महाकाल मंदिर में नकली नोट चला रहा था..ये हुआ अंजाम

न्यायायाल ने महाकाल मंदिर क्षेत्र में दो हजार का नकली नोट चलाने वाले युवक को पांच वर्ष की सजा सुनाई

उज्जैन. महाकाल मंदिर क्षेत्र में सावन के महीने में नकली नोट चलाने वाले राम सिसौदिया उर्फ सनोरिया पिता गोविन्द निवासी गंगानगर मरझोर मंगली पेठ सिवनी को न्यायालय ने अलग-अलग धाराओं में पांच वर्ष की कैद व ८०० रुपए के अर्थदंड की सजा सुनाई है।
उपसंचालक डॉ साकेत व्यास ने बताया कि ४ अगस्त २०१८ को महाकाल पुलिस ने सूचना दी कि एक व्यक्ति महाकाल रोड पर दो-दो हजार रुपए के नकली नोट चलाने की कोशिश कर रहा है। मौके पर पहुंची पुलिस ने एक बाल अपचारी को पकड़ा। तलाशी लेने पर उसके पास से दो-दो हजार के दो नकली नोट एवं पांच-पांच सौ के छ: नकली नोट कुल 7,400 रुपए मिले। जब उससे पूछताछ की तो उसने अपने साथी राम का नाम बताया। बाद में पुलिस ने आरोपी राम को रेलवे स्टेशन के पास से पकड़ा। उसके पास से प्रिंटर मशीन, फोटोकॉपी मशीन सहित २.१० लाख के नकली नोट मिले। महाकाल पुलिस द्वारा अभियोग पत्र प्रस्तुत करने के बाद आरोपी राम को सजा सुनाई गई। शासन की ओर से पैरवी एजीपी मनीष गोयल द्वारा की गई।

सुरक्षा एजेंसी चलाने वाले युवक ने की आत्महत्या
उज्जैन. सुरक्षाकर्मियों की एजेंसी चलाने वाले हामूखेड़ी निवासी हरवरसिंह भदौरिया ने गले में फंदा लगाकर आत्महत्या कर ली। नागझिरी पुलिस ने बताया कि रविवार रात वह घर के पशु बाड़े में गया और फंदा लगा लिया। सुबह उसकी मां रतनाबाई बाड़े में पहुंची तो हरवरसिंह को फंदे पर लटका देखा। महिला की चीख पुकार सुनकर आसपास के रहवासी एकत्र हो गए। बाद में पुलिस को सूचना दी। पुलिस ने युवक के शव को जिला अस्पताल पोस्टमार्टम के लिए पहुंचाया। हालांकि युवक के आत्महत्या के कारणों का खुलासा नहीं हो पाया है।

कुएं में गिरने से युवक की मौत
उज्जैन। बकरी चराने गए ग्राम अहीरखेड़ी निवासी अर्जुन पिता चंदरसिंह की रविवार को कुएं में गिरने से मौत हो गई। उसकी मौत की जानकारी तब लगी, जब बकरियां घर पहुंच गई और वह नहीं आया। इस पर परिजन उसे तलाशने जंगल में पहुंचे। यहां कुएं में उसका शव मिला। भैरवगढ़ पुलिस ने प्रकरण दर्ज किया है।

जितेंद्र सिंह चौहान Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned