scriptMahakal's royal ride on 22nd, estimated arrival of four lakh devotees | महाकाल की शाही सवारी 22 को, चार लाख श्रद्धालुओं के आने का अनुमान | Patrika News

महाकाल की शाही सवारी 22 को, चार लाख श्रद्धालुओं के आने का अनुमान

05 एएसपी, 15 डीएसपी सहित 2000 का फोर्स रहेगा, 19 प्रेशर पाइंट जहां बढ़ सकती है भीड़, जोरों पर चल रहीं तैयारियां, दोपहर 2 बजे से क्रम लगना होंगे शुरू, मंडली सदस्य रहेंगे, सभी को आइडी लगाना अनिवार्य होगा

उज्जैन

Updated: August 20, 2022 01:18:45 am

उज्जैन. बाबा महाकाल की शाही सवारी 22 अगस्त को निकाली जाएगी। इसके लिए व्यापक स्तर पर तैयारियों व बैठकों का दौर चल रहा है। हाल ही में एडीएम संतोष टैगोर ने भजन मंडलियों के सदस्यों से चर्चा की और निर्णय लिया कि शाही सवारी में कुल 70 मंडलियां शामिल होंगी। दोपहर 2 बजे बाद क्रम लगना शुरू होंगे। मंडलियों में सदस्य संख्या कुल 50 रहेगी, सभी को आइडी लगाना अनिवार्य होगी। डीजे प्रतिबंधित रहेगा। भगवान महाकाल की शाही सवारी सोमवार को शाम 4 बजे ठाठ के साथ निकाली जाएगी। इस बार मार्ग लंबा रहेगा, जिससे सवारी 6 घंटे बाद वापस मंदिर पहुंचेगी। इस बार पालकी में चंद्रमौलेश्वर तो हाथी पर मनमहेश रहेंगे। सप्तधान्य का मुघौटा छठे क्रम में शामिल होगा।
शाही सवारी में ये रहेगी व्यवस्था
मार्ग के चारों तरफ बैरिकेङ्क्षडग रहेगी। यातायात व्यवस्था बदलेगी
बड़े वाहन, डीजे और प्रमुख मुघौटों को छोड$कर अन्य मुघौटों को शामिल नहीं होने दिया जाएगा।
सवारी के दौरान बैंडबाजे वाले राजनीतिक या आपत्तिजन भजन तथा गीत नहीं गाएंगे।
दोपहर 2 बजे बाद आने वाले मंडलों को प्रवेश नहीं दिया जाएगा।
6 घंटे में लगभग 7 किमी का रास्ता तय करेगी शाही सवारी।
महाकाल की शाही सवारी 22 को, चार लाख श्रद्धालुओं के आने का अनुमान
महाकाल की शाही सवारी 22 को, चार लाख श्रद्धालुओं के आने का अनुमान
10 बजे तक पालकी मंदिर पहुंचाने का लक्ष्य
महाकाल की शाही सवारी के लिए पुलिस प्रशासन ने तैयारियां शुरू कर दी। अनुमान है कि इस बार शाही सवारी में 4 लाख श्रद्धालु पहुंच सकते हैं। शाही सवारी का मार्ग इस बार 7 किलो मीटर का रहेगा। जिसमें पुलिस ने भीड़ प्रबंधन के लिए 19 प्रेशर पाइंट चिन्हित किए हैं। यहां विशेष नजर रख भीड़ बढऩे पर श्रद्धालुओं की संख्या कम कराई जाएगी। इसके अलावा शहर में 2000 पुलिस कर्मियों का फोर्स रहेगा, इनमें 700 से ज्यादा अन्य जिलों से भेजा अतिरिक्त फोर्स रहेगा। सभी की मॉनिटरिंग एसएसपी सत्येन्द्र कुमार शुक्ल सहित 5 एएसपी और 15 डीएसपी करेंगे। गुरुवार को एसएसपी ने भजन मण्डलियों के साथ भी बैठक ले उनकी प्रत्येक मण्डली से 5-5 वॉलिटिंयर्स शामिल करने को कहा है जो सवारी में सुरक्षा व्यवस्था भी देखेंगे। एसएसपी सत्येन्द्र कुमार शुक्ल ने बताया कि नागपंचमी पर शहर में 5 लाख श्रद्धालुओं को दर्शन कराए गए थे, अनुमान है कि शाही सवारी के लिए 4 लाख श्रद्धालु पहुंचेंगे। इनकी व्यवस्था के लिए 2000 पुलिस कर्मियों का फोर्स लगाया है। इसके अलावा पालकी पर नारियल चढ़ाने, पैसे फेंकने पर प्रतिबंध रहेगा। पालकी को रात 10 बजे मंदिर में प्रवेश कराने का बड़ा लक्ष्य है। भीड़ प्रबंधन के लिए पालकी मार्ग पर 19 से ज्यादा प्रेशर पांइट चिन्हित किए हैं जहां भीड़ बढ़ सकती है। ऐसे स्थानों पर अतिरिक्त फोर्स विशेष नजर रखेगी और भीड़ बढऩे पर श्रद्धालु संख्या कम करवाई जाएगी।
शाही सवारी में रहेंगे इमरजेंसी एग्जिट गेट
बाबा महाकाल की शाही सवारी को लेकर प्रशासन सुरक्षा इंतजामों की पुख्ता तैयारी कर रहा है। सवारी में मार्ग में पहली बार इमरजेंसी एक्जिट गेट बनाए जा रहे हैं, ताकि किसी भी अप्रिय स्थिति के दौरान लोगों का निकाला जा सके। वहीं सवारी के साथ व अन्य स्थानों पर एंबुलेंस भी तैनात की जाएगी। इसके अलावा महिला शौचालय, प्रेशर पाइंट वाले क्षेत्रों बैरिकेडिंग पर विशेष ध्यान दिया जाएगा। एडीएम संतोष टैगोर ने बताया कि शाही सवारी में पूर्व की भांति सारी व्यवस्थाओं के साथ सुरक्षा पहलुओं पर विशेष ध्यान दिया जा रहा है। अफसरों ने प्लान तैयार किया है। रात 10 बजे तक सवारी फिर मंदिर में पहुंचाने के लिए पालकी को कहीं भी रोका नहीं जाएगा। इसलिए आगे चल रही भजन मंडलियों को कहीं भी रुकने नहीं देंगे। भीड़ प्रबंधन के लिए पुलिस ने 19 प्रेशर पाइंट बनाए हैं।
इतना फोर्स रहेगा तैनात-5 एएसपी, 15 डीएसपी, 50 सब इंस्पेक्टर, 7 विशेष सशस्त्र बल कंपनी, 93 प्रशिुक्षित आरक्षक, 283 पीटीसी इन्दौर, 80 ट्रैफिक, 184 विभिन्न जिलों से जिला बल, 300 चौकीदार, 50 एनसीसी और 300 भजन मण्डलियों के वॉलिंटर सहित 2000 पुलिस कर्मी व्यवस्था संभालेंगे।
डीजे और 18 साल पुराना वाहन नहीं रहेगा शामिल
एसएसपी ने गुरुवार को भजन मण्डलियों के साथ बैठक कर डीजे के अलावा 18 साल पुराने वाहन को सवारी में प्रतिबंधित किया है। भजन मण्डलियों को पांच पांच वालिटिंयर्स उपलब्ध करवाना होंगे जो सवारी में पुलिस के साथ सुरक्षा व्यवस्था भी देखेंगे।

सबसे लोकप्रिय

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

Weather Update: राजस्थान में बारिश को लेकर मौसम विभाग का आया लेटेस्ट अपडेट, पढ़ें खबरTata Blackbird मचाएगी बाजार में धूम! एडवांस फीचर्स के चलते Creta को मिलेगी बड़ी टक्करजयपुर के करीब गांव में सात दिन से सो भी नहीं पा रहे ग्रामीण, रात भर जागकर दे रहे पहरासातवीं के छात्रों ने चिट्ठी में लिखा अपना दुःख, प्रिंसिपल से कहा लड़कियां class में करती हैं ऐसी हरकतेंनए रंग में पेश हुई Maruti की ये 28Km माइलेज़ देने वाली SUV, अगले महीने भारत में होगी लॉन्चGanesh Chaturthi 2022: गणेश चतुर्थी पर गणपति जी की मूर्ति स्थापना का सबसे शुभ मुहूर्त यहां देखेंJaipur में सनकी आशिक ने कर दी बड़ी वारदात, लड़की थाने पहुंची और सुनाई हैरान करने वाली कहानीOptical Illusion: उल्लुओं के बीच में छुपी है एक बिल्ली, आपकी नजर है तेज तो 20 सेकंड में ढूंढकर दिखाये

बड़ी खबरें

जम्मू-कश्मीर: पिछले 8 घंटे में उधमपुर में 2 संदिग्ध धमाका, आतंकी साजिश की आशंका, जांच जारीNew CDS: रिटायर्ड ले. जनरल अनिल चौहान को मिली CDS की कमान, अजीत डोभाल के करीबी और आतंकवाद पर लगाम लगाने में हैं माहिरहाई कोर्ट बार एसोसिएशन के चुनाव आज, इन दिग्गजों में होगी टक्करमहंगी हुई मिठाइयां, कीमतों में 5 प्रतिशत की तेजीसरकारी कर्मचारियों का गहलोत सरकार ने बढ़ाया डीए, दिवाली से पहले बड़ा तोहफापद्मश्री राम सुतार बनाएगें अयोध्या में लगाने वाली विश्व की सबसे ऊंची श्री राम की मूर्ति.....जाने कब होगा स्थापितबारिश से जर्जर मकान, ले डूबा चार मासूमों की जानपूरा होगा वाहन का सपना, छूट के साथ मिल रहे उपहार
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.