मंगलनाथ मंदिर में सभी दर्शनार्थियों के गर्भगृह प्रवेश पर लगाई रोक

Ujjain News: - सुबह-शाम सिर्फ पुजारी ही जाएंगे अंदर, दर्शन व्यवस्था बाहर से, मंदिर के आसपास से हटेंगे चाय के ठेले और हार-फूल वाले

By: Lalit Saxena

Published: 19 Mar 2020, 07:04 AM IST

उज्जैन. कोरोना के प्रभाव को देखते हुए प्रशासन के निर्देशानुसार अब महाकाल मंदिर के बाद मंगलनाथ मंदिर में भी सभी दर्शनार्थियों के गर्भगृह में प्रवेश पर रोक लगाई गई है। सुबह-शाम सिर्फ पुजारी ही मंदिर के गर्भगृह में आरती-पूजा के लिए जाएंगे, बाकि दर्शन व्यवस्था बाहर से रहेगी। साथ ही मंदिर के बाहर आसपास संचालित होने वाली चाय-पानी-नाश्ते के ठेले और हार-फूल बेचने वालों को भी यहां से हटाने की बात की जा रही है।

कोरोना वायरस से दर्शनार्थियों की सुरक्षा के चलते अब महाकाल के बाद मंगलनाथ मंदिर में भी दर्शन व्यवस्था में बदलाव किया जा रहा है। प्रबंधक एनएस राठौर ने बताया कि जानलेवा संक्रमण के दुष्परिणाम से सुरक्षा को दृष्टिगत रखते हुए और प्रशासन के निर्देशों का पालन करते हुए मंगलनाथ मंदिर के गर्भगृह में आम और खास सभी दर्शनार्थियों को प्रवेश नहीं दिया जाएगा। आने वाले दर्शनार्थियों को बाहर से ही दर्शन करने होंगे। मंदिर के आसपास लगने वाले ठेले, फूल-प्रसाद वालों को हटाएंगे।

मंदिर के द्वार पर रखे साबुन-बाल्टी
प्रबंधक राठौर ने बताया कि मंदिर के दोनों दरवाजों पर एहतियात के तौर पर साबुन-बाल्टी रख दी गई है। यहां अंदर प्रवेश करने से पहले सभी यात्रियों के हाथ साबुन से धुलवाए जा रहे हैं, ताकि संक्रमण से बचाव हो सके। साथ ही मंदिर परिसर में भी सफाई व्यवस्था चुस्त की गई है।

Corona virus
Lalit Saxena
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned