वाटसऐप से मिल रहीं कुंडलियां, अब तक 12 रिश्ते तय होकर हो चुके विवाह

वाटसऐप से मिल रहीं कुंडलियां, अब तक 12 रिश्ते तय होकर हो चुके विवाह
social media,Marriage,Ujjain,horoscope,nagda,whattsapp,

Mukesh Malavat | Publish: May, 21 2019 08:02:02 AM (IST) Ujjain, Ujjain, Madhya Pradesh, India

शहर के युवा व्यापारी की अनूठी पहल

नागदा. सोशल मीडिया की ताकत को शहर के एक युवा व्यापारी ने समाज की जरूरत को पूरा करने के लिए माध्यम बनाया है। राजेश सकलेचा भाईजी ने वाट्सऐप पर बायोडाटा नामक ग्रुप बनाकर इससे रिश्ते तय करवाने का अनूठा प्रयोग करीब शुरू किया है। वे इस प्रयोग में काफी हद तक सफल हो रहे है। खास बात यह हैं कि बायोडाटा के साथ कुंडलियां मिलाने तक का काम ग्रुप में चल रहा है। इसके चलते अब तक 12 रिश्ते तय हो चुके हैं।
गौरतलब है कि जैन समाज सहित कुछ समाजों में शादी के लिए लड़कियों की कमी के चलते रिश्ते तय होने में परेशानी हो रही है। ऐसे में जैन समाज के कपड़ा व्यापारी राजेश सकलेचा ने सोशल मीडिया से इस परेशानी का हल खोजने का माध्यम बनाया। सकलेचा ने ग्रुप में 190 परिवारों को जोडकऱ शुरूआत की। ग्रुप सदस्यों ने अपने या अपनी शादी योग्य बच्चों का बायोडाटा इस ग्रुप में डाला। ग्रुप का सख्त नियम है कि कोई भी व्यक्ति इस ग्रुप में बायोडाटा के अलावा कुछ नहीं डालेगा। ग्रुप की शुरुआत के 15 दिन बाद ही एक रिश्ता तय हो गया और कुछ लोगों में बातचीत का सिलसिला शुरू हो गया।
पौधा लगाया था वृक्ष बन चुका
एक ग्रुप में 190 परिवार को जोडकऱ अनूठी पहल की शुरुआत की गई थी, लेकिन वर्तमान में पांच ग्र्रुप है। जिसमें लगभग 900 परिवारों के सदस्य जुड़े है। पांचों ग्रुप को अलग-अलग केटेगिरी में बनाया गया है। एक ग्रुप ऐसा है जिसमें फ्रेश रिश्ते होना है वहीं दूसरे ग्रुप में जिनके संबंध होकर टूट चुके है ऐसे परिवारों को जोड़ा गया है। वहीं अन्य ग्रुप में जो शादी की उम्र से अधिक उम्र के हो चुके है उसे जोड़ा गया है। खास बात यह है कि लोगों को एक साथ कई लडक़े-लड़कियों के बायोडाटा मिल जाते है। फिर ग्रुप में जितने लोग जुड़े है वे सभी ग्रुप एडमिन या अन्य सदस्यों के माध्यम से जुड़े हुए है। इसलिए लोग इस चिंता से भी मुक्त हैं कि कहीं उनके साथ कोई धोखा न हो जाए।
रिश्ता तय होने के बाद छोडऩा पड़ता है ग्रुप
सकलेचा ने ये भी नियम बनाया है कि यदि किसी परिवार के बच्चों के संबंध तय हो जाते हैं तो वे इस ग्रुप को छोडकऱ दे, ताकि ग्रुप में नए परिवार को जोड़ा जा सकें और उसे इसका लाभ मिल सकें। ग्रुप में देशभर के कई शहरों के लोग जुड़े हुए हैं।
नाहर परिवार ने दिया धन्यवाद : ग्रुप शुरुआत के 15 दिन बाद ही ग्रुप में डले बायोडाटा मेंं एक बायोडाटा धार निवासी नाहर परिवार ने भेजा था। उन्होंने ग्रुप में मैसेज कर बताया था कि इस ग्रुप की बदौलत उनकी बेटी का रिश्ता तय हो गया है। उन्होंने ग्रुप में एडमिन को धन्यवाद देते हुए शुभकामना पत्र भी भेजा था।
ग्रुप पर और भी चल रही हैं रिश्तों की चर्चा
ग्रुप के संस्थापक सकलेचा ने बताया कि ग्रुप के 15 दिन बाद ही धार के एक परिवार का रिश्ता तय हो गया था। वहीं वर्तमान में नागदा के मुकेश धाकड़ की बेटी का रिश्ता ग्रुप के माध्यम से तय हुआ है। नागदा के प्रतिष्ठित व्यापारी जवाहर वोहरा की पुत्री का रिश्ता भी इसी ग्रुप से तय हुआ। खाचरौद के चौरडिय़ा परिवार में भी हाल ही में रिश्ता तय हुआ था और विवाह भी हो चुका है। ग्रुप के माध्यम से अब तक 12 रिश्ते तय होकर विवाह भी हो चुके है, वहीं कुछ रिश्तों पर चर्चाएं चल रही है।

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned