scriptMahakal Temple: The system will change with the arrival of Omicron vi | महाकाल मंदिर : ओमीक्रॉन के आने से बदल जाएगी व्यवस्था | Patrika News

महाकाल मंदिर : ओमीक्रॉन के आने से बदल जाएगी व्यवस्था

बिना मास्क पहने प्रवेश पर रोक, दोनों डोज भी अनिवार्य

उज्जैन

Published: December 03, 2021 08:37:20 pm

उज्जैन. राजाधिराज भगवान महाकाल के दरबार में आम और खास सभी दर्शनार्थियों को 6 दिसंबर से मंदिर के गर्भगृह और नंदी हॉल में प्रवेश दिए जाने पर अब दोबारा से विचार किया जा सकता है। पिछले दिनों हुई प्रबंध समिति की बैठक में इसकी छूट देने की बात कही गई थी, लेकिन अब इसे पूरा होने में संशय की स्थिति बन रही है, क्योंकि कोरोना के नए वेरिएंट ने सभी को परेशानी में डाल दिया है।

mahakal_mandir_ujjain_1.png

हालांकि इसी के चलते मंदिर प्रबंधन ने श्रद्धालुओं को बिना मास्क और दोनों डोज का प्रमाण दिखाए बिना प्रवेश पर रोक लगा दी है। ओमीक्रॉन अब 33 देशों में पहुंच चुका है साथ ही भारत के भी कई राज्यों में इसने दस्तक दे दी है। छह दिसंबर से गर्भ गृह ओर नंदी हॉल में एंट्री की स्थिति अभी अस्पष्ट है। कोरोना के खतरे को देखते हुए गर्भगृह और नंदी हॉल में श्रद्धालुओं के प्रवेश को लेकर दोबारा मंथन किया जाएगा।

Must See: ओमीक्रॉन की भारत में दस्तक, यहां टेस्ट करने टेक्नीशियन की कमी

इंदौर-भोपाल में मिल रहे कोरोना मरीज
कोरोना महामारी रूप बदलकर फिर सामने आ खड़ी है। इंदौर-भोपाल में मामले सामने आए हैं, इसे रोकने के लिए प्रशासन द्वारा तैयारी शुरू कर दी है। हाल ही में क्राइसेस कमेटी की भी टीम द्वारा अस्पतालों की व्यवस्था को देखा गया। ऐसे में महाकाल मंदिर, जहां हर समय श्रद्धालुओं की भीड़ बनी रहती है, उन्हें सुरक्षित रखने तथा 6 दिसंबर से गर्भगृह और नंदी हॉल में प्रवेश देने के निर्णय पर किस प्रकार से अमल किया जाएगा, इस पर एक-दो दिन में पुन: मंथन किया जाएगा। प्रशासक गणेश कुमार धाकड़ के अवकाश से लौटने पर जल्द ही फिर से इस पर विचार किया जाना है।

Must See: दिग्विजय के गढ़ में सिंधिया की सेंधमारी

बिना जांच-पड़ताल प्रवेश नहीं
सहायक प्रशासनिक अधिकारी मूलचंद जूनवाल ने बताया कि महाकाल मंदिर में कोरोना काल में जो व्यवस्थाएं की गई थीं, उन्हें फिर से शुरू कर दिया गया है। प्रवेश द्वार पर सभी को सैनिटाइज किया जाता है, इसके बाद मास्क लगाना अनिवार्य कर दिया गया है। साथ ही वैक्सीन के दोनों डोज लगे हैं या नहीं इसकी पुष्टि की जाती है। मंदिर परिसर में श्रद्धालुओं द्वारा सेल्फी ली जाती है और अनावश्यक रूप से लंबे समय तक बैठने से रोका भी जा रहा है। परिसर के विभिन्‍न मंदिरों में बैठने वालों से भी कहा गया है कि वे दर्शनार्थियों की अधिक भीड़ न करें और दर्शन के बाद शीघ्र जाने को कहें।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

बड़ी खबरें

श्योक नदी में गिरा सेना का वाहन, 26 सैनिकों में से 7 की मौतआय से अधिक संपत्ति मामले में हरियाणा के पूर्व CM ओमप्रकाश चौटाला को 4 साल की जेल, 50 लाख रुपए जुर्माना31 मई को सत्ता के 8 साल पूरा होने पर पीएम मोदी शिमला में करेंगे रोड शो, किसानों को करेंगे संबोधितपूर्व विधायक पीसी जार्ज को बड़ी राहत, हेट स्पीच के मामले में केरल हाईकोर्ट ने इस शर्त पर दी जमानतआजम खान को सुप्रीम कोर्ट से फिर बड़ी राहत, जौहर यूनिवर्सिटी पर नहीं चलेगा बुलडोजरRenault Kiger: फैमिली के लिए बेस्ट है ये किफायती सब-कॉम्पैक्ट SUV, कम दाम में बेहतर सेफ़्टी और महज 40 पैसे/Km का मेंटनेंस खर्चMumbai Drugs Case: क्रूज ड्रग्स केस में शाहरुख खान के बेटे आर्यन खान को NCB से क्लीन चिटमनी लान्ड्रिंग मामले में फारूक अब्दुल्ला को ED ने भेजा समन, 31 मई को दिल्ली में होगी पूछताछ
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.