महाकाल मंदिर में बदल गया है श्रद्धालुओं का प्रवेश द्वार, जानिए कहां से होगी एंट्री

- युद्धस्तर पर हो रहा निर्माणकार्य
- 50 करोड़ रुपयों की लागत से हो रहा निर्माणकार्य

By: Ashtha Awasthi

Published: 18 Dec 2020, 02:28 PM IST

उज्जैन। महाकाल मंदिर (Mahakal temple) उज्जैन में श्रद्धालुओं की प्रवेश व्यवस्था को बदल दिया गया है। इसका कारण उज्जैन विकास प्राधिकरण (यूडीए) द्वारा किया जा रहा निर्माण कार्य है। अब से श्रद्धालुओं की प्रवेश व्यवस्था को भी बदला जा रहा है। नई व्यवस्था के तहत भस्मारती द्वार से श्रद्धालुओं को प्रवेश दिया जाएगा।

महंत ने दिया सुझाव

जानकारी के लिए बता दें कि यूडीए सीईओ ने निर्माण कार्यों को लेकर मंदिर के महंत महामंडलेश्वर विनीत गिरी जी से भी चर्चा की। महंत ने सुझाव दिया कि मंदिर के चारों ओर परकोटे बनाकर एक ही प्रवेश द्वार से प्रवेश की व्यवस्था की जाए। अभी प्रवेश के लिए कई रास्ते हैं, इससे दर्शनार्थी परेशान होते हैं।

ujjain-assistant-administrator-of-mahakal-temple-removed-from-lockdown_355993.jpg

बनाया जा रहा है वेटिंग हॉल

महाकाल मंदिर नें यूडीए करीब 50 करोड़ रुपयों की लागत के निर्माण कार्य मंदिर परिसर में करा रहा है। मंदिर में करीब 20 फ़ीट नीचे भूमिगत वेटिंग हॉल बनाया जा रहा है। साथ ही फेसिलिटी सेंटर -2 बनाया जा रहा है। यूडीए सीईओ सोजानसिंह रावत ने इन कार्यों का हर पहलुओं से निरीक्षण किया और जरूरी निर्देश भी दिये। अधीक्षण यंत्री आरसी वर्मा, कार्यपालन यंत्री केसी पाटीदार, शैलेंद्र जैन, पीके जोशी, सहायक प्रशासक व नायब तहसीलदार मूलचंद जूनवाल, प्रशासनिक अधिकारी आरपी गहलोत आदि मौजूद थे।

Ashtha Awasthi
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned