इस मंडी के किसानों को ५ रुपए में मिलेगा भरपेट भोजन

इस मंडी के किसानों को ५ रुपए में मिलेगा भरपेट भोजन

Ashish Sikarwar | Publish: Aug, 15 2019 12:34:03 AM (IST) Ujjain, Ujjain, Madhya Pradesh, India

कृषि उपज मंडी में अब किसानों और हम्मालों व तुलावटी को सस्ते दाम पर भोजन मिलेगा। कैंटीन का ठेका लेने 4 ठेकेदारों ने टेंडर डाले। सबसे अधिक दर 11 रुपए और सबसे कम 9 रुपए रही।

नागदा. कृषि उपज मंडी में अब किसानों और हम्मालों व तुलावटी को सस्ते दाम पर भोजन मिलेगा। कैंटीन का ठेका लेने ४ ठेकेदारों ने टेंडर डाले। सबसे अधिक दर 11 रुपए और सबसे कम ९ रुपए रही। दो ठेकेदारों ने एक जैसे रेट ९ रुपए डाले थे। इन दोनों के बीच गोटी डालकर निर्णय लिया गया। गोटी अनोखीलाल जैन के नाम पर निकली है। इस दर पर किसानों और हम्मालों को 6 पूड़ी, सब्जी और अचार मिलेगा। टेंडर प्रकिया एसडीएम कार्यालय में बुधवार को हुई। मंडी अधिनियम के अनुसार मंडी में आने वाले किसानों और हम्मालों एवं तुलावटी को मंडी की कैंटीन में यदि किसान और हम्माल कैंटीन कूपन देकर भोजन करते हैं तो उसे मात्र 5 रुपए ही भोजन के चुकाने होंगे। यदि इसकी दर 5 रुपए से ज्यादा रही तो बाकी राशि मंडी वहन करेगी। अंतर की राशि क्षतिपूर्ति २ रुपए मंडी समिति और २ रुपए मंडी बोर्ड भोपाल वहन करेगा। एसडीएम आरपी वर्मा एवं मंडी सचिव बीएल चौधरी, नागेंद्र सिंह के समझ तहसील कार्यालय में बुधवार को भोजन कैंटीन की नीलामी प्रकिया हुई।
अधिकतम २० रुपए की थी दर लेकिन ९ रुपए के आए रेट
मंडी समिति के नागेंद्र सिंह ने बताया कि इस वर्ष की नीलामी प्रकिया में शासन की ओर से २० रुपए की अधिकतम दर निर्धारित की गई थी। इसके अंतर्गत ४ लोगों ने टेंडर भरे थे। बुधवार को प्रकिया के टेंडर हुए जिसमें २ ठेकेदारों ने ११ रुपए तो शेष २ ठेकेदारों ने ९ रुपए के रेट डाले थे।
इसलिए आए कम रेट
मंडी सूत्रों के मुताबिक इस वर्ष ठेकेदारों द्वारा कम रेट डाले जाने के पीछे बड़ा कारण यह है कि मंडी समिति ने कैंटीन के लिए भवन नि:शुल्क उपलब्ध कराने का नियम है। साथ ही ठेकेदार भोजन के अलावा अन्य खाद्य सामाग्री भी कैंटीन में बेचने की प्रात्रता रखेगा। इससे उसके अच्छी खासी आय होने की उम्ममीद है।
३ साल के लिए रहेंगे टेंडर
लंबे समय के बाद नीलामी प्रकिया तो पूर्ण हो गई लेकिन इसके अंतर्गत भोजना की व्यवस्था आरंंभ होने में समय लगेगा। ३ साल के लिए हुए टेंंडर के अंतर्गत ठेकेदार को १ लाख रुपए की राशि प्रतिभूर्ति के रूप में मंडी समिति को जमा कराना होगी। यह राशि टेंडर समाप्त होने के बाद वापस मिल जाएगी।
गुणवत्तापूर्ण भोजन देना होगा
बुधवार को मंडी कैंटीन की नीलामी प्रकिया पूर्ण की गई। इसमें सख्त हिदायत दी गई है कि गुणवत्तापूर्ण भोजन ही होना चाहिए।
आरपी वर्मा, एसडीएम, नागदा

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned