scriptFree breakfast started from today in Baba Mahakal temple | बाबा महाकाल मंदिर में आज से मिलने लगा निशुल्क नाश्ता | Patrika News

बाबा महाकाल मंदिर में आज से मिलने लगा निशुल्क नाश्ता

पोहा और चाय खाकर भक्तों के चेहरे पर आई खुशी, कहा अब नहीं खाया ऐसा स्वादिस्ट पोहा।

उज्जैन

Published: April 29, 2022 03:16:06 pm

उज्जैन. दुनिया भर से बाबा माहाकाल के दर्शन करने आने वाले श्रद्धालुओं को अब सुबह का निशुल्क नाश्ता मिलना शुरू हो गया है। श्री महाकालेश्वर मंदिर प्रबंध समिति ने निशुल्क अन्न क्षेत्र में 29 अप्रेल को सुबह 6 से 8 बजे तक प्रतिदिन भस्म आरती में शामिल होने वाले दर्शनार्थियों के लिए अल्पाहार की व्यवस्थाकी है। यह व्यवस्था दान दाताओं के सहयोग से शुरू की गई है, जिसमें चाय और अल्पाहार दिया जाएगा।

mahakal_mandir.png

आज पहले दिन जब भक्त भस्म आरती के बाद बाहर आए तो उनको टोकन लेकर नाश्ते के लिए बताया और जब भक्तों ने नाश्ता किया तो उनकी प्रशंन्नता देखती ही बनती थी। एक भक्त रमेश ने बताया कि वह रात से ही लाइन में लग गए थे और जब दर्शन करके बाहर निकले तो बहुत तेज भूख लग रही थी। प्रसाद में मिला पोहा और चाय़ पीकर आनंद आ गया। पोहा बहुत स्वादिष्ट था। भक्तों ने मंदिर समिति की व्यवस्था बहुत सराहना की । भस्मआरती तड़के 4 बजे से शुरू होती है। बाहर से आए श्रद्धालु रात 12 बजे से ही कतार में लग जाते हैं। भस्मआरती सुबह 6 बजे समाप्त होती है।

यह भी पढ़ें

मंगलनाथ मंदिर में भातपूजा पर रोक, मंगलदोष दूर करने के लिए होती है ये विशेष पूजा

मंदिर प्रबंध समिति के प्रशासक गणेश कुमार धाकड़ ने बताया कि मंदिर प्रबंध समिति के सदस्य पुजारी प्रदीप गुरु, राजेन्द्र शर्मा, पुजारी राम शर्मा की मंशा और समिति के अध्यक्ष व कलेक्टर आशीष सिंह के मार्गदर्शन में श्रद्धालुओं के लिए दानदाता के माध्यम से 29 अप्रेल से बडे़ गणपति मंदिर के समीप निशुल्क अन्नक्षेत्र में प्रतिदिन भस्म आरती के बाद सुबह 6 से 8 बजे तक निशुल्क अल्पाहार सुविधा रहेगी। इसमें पोहा, खिचड़ी, चाय वितरण किया जाएगा।

श्रद्धालुओं को बांटे टोकन
गौरतलब है कि भगवान महाकाल की भस्मारती में प्रतिदिन करीब दो हजार से अधिक श्रद्धालु दर्शन करने पहुंचते हैं। इसके लिए देर रात से कतार लगना शुरू हो जाती है। नई व्यवस्था के अनुसार नाश्ते के लिए टोकन बांटे गए। इसके लिए चार काउंटर बनाए गए हैं।

आप बन सकते भागीदार
प्रशासक के अनुसार यह नई सेवा दानदाताओं के माध्यम से संचालित होगी। श्रद्धालुओं की इस सेवा में दानदाता भागीदार बनेंगे। कोई भी जन्मदिन, वैवाहिक वर्षगांठ, पुण्यतिथि या अन्य अवसर पर दान देकर सेवा में भागीदार हो सकेंगे। समिति गुरुवार से दानदाताओं से ही इसकी शुरुआत करेगी।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

बड़ी खबरें

Amravati Murder Case: उमेश कोल्हे की हत्या का मास्टरमाइंड नागपुर से गिरफ्तार, अब तक 7 आरोपी दबोचे गए, NIA ने भी दर्ज किया केसमोहम्‍मद जुबैर की जमानत याचिका हुई खारिज,दिल्ली की अदालत ने 14 दिनों की न्यायिक हिरासत में भेजाSharad Pawar Controversial Post: अभिनेत्री केतकी चितले ने लगाए गंभीर आरोप, कहा- हिरासत के दौरान मेरे सीने पर मारा गया, छेड़खानी की गईIndian of the World: देवेंद्र फडणवीस की पत्नी अमृता फडणवीस को यूके पार्लियामेंट में मिला यह पुरस्कार, पीएम मोदी को सराहाGujarat Covid: गुजरात में 24 घंटे में मिले कोरोना के 580 नए मरीजयूपी के स्कूलों में हर 3 महीने में होगी परीक्षा, देखे क्या है तैयारीराज्यसभा में 31 फीसदी सांसद दागी, 87 फीसदी करोड़पतिकांग्रेस पार्टी ने जेपी नड्डा को BJP नेता द्वारा राहुल गांधी से जुड़ी वीडियो शेयर करने पर लिखी चिट्ठी, कहा - 'मांगे माफी, वरना करेंगे कानूनी कार्रवाई'
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.