एटीएम में पैसा मौजूद, बिगड़ा नोटों का तालमेल, दो हजार का नोट गायब...

Lalit Saxena

Publish: Apr, 17 2018 05:32:01 PM (IST)

Ujjain, Madhya Pradesh, India
एटीएम में पैसा मौजूद, बिगड़ा नोटों का तालमेल, दो हजार का नोट गायब...

कई दिनों से कैश संकट से जूझ रहे एटीएम अब फुल, कहीं ५००, तो कहीं 100 के ही मिल रहे हैं नोट

उज्जैन. शहर के एटीएम में कैश आने से ग्राहकों को राहत मिली है, लेकिन एटीएम में नोटों का तालमेल बिगड़ चुका है। एटीएम मशीन ग्राहक को दो हजार रुपए निकालने पर सौ, पांच सौ के नोट देती है। दो हजार से अधिक निकलने पर दो हजार का नोट मिलता है, लेकिन अब ऐसा नहीं हो रहा।

दो हजार के बदले मिल रहे 500 के नोट
शहर के कई एटीएम में कहीं सौ और कहीं पांच सौ के नोट ही मौजूद हैं। वहीं एटीम से 2 दो हजार के नोट पूरी तरह से नदारद हैं। दो हजार से ज्यादा कैश निकालने वालों को एटीम पांच सो रुपए में ही के नोटों में पेमेंट कर रहा है। पत्रिका ने मंगलवार को शहर के एटीएम की स्थिति को खंगाला। तो बड़े नोटों की कमी की बात सामने आई। फ्रीगंज, देवास रोड, सांवेर रोड, कोठी रोड, देवास गेट सहित अन्य जगह के एटीएम की हालत एक जैसी थी। यूको बैंक, बीओआई, एसबीआई, एचडीएफसी लगभग सभी जगह में नोट का तालमेल नहीं है। हालांकि एसबीआई के देवास रोड और फ्रीगंज के एटीएम 2 हजार के नोट भी देखने को मिले।

ये स्थिति रही एटीएम की
एसबीआई मुनी नगर - दो हजार नहीं।
बीओआई तरण ताल - सिर्फ 500
यूको विवि केम्पस - 500
एचडीएफसी फ्रीगंज - सिर्फ 100

सरकार ही चुनाव के कारण कर रही पैसे की जमाखोरी
आम आदमी पार्टी के प्रदेश संयोजक आलोक अग्रवाल पहुंचे उज्जैन, कांग्रेस और बीजेपी को घेरा, दो हजार रुपए के नोट की कमी, एटीम में पैसे नहीं हैं। आम आदमी पार्टी के प्रदेश संयोजक आलोक अग्रवाल मंगलवार सुबह उज्जैन पहुंचे। यहां उन्होंने पार्टी के संभागीय कार्यालय और आगामी विधानसभा चुनाव के बाहर रूम का उद्घाटन किया। इस अवसर पर आलोक अग्रवाल ने कहा कि पार्टी आगामी विधानसभा चुनाव में 230 सीट्स पर चुनाव लड़ेगी। पार्टी की तरफ से विधानसभा वार उम्मीदवारों के आवेदन आमंत्रित किए गए हैं। प्रदेशभर से करीब 1000 लोगों ने चुनाव लडऩे की इच्छा जताई है पार्टी स्वच्छ छवि वाले योग्य लोगों का चुनाव कर मई तक पहली सूची जारी कर देगी।

प्रदेश के एटीएम में नोटों की कमी

प्रदेश के एटीएम में नोटों की कमी पर आलोक अग्रवाल का कहना है कि यह सब कांग्रेस और बीजेपी के नेता कर रहे हैं। वह चुनाव के लिए पैसे की जमाखोरी कर रहे हैं। साथ ही नाटक कर रहे हैं ताकि जनता को गुमराह किया जा सके। इसी के साथ उन्होंने कांग्रेस और बीजेपी को जमकर घेरा। उन्होंने संत समाज को राज्यमंत्री का दर्जा देने पर मुख्यमंत्री पर गंभीर आरोप लगाए। उन्होंने मंत्री बनने वाले संतों को ढोंगी करार दिया और मुख्यमंत्री को ढोंगी संतों से डरने वाला बताया।

डाउनलोड करें पत्रिका मोबाइल Android App: https://goo.gl/jVBuzO | iOS App : https://goo.gl/Fh6jyB

1
Ad Block is Banned