गैंगवार... आखिरकार चली गई कान्हा की जान

Lalit Saxena

Publish: Jan, 14 2018 06:55:57 PM (IST)

Ujjain, Madhya Pradesh, India
गैंगवार... आखिरकार चली गई कान्हा की जान

जिला अस्पताल सहित दानीगेट और ढाबा रोड पर हुई थी चाकूबाजी पुलिस बल की मौजूदगी में हुआ पोस्टमार्टम

उज्जैन. दानीगेट क्षेत्र में दो दिन पूर्व हुए दो पक्षों के विवाद और फिर जिला अस्पताल में हुई चाकूबाजी की घटना में घायल एक युवक की शनिवार को इलाज के दौरान मौत हो गई। युवक की मौत की सूचना के बाद बड़ी संख्या में युवक के परिजन और उसके साथी जिला अस्पताल पहुंच गए। पुलिस सुरक्षा में शव का पीएम कराया गया।


गुरुवार रात को गोलू टांक, नकुल टांक, प्रदीप खत्री, रोहित पाटू, विष्णु खत्री का जन्मदिन मनाकर वापस लौट रहे थे। इसी दौरान दानीगेट चौराहे पर बबलू डागर के बड़े भाई अनिल डागर के ***** राहुल कलोसिया से मिलकर अभिषेक शर्मा, चयन, अजय, दुर्लभ कश्यप, राजदीप मंडलोई, बौखला आदि लौट रहे थे। दानी गेट चौराहे पर इन सभी का आमना-सामना हो गया। कहासुनी के दौरान ही गोलू, विष्णु और साथियों ने अभिषेक शर्मा, रिंकू परिहार आदि पर चाकू से हमला कर दिया। चाकूबाजी में गंभीर हालत में अभिषेक और रिंकू को उसके साथी जिला अस्पताल लेकर पहुंचे। जिला अस्पताल में भर्ती करने के बाद सभी वहीं रुक गए और इसी दौरान गोलू और उसके साथी जिला असपताल पहुंचे और हमले का प्रयास किया। जहां दुर्लभ कश्यप, राजदीप, मंडलोई, बौखला, हेमंत, सोनू ठाकुर आदि ने मिलकर गोलू और उसके साथी कान्हा, प्रदीप, सन्नी, शिवम, पारस, विशाल आदि पर चाकू से हमला किया। इसमें प्रदीप, गोलू की हालत गंभीर बताई जा रही है। इसी हमले में घायल कान्हा उर्फ अर्पित की शनिवार सुबह इलाज के दौरान मौत हो गई।


दो थानों में दर्ज हुए थे तीन प्रकरण
गुरुवार रात को हुई गैंगवार की घटना में कोतवाली और जीवाजीगंज थाना पुलिस ने जानलेवा हमले के तीन प्रकरण दर्ज किए हैं। अभिषेक शर्मा की शिकायत पर गोलू टांक, नकुल टांक, विष्णु खत्री, प्रदीप खत्री और रोहित पाटू के खिलाफ जीवाजीगंज थाना पुलिस ने जानलेवा हमले का प्रकरण दर्ज किया गया है, जबकि सन्नी ऊर्फ देवेंद्र पिता विजय सिंह दलोरिया निवासी रामघाट, शिवम, नितिन, पारस और विशाल की शिकायत पर दुर्लभ, राजदीप, हेमंत और बौखला के खिलाफ जीवाजीगंज थाना पुलिस ने जानलेवा हमले का प्रकरण दर्ज किया है। ऐसे ही गोलू और कान्हा और प्रदीप पर जिला अस्पताल में हुए जानलेवा हमले में दुर्लभ, राजदीप, बौखला, सोनू ठाकुर, तुषार खत्री सहित अन्य के खिलाफ कोतवाली थाना पुलिस ने प्रकरण दर्ज किया था। कोतवाली पुलिस ने अब प्रकरण में हत्या का की धारा भी बढ़ा दी है।


करनी पड़ी मशक्कत
जिला अस्पताल में हुए हमले में घायल हुए कान्हा उर्फ अर्पित को चाकू से 13-14 घाव पहुंचे थे, जिसका उपचार जारी था। लेकिन कान्हा की मौत हो गई है। कान्हा की मौत के बाद सुबह जिला चिकित्सालय में भारी भीड़ लग गई तथा घायल गोलू और जयप्रकाश के परिजन और परिचित भी लामबंद हो गए। पुलिस विभाग को जिला चिकित्सालय में भीड़ नियंत्रित करने तथा मृतक का पोस्टमार्टम कराने व अंतिम संस्कार की तैयारी के लिए काफी मशक्कत करना पड़ी। जिला अस्पताल में सीएसपी रूहल भी पहुंची तथा कहा कि जो भी इसमें शामिल है उसे जल्द गिरफ्तार किया जाएगा। मामले की जांच जारी है।

डाउनलोड करें पत्रिका मोबाइल Android App: https://goo.gl/jVBuzO | iOS App : https://goo.gl/Fh6jyB

1
Ad Block is Banned