पेशे से इंजीनियर, 40 साल रहे ट्रस्ट अध्यक्ष, अब बनेंगे जैन साधु

Ujjain News: - खाराकुआं पेढ़ी के पूर्व अध्यक्ष भौतिक सुखों व सांसारिक रिश्तों का त्याग कर लेंगे दीक्षा, समाज की संस्थाओं ने किया बहुमान

By: Lalit Saxena

Published: 29 Jun 2020, 07:04 AM IST

उज्जैन। पेशे से इंजीनियर, 40 साल तक खाराकुआं तीर्थ पेढ़ी ट्रस्ट के अध्यक्ष रहे महेंद्र सिरोलिया अब वैराग्य के पथ पर अग्रसर हैं। उम्र के इस पड़ाव पर उनके मन में वैराग्य उत्पन्न हुआ और उन्होंने भौतिक सुख व सांसारिक रिश्ते नातों का त्याग कर संयम जीवन अंगीकार करने का निश्चय लिया। 1 जुलाई को भोपाल में गणिवर्य आदर्श रत्न सागर मसा की निश्रा में उनकी जैन दीक्षा होगी।

सारी संपत्ति और वैभव को त्याग

श्री ऋषभदेव छगनीराम पेढ़ी तीर्थ ट्रस्ट के अध्यक्ष रहे महेंद्र सिरोलिया का विभिन्न सामाजिक संस्थाओं ने आचार्यश्री मुक्तिसागर सूरी, मुनि अचल मुक्तिसागरजी की निश्रा में बहुमान किया। अपनी सारी संपत्ति और वैभव को त्याग सिरोलिया अब जैन साधु के रूप में नया जीवन शुरू करेंगे। खाराकुआं पेढ़ी उपाश्रय पर पेढ़ी ट्रस्ट मंडल, श्रीहीर विजय सुरी बड़ा उपाश्रय, जैन श्वेतांबर छोटे साथ समाज, चंदाप्रभु जैन मंदिर ट्रस्ट नयापुरा, श्री चौमुखा जिनालय सुभाष नगर, जीवनदीप सोशल वेलफेयर सोसाइटी, श्री नवरत्न परिवार, कांच का मंदिर सेवा समिति, मनोहर इंदु महिला मंडल सहित अन्य सामाजिक संस्थाओं ने सोशल डिस्टेंसिंग के पालन के साथ मुमुक्षु महेंद्र सिरोलिया का साफा, मोती की माला व प्रशस्ति पत्र देकर सम्मान किया। साथ ही उनके दीर्घ एवं सफल संयम जीवन की कामना की।

खाराकुआं पेढ़ी के लिए गौरव का पल
पेढ़ी ट्रस्ट के सचिव नरेंद्र जैन दलाल के अनुसार उज्जैन सकल श्री संघ व खाराकुआ पेढ़ी के लिए यह गौरव के पल हैं। हमारे बीच के सिरोलिया जी अब जैन साधु के रूप में समाज का मार्गदर्शन करेंगे। स्वागत भाषण पेढ़ी ट्रस्टी गौतमचंद धींग ने दिया। प्रशस्ति पत्रों का वाचन डॉ. सुभाष जैन व अशोक भंडारी ने किया। इस अवसर पर पूर्व सचिव जयंतीलाल जैन तेलवाला, संजय जैन खलीवाला सुशील जैन, राजेंद्र सिरोलिया संजय जैन ज्वेलर्स, तेजकुमार सिरोलिया, अभय जैन भैया, एडवोकेट संजय नाहर, प्रकाश नाहर, अभय सिरोलिया, संजय जैन मोटर्स, राजेश पाटनी, राकेश नाहटा, दिनेश जैन अश्विन मेहता, महेंद्र नाहर, संजय संघवी, राजेश जैन डगवाला, संतोष जैन सहित अन्य समाजजन मौजूद रहे। आभार पारस हरणीया ने माना।

सिरोलिया का एक परिचय
60 वर्षीय सिरोलिया पेशे से इंजीनियर। उज्जैन की श्री सिंथेटिक्स में उन्होंने जीएम के पद पर कई वर्षों तक सेवाएं दी। बेंगलुरु में कई प्रोजेक्ट से जुड़कर काम किया। कई धार्मिक तप आराधना के साथ सेवा कार्यों में अग्रणी रहे। उनके परिवार में पत्नी व विवाहित पुत्र-पुत्री है। कुछ समय पहले ही उन्होंने पेढ़ी ट्रस्ट अध्यक्ष पद छोड़ा था। अब उनके पुत्र सौरभ सिरोलिया इस जिम्मेदारी को संभाल रहे हैं।

Show More
Lalit Saxena
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned