने दो वर्ष पहले बॉडी बिल्डिंग करना आरंभ किया। बीते वर्ष पुणे में आयोजित बॉडी बिल्डिंग में पहली बार भाग लिया, जिसमें देशभर में छठवे स्थान पर रहे। अब एशिया बॉडी बिल्डिंग प्रतियोगिता में गोल्ड मेडल जीतने का लक्ष्य बना रखा है। इसके लिए रोजाना चार घंटे जिम में मेहनत करते है। वंदना ने बताया कि वे शुरू से ही खेल से जुड़ी रही हैं। टेबल टेनिस, लॉन टेनिस सहित उन्होनें कॉलेज तक अधिकांश खेलों में भाग लिया है, लेकिन वेट लिफ्टिंग और बॉडी बिल्डिंग तीन वर्ष पहले ही शुरू की। ये दोनों बेहद मंहगे खेल हैं। जिस वजह से उन्होनें हाल ही में घर पर ही बच्चों को पढ़ाना शुरू किया। बच्चों को पढ़ाकर वे इसका खर्च वहन कर रही हंै। वंदना का कहना है कि अगर लड़कियां बॉडी बिल्डिंग के क्षेत्र में उतर जाएं तो आगे बहुत ही स्कोप है।

नाम- सीमा शर्मा
उम्र- २८
जॉब- जनरल इंश्योरेंस में रिलेशनशिप मैनेजर

महीने भर पहले प्रदेश की सबसे फिट युवती, अब एशिया पर नजर
सीमा शर्मा एशिया बॉडी बिल्डिंग प्रतियोगिता में फिजिक के लिए सिलेक्ट हुई हंै। सीमा बताती है कि वे सात साल से जिम जा रही है। केवल फिटनेस के लिए ही वे जिम जाती थी। लेकिन दो वर्ष पहले उन्होंने प्रतियोगिता के लिए तैयारी करना आरंभ की। इसके लिए उन्होंने दोनों समय दो-दो घंटे जिम में देना आरंभ किए। बीते महीने स्टेट बॉडी बिल्डिंग प्रतियोगिता में उन्होंने बेस्ट फिजिक अवॉर्ड जीता। प्रदेश में पहले पायदान पर रहते हुए गोल्ड पर कब्जा जमाया, जिसके बाद उन्होनें एशिया बॉडी बिल्डिंग कांप्टिशन में बेस्ट फिजिक अवॉर्ड जीतने का लक्ष्य बनाया है। इसके लिए वे डाइट पर सबसे ज्यादा ध्यान दे रहीं है।

 

MP/CG लाइव टीवी

Ad Block is Banned