अब ऐसे दी है जमानत, तो खुद हो जाएगी जेल

अब ऐसे दी है जमानत, तो खुद हो जाएगी जेल

Gopal Bajpai | Publish: Aug, 12 2018 12:41:20 PM (IST) Ujjain, Madhya Pradesh, India

संभाग के अभियोजन अधिकारियों के कार्यों की समीक्षा बैठक

उज्जैन. न्यायालय में फर्जी जमानतदारों को अब जेल की हवा खाना होगी। इन पर न्यायालय स्तर पर सख्त कार्रवाई की जाएगी। इसके साथ ही फर्जी जमानतदारों का रिकॉर्ड तैयार किया जाएगा। उन्हें सूचीबद्ध कर उनकी जमानत पावती को प्रतिबंधित किया जाएगा। ये बात शनिवार को पुलिस कंट्रोल रूम में संचालक पुलिस महानिदेशक राजेंद्र कुमार ने कही।

शनिवार सुबह 11 से दोपहर 2 बजे तक कंट्रोल रूम पर संचालक पुलिस महानिदेशक राजेंद्र कुमार ने संभाग के अभियोजन अधिकारियों के कार्यों की समीक्षा बैठक ली, जिसमें उज्जैन, रतलाम,नीमच, मंदसौर शाजापुर एवं आगर मालवा जिलों के उपसंचालक, डीपीओ एवं अतिरिक्त एडीपीओ उपस्थित रहे । उपसंचालक अभियोजन डॉ. साकेत व्यास ने बताया कि समीक्षा में मध्यप्रदेश शासन द्वारा चिह्नित जघन्य एवं सनसनीखेज प्रकरण, पॉक्सो अधिनियम के प्रकरण तथा महिलाओं के विरुद्ध होने वाले अपराधों के प्रकरणों की समीक्षा की गई। चिह्नित प्रकरणों में अभियोजन कैडर के अधिकारियों को ही पैरवी करने के निर्देश दिए गए । 12 वर्ष से कम बालक-बालिकाओं के विरुद्ध हो रहे दुष्कर्म के मामलों में आरोपियों को फ ांसी की सजा तक पहुंचाने के निर्देश दिए गए। मजिस्ट्रेट न्यायालयों में सभी अभियोजन अधिकारियों को सजा का प्रतिशत बढ़ाने के निर्देश दिए गए।

समीक्षा में न्यायालय में आने वाले गवाहों के प्रोटेक्शन के संबंध में चर्चा की गई। फ र्जी जमानतदारों के विरुद्ध कारवाई करने तथा उनका डाटाबेस तैयार करने के निर्देश दिए गए। सभी अभियोजन अधिकारियों को अपनी प्रोफेशनल कम्पीटेंसी बढ़ाने को कहा गया । न्यायालय में कार्य करने वाले कोर्ट मोहर्रिर की कार्य दक्षता बढ़ाकर उन से काम लिया जाने निर्देश जारी किए। ऐसे अपराधी जो पूर्व में दोष सिद्ध हो चुके हैं उनका रिकॉर्ड प्रकरण में सलंग्न करने के निर्देश दिए। ताकि यदि उन्हें पश्चातवर्ती दोषसिद्धि होती है तो उन्हें अधिक दंड से दोष सिद्ध कराया जाए।

सट्टा पर्ची लिखते सटोरिए को पकड़ा
उज्जैन. नीलगंगा थाना पुलिस ने सट्टा पर्ची लिखते सटोरिए को पकड़ा है। पुलिस ने बताया कि वजीर पार्क कॉलोनी निवासी शहजाद पिता गुलाम नबी पठान क्षेत्र में सट्टा पर्ची लिख रहा था। मुखबिर की सूचना पर उसे पकड़ा गया है। उसके पास से १८६० रुपए भी जब्त किए गए हंै। ये राशि सट्टा पर्ची लिखने की है। जिसके चलते उस पर प्रकरण दर्ज किया गया है।

Ad Block is Banned