वृद्ध के साथ कर्मचारी के सलूक से पीटी निगम भद, पार्षद भी देखते रहे

मनमानी: बुजुर्ग ने गाड़ी में कचरा डाला, कर्मचारी ने घर के सामने पटका, बोला- गाड़ी वार्ड-43 की है, अब कचरा डाला तो पूरी गाड़ी घर के बाहर खाली कर दूंगा

उज्जैन. स्वच्छता मिशन की दौड़ में कचरे को लेकर आमजन और निगम-कंपनी कर्मचारियों के बीच तनातनी की स्थितियां बन रही हैं। सोमवार को फिर एेसा ही मामला सामने आया। वार्ड- ४२ में एक रहवासी ने घर का कचरा थैले में भर कलेक्शन वाहन में डाला, लेकिन कर्मचारी ने थोड़ी ही देर में कचरा गाड़ी से निकालकर रहवासी के घर के सामने पटक दिया। यही नहींं बुजुर्ग रहवासी का कहना है कि कर्मचारी ने दोबारा एेसा करने पर अगली बार पूरी गाड़ी घर के सामने खाली करने की धौंस तक दी। पूरा मामला सीसीटीवी कैमरे में कैद होने के बाद तेजी से सोशल मीडिया पर वायरल भी हो गया और मिली प्रतिक्रियाओं से निगम की भद पीटी।

सेवानिवृत्त 69 वर्षीय मदनमोहन शुक्ला वार्ड-42 अंतर्गत देसाई नगर मुख्य मार्ग पर रहते हैं। सड़क के दूसरी तरफ वार्ड 43 की सीमा है। सोमवार सुबह करीब 10 बजे शुक्ला के घर सामने सड़क के दूसरे किनारे कचरा वाहन खड़ा था। शुक्ला ने वृक्ष की सूखी टहनियों आदि का कचरा थैले में भर कचरा वाहन में रख दिया। इस पर वाहन के साथ चलने वाले निजी कंपनी के कर्मचारी ने वाहन से थैला निकाला और शुक्ला के घर के बाहर पटक दिया। शुक्ला के अनुसार पूछने पर कर्मचारी ने तर्क दिया कि उक्त वाहन वार्ड ४३ का है और उनका घर वार्ड 42 में आता है। शुक्ला ने पूर्व में भी कचरा डालने का हवाला दिया लेकिन कर्मचारी नहीं माना। शुक्ला ने बताया कि कर्मचारी ने उनसे यह भी कहा कि अगली बार कचरा डाला तो वह गाड़ी का पूरा कचरा उनके घर के बाहर खाली कर देगा। कर्मचारी की मनाही के बाद मजबूरी में शुक्ला को दोबारा कचरा घर में रखना पड़ा। उन्होंने मामले की शिकायत नगर निगम के क्षेत्रीय अधिकारी से की, जिस पर दूसरे वाहन में उनका कचरा ले जाया गया।

बुजुर्ग से दुव्र्यवहार, देखते रहे पार्षद

कचरा उठाने को लेकर जब एक बुजुर्ग से इस प्रकार का व्यवहार हो रहा था, उसी दौरान वार्ड 43 के पार्षद राजकुमार ललावत भी मौके पर मौजूद थे। इसके बावजूद उन्होंने कर्मचारी को नहीं टोका और न ही किसी प्रकार का हस्तक्षेप किया। इस संबंध में पार्षद ललावत से चर्चा करना चाही लेकिन उनका मोबाइल बंद मिला।

सोशल मीडिया पर कड़ी प्रतिक्रिया

घटना घर पर लगे सीसीटीवी कैमरे में कैद हो गई। इसमें वृद्ध द्वारा वाहन में कचरा डालने और कर्मचारी द्वारा दोबारा कचरा बाहर निकालकर घर के सामने रखने का दृश्य दिखाई दे रहा है। सीसीटीवी के का यह फुटेज सुबह से ही सोशल मीडिया पर वायरल हो गया। इसके बाद कई लोगों ने इस वीडियो पर कड़ी प्रतिक्रिया भी दी।

इनका कहना

कर्मचारी कोई भी हो उसे रहवासी के सम्मान का ध्यान रखना होगा। कचरा पृथककर दिया जा रहा है तो वाहन किसी भी वार्ड का हो, कचरा लेने से मना नहीं कर सकते। मीडिया के माध्यम से विषय जानकारी में आया है। प्रकरण की पूरी जानकारी लेकर दोषी कर्मचारी को दंडित किया जाएगा।

- संजेश गुप्ता, उपायुक्त नगर निगम स्वास्थ्य विभाग

aashish saxena
और पढ़े

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned