बाबा महाकाल का होगा शुद्ध पंचामृत से अभिषेक, महाकालेश्वर मंदिर में नई व्यवस्था

बाबा महाकाल का होगा शुद्ध पंचामृत से अभिषेक, महाकालेश्वर मंदिर में नई व्यवस्था

By: Hitendra Sharma

Published: 25 Aug 2020, 11:51 AM IST

उज्जैन. बाबा महाकाल का अभिषेक करने के लिए अब पंचामृत की व्यवस्था मंदिर समिति कर रही है। अभी तक महाकालेश्वर मंदिर में बाबा का अभिषेक करने के लिये भक्तों को मंदिर के बाहर की दुकानों से पंचामृत लेना पड़ता था, इस पंचामृत की शिकायत अक्सर भक्तों के द्वारा की जाती थी और शिवलिंग पर इसके चढ़ने को लेकर भी सवाल खड़े होते रहे हैं। इसलिए अब मंदिर समिति ही भक्तों को शुद्ध पंचामृत उपलब्ध कराएगी। हालांकि यह शुद्घ पंचामृत निशुल्क नहीं होगा। इसके लिये समिति शल्क बसूल करेगी।

शुद्ध पंचामृत
महाकालेश्वर मंदिर प्रशासक सुजानसिंह रावत के अनुसार बाबा के दर्शन की एडवांस बुकिंग के साथ भक्त शुद्ध पंचामृत और पार्किंग की भी बुकिंग करा सकते हैं। यह सुविधा विकल्प के आदार पर होगी। यदि कोई भक्त चाहता है चो इस विकल्प को चुन सकता है। शुद्ध पंचामृत में विशेष पात्र होगा जिसमें निश्चित मात्रा में पंचामृत मिलेगा। पंचामृत को तांम्र पात्र में लिया जाता है, इसमें 500 ग्राम शुद्ध पंचामृत होगा जो शुद्ध दूध, दही, शहद, घी और शकर से बना होगा। पंचामृत की शुद्धता को लेकर मंदिर समिति उज्जैन दुग्ध संघ से दूध,दही, घी और वन विभाग से शहद खरीद कर पंचामृत बनायेगी।

पंचामृत का महत्व
माना जाता है कि बाबा महाकाल का अभिषेक पंचामृत से करने पर बाबा की कृपा प्राप्त होती है। युगों युगों से बाबा महाकाल का अभिषेक पंचमृत से ही किया जाता रहा है। पूरी दुनिया से बाबा के भक्त उज्जैन पहुंचकर महाकाल का पंचामृत अभिषेक करते है और अगर यह पंचामृत शुद्ध हो तो भक्तों को अपने भगवान पर चढ़ाने और अधिक आनंद और भक्ति की अनुभूति होती है। इसीलिये आखिरकार मंदिर समिति को ही शुद्ध पंचामृत उपलब्ध कराने की व्यवस्था करनी पड़ी।

अभी यह है व्यवस्था
कोरोना संकट के बीच बाबा महाकाल के दर्शन की व्यवस्था बदली हुई है अब भक्तों को एडवांस बुकिंग के आधार पर ही दर्शन मिलते हैं। पहले मोबाइल एप, वेबसाइट और हेल्पलाइन नंबर पर एडवांस बुकिंग कराई जाती है फिर श्रद्धालु अपने निर्धारित समय पर महाकालेश्वर मंदिर पहुंच जाते हैं और बिना किसी परेशानी के 15 से 20 मिनट में दर्शन कर लेते हैं। कोरोनाकाल में भी हर रोज लगभग 10 हजार भक्त भगवान महाकाल के दर्शन कर रहे हैं। नई व्यवस्था में भक्त सुबह 6 बजे से रात 9 बजे तक महाकाल के दर्शन होते हैं। अब शुद्ध पंचामृत मिलने के बाद बाबा महाकाल का अभिषेक कर सकेंगे।

पार्किंग की एडवांस बुकिंग
महाकालेश्वर ज्योतिर्लिंग मंदिर में दर्शन बुकिंग के साथ ही अब पार्किंग की भी एडवांस बुकिंग शुरु हो गई है। अब मोबाइल एप, वेबसाइट और हेल्पलाइन नंबर पर दर्शन बुकिंग के समय आप अपने वाहन के लिये पार्किंग की भी एडवांस बुकिंग करा सकते हैं। इससे भक्तों को उज्जैन पहुंचने के बाद वाहन पार्किंग के लिये परेशान नहीं होना पड़ेगा। दर्शन के साथ पार्किंग की बुकिंग होन से श्रद्धालु सुकून से बाबा के दर्शन कर सकेंगे। मंदिर समिति इन दोनों निर्णय को लेकर जल्द लागू करने जा रही है।

Show More
Hitendra Sharma
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned