उत्तर भारत की ट्रेनों पर कोहरे की मार, ५ से ८ घंटे लेट

उत्तर भारत में कोहरे का असर ट्रेनों पर दिखाई देने लगा है। विभिन्न रूटों से उज्जैन पहुंचने वाली ट्रेन पांच से आठ घंटे लेट पहुंच रही है।

By: Lalit Saxena

Published: 04 Jan 2018, 11:07 AM IST

उज्जैन. उत्तर भारत में कोहरे का असर ट्रेनों पर दिखाई देने लगा है। विभिन्न रूटों से उज्जैन पहुंचने वाली ट्रेन पांच से आठ घंटे लेट पहुंच रही है। उज्जैन रेलवे स्टेशन मुख्य मार्ग से अलग होने के कारण ज्यादा असर नहीं है, लेकिन उज्जैन के आसपास के नागदा, भोपाल रेलवे स्टेशनों से गुजरने वाली लगभग हर ट्रेन अपने टाइम से पिछड़ी हुई है। यह स्टेशन दिल्ली को मुंबई और दक्षिण भारत से जोडऩे वाले रूट पर है। उज्जैन पहुंचने वाली ट्रेनों में मालवा, इंदौर- दिल्ली रोहिला सराय, साबरमती एक्सप्रेस आदि लगातार देरी से पहुंच रही है। इधर, बुधवार को रेलवे की ई-सेवा भी प्रभावित रही। एप व वेबसाइट से पीएनआर जांचने व अन्य जानकारी के लिए लोगों को परेशान होना पड़ता है। इस दौरान लोगों को रूटीन मेंटेनेंस के कारण ४० मिनट बाद उपयोग करने का संदेश दिया।

5 घंटे तक लेट आई ट्रेन
बनारस से अहमदाबाद जाने वाली साबरमती एक्सप्रेस ५ घंटे लेट उज्जैन पहुंची। इसी तरह झांसी-बांद्रा टर्मिनस ६ घंटे लेट, पटना - अहमदाबाद ५.१० घंटे, मालवा एक्सप्रेस ८ घंटे, दिल्ली रोहिला सराय -इंदौर ४.३२ घंटे देरी से पहुंची।

सबसे सर्द रात ने ठिठुराया, न्यूनतम पारा 6.5 डिग्री
उज्जैन. उत्तर भारत में हुई बर्फबारी ने शहर को भी कंपकंपा दिया है। २४ घंटे के दौरान ही शहर का न्यूनतम तापमान ३.५ डिग्री सेल्सियस लुढ़ककर ६.५ डिग्री सेल्सियस पर पहुंच गया। इस सीजन में यह आंकड़ा सबसे न्यूतनतम है।

मंगलवार-बुधवार की दरमियानी रात, इस सीजन की सबसे सर्द रात रही। बड़ी गिरावट के बाद इस दौरान शहर का न्यूनतम तापमान ६.५ डिग्री सेल्सियस रहा। इससे ठिठुरन बढ़ी और लोगों को तेज ठंड का सामना करना पड़ा। आम दिनों की तुलना में शहर की सड़कें देर शाम बाद ही सूनी पडऩे लगी थीं। ठंड से बचने के लिए शहरवासियों ने घरों से निकलना टाला वहीं कई लोगों ने ठंड में दूध-जलेबी जैसे गरमागरम व्यंजनों का आनंद लिया। अन्य लोग जिन्हें मजबूरी में घरों से बाहर रहना पड़ा, उन्होंने अलाव जलाकर ठंड से बचने के उपाय किए। मंगलवार की रात न्यूनतम तापमान १० डिग्री था, २४ घंटे में ३.५ डिग्री गिरा। जीवाजी वेधशाला निदेशक राजेंद्र गुप्त के अनुसार उत्तरी सर्द हवा के चलते तापमान में गिरावट आई है।

दिन का तापमान बढ़ा
मंगलवार-बुधवार की दरमियानी रात न्यूनतम तापमान में बड़ी गिरावट आई वहीं बुधवार दोपहर दिन के अधिकतम तापमान में बढ़ोतरी हुई। मंगलवार को अधिकतम तापमान २४ डिग्री सेल्सियस था जो २४ घंटे में बढ़कर २६ डि.से. पहुंच गया।

Lalit Saxena
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned