हड़ताल के चलते अतिरिक्त कार्य पर डटे ठेका श्रमिक की तबीयब बिगड़ी

हड़ताल के चलते अतिरिक्त कार्य पर डटे ठेका श्रमिक की तबीयब बिगड़ी
पांच सालाना समझौते की घोषणा के बीच श्रम नेताओं व मजदूरों के बीच हुए हंगामा तूल पकडऩे के साथ प्रशासन के लिए सिरदर्द बन चुका है।

Ashish Sikarwar | Updated: 12 Oct 2019, 11:00:00 AM (IST) Ujjain, Ujjain, Madhya Pradesh, India

पांच सालाना समझौते की घोषणा के बीच श्रम नेताओं व मजदूरों के बीच हुए हंगामा तूल पकडऩे के साथ प्रशासन के लिए सिरदर्द बन चुका है।

नागदा. पांच सालाना समझौते की घोषणा के बीच श्रम नेताओं व मजदूरों के बीच हुए हंगामा तूल पकडऩे के साथ प्रशासन के लिए सिरदर्द बन चुका है। ठेका श्रमिकों की हड़ताल के चलते उद्योग प्रबंधन ड्यूटी कर रहे श्रमिकों से अतिरिक्त कार्य ले रहा है। ऐसे में शुक्रवार सुबह स्पेनिंग प्लांट में कार्य करने वाले एक ठेका श्रमिक की तबीयत बिगड़ गई। उसे प्रबंधन तत्काल उपचार के लिए जनसेवा अस्पताल ले गया।
मिली जानकारी अनुसार मेहतवास निवासी रामआश्रय गुप्ता ग्रेसिम उद्योग स्पेनिंग प्लांट में कार्य करता है। गुरुवार को वह मार्निंग शिफ्ट में ड्यूटी पर था, लेकिन शाम ५ बजे समझौते की प्रकिया के दौरान बवाल हुआ तो रामआश्रम को अतिरिक्त ड्यूटी के लिए रोक लिया गया था। हालांकि रामआश्रम ने ड्यूटी नहीं करने का विरोध भी किया लेकिन ठेकेदारी की मनमानी के आगे उसे रुकना पड़ा। इसका नतीजा यह हुआ की उसकी शुक्रवार सुबह तबीयत बिगड़ गई। बताया जा रहा है कि उसे किसी अन्य प्लांट में कार्य करवाया जा रहा था जहां उसे घुटन होने पर वह चक्कर खाकर गिर गया। उसके बाद अन्य श्रमिकों ने प्रबंधन को इस बात की सूचना दी। उसे उपचार के लिए जनसेवा भर्ती कराया गया। अभी उसकी तबीयत में सुधार है।
प्रोटेक्शन एक्ट लागू नहीं होने पर कार्य से विरत रहे वकील
न्यायालय के कार्य के लिए लोगों को होना पड़ा परेशानी, ज्ञापन भी सौंपा
नागदा. प्रोटेक्शन एक्ट लागू नहीं करने पर स्थानीय अभिभाषक भी कार्य से विरत रहे। उन्होंने मुख्यमंत्री के नाम ज्ञापन एसडीएम आरपी वर्मा को सौंपा। इसमें जल्द निराकरण नहीं होने पर अनिश्चितकालीन हड़ताल की चेतावनी भी दी गई।
शुक्रवार को अभिभाषक संघ से जुड़े सभी वकील न्यायालीन कार्य से विरत रहे। वकील न्यायालय पहुंचे तो सही लेकिन कार्य नहीं किया। इस दौरान जरूरत के कार्य लेकर न्यायालय पहुंचे लोगों को परेशान होना पड़ा। कई लोगों ने वकीलों से कार्य करने की गुजारिश भी की लेकिन वे नहीं माने। अंत में संघ के बैनर तले अध्यक्ष विनोद रघुवंशी के नेतृत्व में प्रोटेक्शन एक्ट जल्द लागू करने का ज्ञापन एसडीएम को सौंपा। अब्दुल पठान, राजेंद्र चौहान, आदित्यसिंह तंवर, शिवमंगलसिंह, कुमुबुद्दीन कुरैशी, कांतिलाल शर्मा, तलतपरवीन खान, इंदजीतसिंह चौहान, केशव रघुवंशी, सुशील मोदी, मदनलाल मोर्ये, ओमप्रकाश मेहतवासा, जितेेंद्र कुशवाहा, कमल मालवीय, राजकुमार ठाकुर, अशोक पाटीदार, आशीष सलोनिया, सुशीला पाल, स्मित कुमार, पूर्वी शर्मा, जयेश जोशी, लईकअहमद अंसारी, अशोक पोरवाल, दीपा गेहलोत, कांता सरोज, रीना सुयल, राजकुमार मिमरोट, सुरेश जैन, चंद्ररसिंह रघुवंशी, दिनेश भारतीय, रमेश चंदेल, नरेंद्र सिसौदिया, प्रवीण जटिया, संध्या गोखले कार्य से विरत रहे।

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned