scriptIf you are thinking of going somewhere in, this news is of your use | समर वेकेशन में कहीं जाने का सोच रहे हैं तो यह खबर आपके काम की है | Patrika News

समर वेकेशन में कहीं जाने का सोच रहे हैं तो यह खबर आपके काम की है

कोरोना के कारण दो वर्ष से खुलकर आउटिंग नहीं कर पाए शहरवासियों को इस सीजन में दो गुना उत्साह, ठंडे क्षेत्रों को लेकर अप्रैल की बुकिंग भी लगभग पूरी, टूरिज्म इंडस्ट्रीज भी पीक पर

उज्जैन

Published: March 11, 2022 09:46:51 pm

उज्जैन. कोरोना के कारण दो वर्ष से खुलकर घूमने का आनंद नहीं ले पाए शहरवासी, इस समर सीजन में कसर पूरी करने के मूड में हैं। गर्मी के मौसम में शहरवासी दिल खोलकर आउटिंग का मजा लेने को उत्साहित हैं। यहीं कारण हैं कि ट्रेवल एजेंट और टूर प्लानर्स के पास इन्काव्यरी की भरमार है। पैकेज के नाम पर मार्च पहले ही फुल हो चुका है और अप्रैल की बुकिंग भी ८० फीसदी तक हो गई है। आउटिंग की तैयारी कर रहे कई परिवारों को तो मई तक का प्लान बनाना पड़ रहा है।

If you are thinking of going somewhere in, this news is of your use
कोरोना के कारण दो वर्ष से खुलकर आउटिंग नहीं कर पाए शहरवासियों को इस सीजन में दो गुना उत्साह, ठंडे क्षेत्रों को लेकर अप्रैल की बुकिंग भी लगभग पूरी, टूरिज्म इंडस्ट्रीज भी पीक पर

गर्मी की छुट्टीयों का मौका हो और उस में भी परिवार-दोस्तों के साथ घूमने न जा सकें तो मन कचोटना स्वभाविक है। कोरोना के कारण दो वर्ष से कुछ एेसा ही हो रहा था। इस बार जहां संक्रमण का असर फिलहाल कम है वहीं घरेलू व अंतराष्ट्रीय पर्यटन स्थल भी खुले हुए हैं। एेसे में उज्जैनवासी दो साल बाद इस मौके का भरपूर उपयोग करने का मन बना चुके हैं। सबसे अधिक ठंडे क्षेत्रों की बुकिंग हो रही जिनमें श्रीनगर, शिमला, मनाली, सिक्कीम जैसे स्थान प्रमुख है। इंटरनेशन टूर प्लानिंग में मालाद्वीव, दुबई आदि की इन्क्वायरी अधिक मिल रही है।

होटल फुल, बढ़े दाम

आउटिंग क्रेज बढऩे के चलते प्रमुख पयर्टन स्थलों पर होटल आदि की सुविधा मिलना मुश्किल हो रही है। ट्रेवल एजेंट व टूर प्लानर के अनुसार ठंडे क्षेत्रों में फाइव या सेवन स्टार होटल्स अप्रैल तक लगभग फुल हो चुके हैं। अन्य होटलों की भी यही स्थिति है। मांग बढऩे और जगह की उपलब्धता कम होने के कारण रूम के रेट भी बढ़ा दिए गए हैं। जो रूम्स पहले ५ हजार रुपए प्रति दिन में मिल जाता था वह अभी ६ हजार ५०० रुपए तक में मुश्किल से मिल रहा है। यही स्थिति फ्लाइट्स बुकिंग को लेकर भी हो रही है। नजदीक के दिनों में खाली फ्लाइट्स मिलना मुश्किल हो रहा है वहीं कीमत भी अधिक चुकाना पड़ रही है।

टूरिज्म इंडस्ट्री में बड़ा बूम

दो वर्ष से पर्यटन क्षेत्र ठंडा पड़ा हुआ था लेकिन इस बार पुराने रिकार्ड टूटने की उम्मीद जताई जा रही है। दिसंबर महीने में इसकी झलक मिल चुकी है। जानकारों के अनुसार इस दिसंबर में पूर्व की तुलना में करीब दो गुना अधिक बुकिंग हुई है। इसका बड़ा कारण कोरोना के दौरान दो वर्ष से लोगों का खुलकर बाहर घूमना नहीं हो पाना है। इसीलिए इस दौरान इंडस्ट्री भी लगभग शून्य ही थी।

कहते हैं जानकार

दो साल बाद समर सीजन आ रहा हैइस बार दिसंबर में 90 लाख की बुकिंग हुई जबकि कोविड के पहले 40-50 लाख रुपए की होती थी। दो साल बाद इस बार समर सीजन आ रहा है। कोविड के बिना सभी जगह प्रतिबंध को हटाने के कारण मार्च की बुकिंग लगभग फुल है और अप्रैल में 80 प्रतिशत बोकिंग हो चुकी है। उम्मीद है कि इस बार टूरिज़म इंडस्ट्री 2022 में रिकॉर्ड बनाएगी। दो साल से ठप्प पड़े अंतराष्ट्रीय टूरिज्म को भी पिछले कुछ महीनों से रुक-रुक कर है सही लेकिन मालदीव और दुबई से अच्छा सहारा मिल रहा है। सरकार 27 मार्च से अंतराष्ट्रीय हवाई यात्रा से सभी प्रतिबंध हटा रही है जिससे अंतरराष्ट्रीय पर्यटन को अभूतपूर्व व्यापार की उम्मीद है।
- अंकित डड्डा, इंटरनॅशनल टूर स्पेशलिस्ट

स्प्रींग की तरह दो गुना क्षमता से उछाल

जिस तर किसी स्प्रींग को दबाकर छोड़ा जाता है तो वह दो गुना क्षमता से उछलती है, कोविड के बाद पर्यटन क्षेत्र में भी एेसा ही उछाल आया है। कोरोना के बाद समर वैकेशन पर हनीमूनर्स, ग्रुप टूर्स और फैमिली टूर की लगातार इन्क्वारी हो रही है। इसके साथ बुकिंग भी जर्बदस्त हो रही है। इस वर्ष टूरिज्म इंडस्ट्री में काफी उत्साह देखने को मिल रहा है। ठंडे पर्यटन स्थलों में सर्वाधिक बुकिंग है और नजदीक के दिनों में आक्युपेंसी फुल है।
- धीरेंद्र सिंह परिहार, प्रदेश सदस्य ट्रेवल एजेंट एसोसिएशन ऑफ इंडिया एमपीसीजी चैप्टर

बोले शहरवासी

कोविड में जा नहीं सके, अब बना रहे प्लान
पहले दोस्तों के साथ लगभग हर वर्ष घूमने जाता था। कोविड के दौरान शादी हुई लेकिन संक्रमण के चलते फैमिली टूर नहीं बना पाए। अब स्थिति सामान्य हो रही हैं तो मालद्वीव का टूर तय किया है। मार्च में बुकिंग नहीं मिली है इसलिए अब अप्रैल का प्लान बनाया है।
- सक्षम आंचलिया, नयापुरा

फैमिली के साथ गोआ ट्रीप की तैयारीहम फार्मा सेक्टर से जुड़े हैं। कोरोना के दौरान मेडिकल फेसिलीटी उपलब्ध करवाने में व्यस्तता रही और तब बाहर घूमने जाने जैसी स्थिति भी नहीं थी। दो साल बाद घूमने का मौका मिल रहा है जिसको लेकर हम सभी उत्साहित हैं। हमने मार्च में गोआ की फैमिली ट्रीप प्लान की है।
- अखिल जैन, व्यवसायी

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

1119 किलोमीटर लंबी 13 सड़कों पर पर्सनल कारों का नहीं लगेगा टोल टैक्सयहाँ बचपन से बच्ची को पाल-पोसकर बड़ा करता है पिता, जैसे हुई जवान बन जाता है पतिशुक्र का मेष राशि में गोचर 5 राशि वालों के लिए अपार 'धन लाभ' के बना रहा योगराजस्थान के 16 जिलों में बारिश-आंधी व ओलावृ​ष्टि का अलर्ट, 25 से नौतपाजून का महीना इन 4 राशि वालों के लिए हो सकता है शानदार, ग्रह-नक्षत्रों का खूब मिलेगा साथइन बर्थ डेट वालों पर शनि देव की रहती है कृपा दृष्टि, धीरे-धीरे काफी धन कर लेते हैं इकट्ठा7 फुट लंबे भारतीय WWE स्टार Saurav Gurjar की ललकार, कहा- रिंग में मेरी दहाड़ काफीशुक्र देव की कृपा से इन दो राशियों के लोग लाइफ में खूब कमाते हैं पैसा, जीते हैं लग्जीरियस लाइफ

बड़ी खबरें

ज्ञानवापी मस्जिद मामलाः सुप्रीम कोर्ट में दाखिल हुई एक और याचिका, जानिए क्या की गई मांगऑक्सफैम ने कहा- कोविड महामारी ने हर 30 घंटे में बनाया एक नया अरबपति, गरीबी को लेकर जताया चौंकाने वाला अनुमानसंयुक्त राष्ट्र की चेतावनी: दुनिया के पास बचा सिर्फ 70 दिन का गेहूं, भारत पर दुनिया की नजरबिहार में भीषण सड़क हादसा, पूर्णिया में ट्रक पलटने से 8 लोगों की मौतश्रीनगर पुलिस ने लश्कर के 2 आतंकवादियों को किया गिरफ्तार, भारी संख्या में हथियार बरामदGood News on Inflation: महंगाई पर चौकन्नी हुई मोदी सरकार, पहले बढ़ाई महंगाई, अब करेगी महंगाई से लड़ाईकोरोना वायरस का नहीं टला है खतरा, डेल्टा-ओमिक्रॉन के बाद अब दो नए सब वैरिएंट की दस्तक से बढ़ी चिंताNEET UG 2022: 3 घंटे से ज्यादा मिलेगा समय, टाइ ब्रेकिंग रूल और मार्किंग पैटर्न भी बदला, 14 विदेशी केंद्रों में भी होंगे Exam
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.