scriptIndia first snake infotainment park started in ujjain on nagpanchami | बाबा महाकाल की नगरी अब नाग विज्ञान में भी होगी वर्ल्ड फेमस | Patrika News

बाबा महाकाल की नगरी अब नाग विज्ञान में भी होगी वर्ल्ड फेमस

नागपंचमी पर देश का पहला स्नेक इंफोटेनमेंट पार्क उज्जैन में शुरू

उज्जैन

Published: August 02, 2022 04:44:48 pm

उज्जैन. बाबा महाकाल की नगरी अब नाग विज्ञान के लिए भी विश्व में अलग पहचान बनाएगी। शहर में देश का पहला सरीसृप जगत पर आधारित स्नेक इंफोटेनमेंट पार्क विकसित हो रहा है। इंदौर रोड बसंत विहार में 2005 में सरीसृप संरक्षण एवं शोध केंद्र स्थापित किया गया था। करीब 1 हेक्टेयर भूमि पर बने केंद्र को अब स्नेक इंफोटेनमेंट पार्क के रूप में विकसित किया जाएगा।

snake_infotainment_park_ujjain.jpg

करीब दो करोड़ की लागत वाले प्रोजेक्ट में सिविल वर्क 40 फीसदी से अधिक हो चुका है। इसी वर्ष नवंबर-दिसंबर तक कार्य पूरा करने का लक्ष्य है। केंद्र के डायरेक्टर मुकेश इंगले बताते हैं, योजनानुसार पूर्ण विकसित होने के बाद यह सर्पों सहित सरीसृप पर आधारित देश का पहला ऐसा केंद्र होगा जहां इनकी एनाटॉमी, फिजियोलॉजी (शरीर के साथ ही मायथोलॉजी (सर्पों को लेकर धार्मिक मान्यता) आदि की प्रभावी तरीके से विस्तृत जानकारी मिलेगी।

डिजिटल इंटरपीटिशन सेंटर के साथ मिलेगी सांपों से संबंधित जानकारी व धार्मिक मान्यता, सर्टिफिकेट और डिप्लोमा कोर्स भी शुरू होगा। दूसरे चरण में स्नेक पार्क बनेगा- दूसरे चरण में स्नेक पार्क विकसित करने का भी प्रस्ताव है। यह चिड़ियाघर के रूप में होगा। इसमें सांपों की विभिन्न प्रजाति के साथ ही अन्य जानवर भी रहेंगे। पार्क पर दो-ढाई करोड़ रुपए से अधिक खर्च होने का आंकलन है।

इसलिए विशेष होगा पार्क
3. ट्रेनिंग सेंटर- सर्प दंश से होने वाली मौत व सांपों की रक्षा के उद्देश्य से वर्क फोर्स तैयार करेंगे। इसमें मेडिकल स्टॉफ, वन विभाग कर्मचारी आदि को जरूरी ट्रेनिंग दी जाएगी। केंद्र की ओर से संबंधित विभागों को पत्र भी भेजे गए हैं।

4. रेपटाइल हाउस- सांपों के साथ ही छिपकली, घड़ियाल, मगरमच्छ, कुछए रहेंगे जिन्हें आगंतुक देख सकेंगे। इनके ही डायरोमा (प्रतिकृति) भी रहेंगे जो हबहु सरीसृप जैसे नजर आएंगे।

1. इंटरपीटिशन सेंटर- विशाल डिजिटल वॉल पर सांपों से जुड़ी जानकारी जैसे उनका नाम, खान-पान, मिलने का क्षेत्र, विशेषता, पहचान, आदत आदि मिलेगी। सांपों से बचाव आदि के तरीके बताएंगे।

2. हार्पेटोलॉजिकल रिसर्च लाइब्रेरी- सरीसृप पर अधारित रिसर्च सेंटर रहेगा। 5 घंटे से 6 महीने की अवधि का सर्टिफिकेट व डिप्लोमा र्कोस पढ़ाया जाएगा। इसे ग्रीन स्कील डेवपलमेंट प्रोग्राम के अंतर्गत शुरू करने की योजना है।

नागों के लिए खास है उज्जैन
महाकाल की नगरी में नाग भी बहुतायत मिलते हैं। मप्र में करीब 50 प्रजाति के सांप पाए जाते हैं। इनमें से उज्जैन जिले में 27 और शहर में 13 प्रकार के सांप पाए जाते हैं। इन 13 प्रजातियों में तीन प्रजाति के अतिविषैले सांप कोबरा, रेसल वाइपर (दीवड़) व कामन करैत यहां पाए जाते हैं। इनके अलावा डेंगू, धामन, घोड़ापछाड़, अलंकृत, कुकरी, माटी का सांप, सीता की लट जैसे अविषैले सांप भी बहुतायत मिलते हैं।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

Monsoon Alert : राजस्थान के आधे जिलों में कमजोर पड़ेगा मानसून, दो संभागों में ही भारी बारिश का अलर्टमुस्कुराए बांध: प्रदेश के बांधों में पानी की आवक जारी, बीसलपुर बांध के जलस्तर में छह सेंटीमीटर की हुई बढ़ोतरीराजस्थान में राशन की दुकानों पर अब गार्ड सिस्टम, मिलेगी ये सुविधाधन दायक मानी जाती हैं ये 5 अंगूठियां, लेकिन इस तरह से पहनने पर हो सकता है नुकसानस्वप्न शास्त्र: सपने में खुद को बार-बार ऊंचाई से गिरते देखना नहीं है बेवजह, जानें क्या है इसका मतलबराखी पर बेटियों को तोहफे में देना चाहता था भाई, बेटे की लालसा में दूसरे का बच्चा चुरा एक पिता बना किडनैपरबंटी-बबली ने मकान मालिक को लगाई 8 लाख रुपए की चपत, बलात्कार के केस में फंसाने की दी थी धमकीराजस्थान में ईडी की एन्ट्री, शेयर ब्रोकर को किया गिरफ्तार, पैसे लगाए बिना करोड़ों की दौलत

बड़ी खबरें

Maharashtra News: महाराष्ट्र के रायगढ़ में संदिग्ध नाव मिलने से हडकंप, AK 47 सहित कई हथियार हुए बरामदRohingya Row: अनुराग ठाकुर का AAP पर आरोप, राष्ट्र सुरक्षा से समझौता कर रही दिल्ली सरकारपश्चिम बंगाल में STF को मिली बड़ी सफलता, अल-कायदा से जुड़े दो आतंकवादियों को किया गिरफ्तारBJP में शामिल होंगे JDU के पूर्व अध्यक्ष RCP सिंह, नीतीश के बारे में कहा- 7 जन्म में नहीं बन सकेंगे प्रधानमंत्रीराजू श्रीवास्तव की हालत नाजुक, ब्रेन हुआ डेड, दिल नहीं कर रहा काम, शुरू कराया गया महामृत्युंजय जापJharkhand News: कोर्ट का फरमान- एक साथ 15 दोषियों को सुनाई फांसी की सजा, जानिए क्या किया था इन्होंने अपराधबिहार में अपराधियों को पकड़ने आई UP पुलिस को बदमाशों ने कुत्तों से कटवाया, कमरे में बंद कर छोड़ दिए जर्मन शेफर्डअशोक गहलोत ने गुजरात सरकार पर साधा निशाना, प्रदेश के विकास मॉडल को बताया खोखला
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.