जन्माष्टमी विशेष : उज्जैन के दामाद भी थे श्रीकृष्ण

जन्माष्टमी विशेष : उज्जैन के दामाद भी थे श्रीकृष्ण
उज्जयिनी के राजा विन्द और अनुविन्द की बहन मित्रविन्दा का अपहरण कर श्रीकृष्ण ने विवाह किया था। इसलिए वे उज्जैन के दामाद भी थे।

Lalit Saxena | Updated: 23 Aug 2019, 01:14:21 PM (IST) Ujjain, Ujjain, Madhya Pradesh, India

उज्जयिनी के राजा विन्द और अनुविन्द की बहन मित्रविन्दा का अपहरण कर श्रीकृष्ण ने विवाह किया था। इसलिए वे उज्जैन के दामाद भी थे।

उज्जैन. उल्लेखनीय है कि उज्जयिनी के राजा विन्द और अनुविन्द की बहन मित्रविन्दा का अपहरण कर श्रीकृष्ण ने विवाह किया था। इसलिए वे उज्जैन के दामाद भी थे। जूना सोमवारिया से भेरूगढ़ वाले रास्ते पर इनकी प्रतिमाएं विद्यमान हैं, साथ ही प्राकृतिक सौंदर्य के बीच बना यह मंदिर श्रद्धालुओं के आकर्षण का केंद्र है।

सज गए कान्हा के दरबार, रात 12 बजे होगी जन्म आरती
भगवान श्रीकृष्ण का जन्मोत्सव धूमधाम से मनाया जाएगा। गोपाल मंदिर, सांदीपनि आश्रम और इस्कॉन मंदिर में आकर्षक सजावट सभी को लुभा रही है। कान्हा के जयकारों के साथ शुक्रवार की रात 12 बजे जन्म आरती होगी। मिश्री-तुलसी और पंजीरी का प्रसाद बांटा जाएगा। गोपाल मंदिर और सांदीपनि आश्रम में २३ तथा इस्कॉन मंदिर में २४ अगस्त को लड्डू गोपालजी का जन्मोत्सव मनाया जाएगा। श्रीद्वारकाधीश धाम गोपाल मंदिर में रात १२ बजे जन्म आरती होगी। वहीं सांदीपनि आश्रम में 23 अगस्त को जन्मोत्सव मनाया जाएगा। मंदिर में स्वर्ण द्वारकापुरी का निर्माण किया गया है साथ ही आकर्षक विद्युत एवं फूलों से सज्जा की गई है। रात 11.30 बजे अभिषेक-पूजन कर 12 बजे महाआरती की जाएगी और 24 अगस्त को नंद महोत्सव का आयोजन होगा।

रोशनी से नहाया इस्कॉन मंदिर, तीन दिन जन्माष्टमी पर्व
इस्कॉन मंदिर में आकर्षक विद्युत रोशनी की गई। 23 से 25 अगस्त तक महामहोत्सव का आयोजन होगा, जिसमें अंतर्राष्ट्रीय शाकाहारी व्यंजन उत्सव विशेष रहेगा। पीआरओ पंडित राघवदास ने बताया इस्कॉन के संस्थापक आचार्य श्रील प्रभुपाद जी के जीवन पर आधारित प्रदर्शनी और श्रीकृष्ण की बाल लीलाओं की झांकियां सजेंगी। सांस्कृतिक कार्यक्रम का आयोजन अमोल भक्त प्रभु के निर्देशन में होगा। साथ ही यहां किड्स और सेल्फी जोन बनाए जाएंगे।

कृष्ण-सुदामा धाम में आज मनेगी जन्माष्टमी
कृष्ण सुदामा मंदिर नारायणा धाम में २३ अगस्त को जन्माष्टमी पर्व मनाया जाएगा। केसरसिंह पटेल ने बताया कि शुक्रवार सुबह 6 बजे ध्वजारोहण राहुल आंजना मित्रमंडली द्वारा किया जाएगा। संगीतमय भागवत कथा का आयोजन साध्वी मंगलादेवी ओंकारेश्वर द्वारा की जाएगी। धर्म यात्रा 23 अगस्त को सुबह 9 बजे से इस्कॉन मंदिर उज्जैन से नारायणा धाम पहुंचेगी।

तुलसी के 101 गमलों, मटकी से होगा शृंगार
फ्रीगंज स्थित प्रकटेश्वर महादेव मंदिर में जन्माष्टमी पर तुलसी के 101 गमलों व मटकी से राधाकृष्ण का विशेष शृंगार किया जाएगा। साथ ही एकादशी के दिन तुलसी के पौधे वितरित किए जाएंगे। पुजारी घनश्याम शर्मा एवं संदीप शर्मा ने बताया यहां अतिप्राचीन मोती मार्बल की राधा कृष्णजी की मूर्ति स्थापित है। 23 अगस्त को मंगलारती सुबह 7.30 बजे तथा संध्या को भव्य तुलसी शृंगार दर्शन व आरती 7.30 बजे होगी। जन्म आरती रात 12 बजे व झूले में बाल गोपाल के दर्शन बाद प्रसाद वितरण होगा। झूले के दर्शन दूसरे दिन दोपहर 12 बजे तक होंगे।

Show More

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned