Video>>तेज बारिश में भी नहीं रुका सैलाब, दोपहर 1 बजे तक 80 हजार ने किए दर्शन

   Video>>तेज बारिश में भी नहीं रुका सैलाब, दोपहर 1 बजे तक 80 हजार ने किए दर्शन
naag panchme: naag chandreshwar darshan at mahakal temple ujjan

नागपंचमी पर वर्ष में एक बार 24 घंटे के लिए खुलने वाले अनूठे मंदिर के पट गुरुवार-शुक्रवार दरमियानी रात 12 बजे खोले गए। महानिर्वाणी अखाड़े के महंत प्रकाश पुरी महाराज व अन्य सदस्यों ने प्रथम पूजा आरती संपन्न की।

उज्जैन. नागपंचमी पर वर्ष में एक बार 24 घंटे के लिए खुलने वाले अनूठे मंदिर के पट गुरुवार-शुक्रवार दरमियानी रात 12 बजे खोले गए। महानिर्वाणी अखाड़े के महंत प्रकाश पुरी महाराज व अन्य सदस्यों ने प्रथम पूजा आरती संपन्न की। इसके बाद रात करीब 1 बजे से आम दर्शनार्थियों के लिए मंदिर खोल दिया गया। 





रात 9 बजे से लगी कतार
रात 9 बजे से ही दर्शनार्थियों की कतारें लगना शुरू हो गई थीं। कभी रिमझिम तो कभी ठंडी हवा के झौंकों के बीच जय महाकाल और हर-हर महादेव के जयकारे गूंज रहे थे। पुलिस और प्रशासनिक अधिकारियों ने गुरुवार शाम से ही मोर्चा संभाल लिया था। मजबूत सुरक्षा व्यवस्था की गई तथा वाहनों की आवाजाही पर ब्रेक लगा रहा। 




naag panchme: naag chandreshwar darshan at mahakal

मंदिर के बाहर बिगड़ती रही स्थिति
मंदिर के बाहर दर्शन की लाइन में लगे लोगों ने धक्का-मुक्की शुरू कर दी, जिससे महिलाएं, बच्चे दबने लगे। पुलिस ने ताबड़तोड़ मोर्चा संभाला और स्थिति पर काबू पाया। रात में ही दर्शनार्थियों की कतार चारधाम मंदिर तक पहुंच गई थी। बारिश होने के बावजूद आस्थावान भक्तों का सैलाब उमड़ता रहा। 




चारों तरफ की बैरिकेडिंग
मंदिर के समीप वाहन पार्किंग स्थल बनाए गए हैं। इधर, मंदिर परिसर के चारों तरफ लोहे की बैरिकेडिंग की गई। शुक्रवार को नागपंचमी पर श्रद्धालुओं का हुजूम उमड़ रहा है। सुरक्षा व्यवस्था मजबूत की गई है। करीब 500 पुलिस जवान और 250 प्रशासनिक अधिकारी सहित अस्पताल के डॉक्टर्स और नर्सों की ड्यूटी लगाई गई है।

वीवीआईपी पास से 23 लाख की आय
रात 12 बजे से लेकर शुक्रवार दोपहर 12 बजे तक विशेष दर्शन पास के माध्यम से 9 हजार 200 श्रद्धालुओं ने नागचंद्रेश्वर के दर्शन किए। इससे मंदिर प्रबंध समिति को 23 लाख रुपए की आय हो चुकी थी। 




दोपहर 12 बजे शासकीय पूजा
दोपहर 12 बजे नागचंद्रेश्वर मंदिर के गर्भगृह में शासकीय पूजा संपन्न हुई। महानिर्वाणी अखाड़े के महंत प्रकाशपुरी महाराज ने अभिषेक किया। इसमें ऊर्जा मंत्री पारस जैन, कलेक्टर संकेत भोंडवे, एसपी सचिन अतुलकर, यूडीए अध्यक्ष जगदीश अग्रवाल आदि ने पूजा संपन्न की। 

कतार में 10 हजार लोग
नागपंचमी पर वर्ष में केवल 24 घंटे के लिए खुले नागचंद्रेश्वर के पट। दर्शन की कतार हरसिद्धि मंदिर तक पहुंच गई थी। इसमें करीब 10 हजार लोग तेज बारिश के बावजूद डटे रहे। 

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned