गणेशोत्सव : पहली बार शहर में भव्य पंडाल, बच्चों के लिए फूड जोन, गेम जोन...और भी कई आकर्षण

गणेशोत्सव : पहली बार शहर में भव्य पंडाल, बच्चों के लिए फूड जोन, गेम जोन...और भी कई आकर्षण

Lalit Saxena | Publish: Sep, 10 2018 08:44:18 PM (IST) Ujjain, Madhya Pradesh, India

लालबाग के राजा की तर्ज पर विराजेंगे अवंतिका के युवराज, सामाजिक न्याय परिसर में होगी स्थापना

उज्जैन. अवंतिका राजाधिराज भगवान महाकाल की नगरी है। इस लिहाज से उनके पुत्र गणेश शहर के युवराज हैं। इस भावना के साथ शहर में पहली बार मुंबई के लालबाग के राजा की तर्ज पर गणेशोत्सव में अवंतिका के युवराज की स्थापना की जाएगी। पंडाल में 22 फीट ऊंची गजानन की प्रतिमा स्थापित की जाएगी। प्रतिमा बुरहानपुर में बनवाई जा रही है। गणेशोत्सव के दौरान होने वाले धार्मिक, सांस्कृतिक, सामाजिक कार्यक्रमों और गतिविधियों से नई पीढ़ी के सामने लाने के लिए महाकालेश्वर, चिंतामण गणेश समिति द्वारा पहल की गई है।

बड़े पैमाने पर हो रही तैयारी
सामाजिक न्याय परिसर में इसके लिए बड़े पैमाने पर तैयारी हो रही है। 24 हजार वर्गफीट के 25 फीट ऊंचे पंडाल में बुरहानपुर में मुम्बई के लालबाग के राजा की तर्ज पर 22 फीट ऊंची अवंतिका के युवराज गणेश प्रतिमा की स्थापना होगी। परिसर के एक हिस्से में पार्किंग होगी तथा दूसरे हिस्से में गणेशोत्सव पंडाल रहेगा।

प्रवेश द्वार बनेगा आकर्षक
पंडाल का प्रवेश द्वार भी उज्जैन की पहचान को स्थापित करने वाला होगा। प्रतिमा के दोनों तरफ मंच रहेंगे, जिन पर 13 से 23 सितंबर तक रोज सांस्कृतिक और बौद्धिक कार्यक्रम आयोजित किए जाएंगे। आयोजन स्थल पर यह भी गो पूजा, फूड जोन, बच्चों के लिए गेम जोन, शासकीय योजनाओं व चिकित्सा सेवा संबंधी जानकारी देने के लिए शिविर का आयोजन भी किया जाएगा।

यह होंगे आयोजन
10 दिनों तक प्रतिदिन शाम 7 बजे पूजन आरती होगी। 12 सितंबर को दोपहर 2 बजे गणेश स्थापना, 14 को रात 8 बजे सुंदरकांड पाठ, 15 को टैलेंट शो में मलखम्ब, रोप जम्प, 16 को सांस्कृतिक कार्यक्रम में क्लासिकल प्रस्तुति, नाटक रेम्प वॉक, 17 को दोपहर 2 से शाम 5 बजे तक फोटो प्रदर्शनी और प्रतियोगिता का आयोजन, रात 8 बजे लाइव आर्केस्ट्रा, 18 को दोपहर 2 से शाम 5 बजे तक शतरंज प्रतियोगिता, रात 8 बजे मालवी लोक शैली में कबीर के भजन की प्रस्तुति प्रहलाद टिपानिया के शिष्यों द्वारा, 19 को दोपहर 2 से शाम 5 बजे तक स्कूली बच्चों द्वारा मॉडल प्रदर्शनी, रात 8 बजे से वेस्र्टन डांस (धार्मिक शैली) बैंड प्रस्तुति, 20 सितंबर को दोपहर 2 से शाम 5 बजे तक रंगोली प्रतियोगिता और प्रदर्शनी, रात 8 बजे एक शाम गणपति के नाम पर व्याख्यान, 21 को दोपहर 2 से शाम 5 बजे तक चित्रकला प्रतियोगिता, प्रदर्शनी, रात 8 बजे अभा कवि सम्मेलन, 22 सितंबर को दोपहर 2 से शाम 5 बजे तक झांकी प्रतियोगिता, प्रदर्शनी रात 8 बजे इस्कॉन मंदिर संकीर्तन का आयोजन और 23 सितंबर को गणेश विसर्जन किया जाएगा।

Ad Block is Banned