नागदा में सवा घंटे रोकी पंजाब मेल, स्टेशन अधीक्षक के कक्ष में घुसे यात्री

नागदा में सवा घंटे रोकी पंजाब मेल, स्टेशन अधीक्षक के कक्ष में घुसे यात्री
train

Ujjain Online | Updated: 22 Jun 2015, 05:52:00 PM (IST) Ujjain, Madhya Pradesh, India

यात्रियों ने की छह बार से अधिक चेन पुलिंग, पंजाब मेल का रूट डायवर्ट यात्रियों का हंगामा

नागदा
इटारसी में कैबिन जलने की घटना के बाद डायवर्ट की गई मुंबई-फिरोजपुर पंजाब मेल के यात्रियों ने रविवार शाम 7.15 बजे स्टेशन पर जमकर हंगामा किया। इसके चलते ट्रेन सवा घंटे से अधिक समय खड़ी रही। हंगामा कर रहे यात्री स्टेशन अधीक्षक के कक्ष में घुस गए और ट्रेन को वाया भोपाल-इटारसी रूट से भेजने की मांग की। इस दौरान एक कैंसर यात्री परेशान होता रहा। आक्रोशित यात्रियों ने जब भी ट्रेन चली, उन्होंने चेन पुलिंग कर दी। इसके कारण कई ट्रेन लेट हुई।
इसलिए विरोध
पंजाब मेल को रविवार को नागदा से निकाला गया। ट्रेन जब नागदा से रवाना होने लगी तो यात्री चेन पुलिंग कर हंगामा करने लगे। इटारसी में कैबिन जलने के कारण ट्रेन को कोटा-मथुरा रूट से निकाला जा रहा था, जबकि यात्रियों की मांग थी कि ट्रेन को भोपाल, इटारसी होते हुए रवाना किया जाए।
यहां के थे यात्री
पंजाब मेल मुंबई से नासिक, इटारसी, झांसी, विदिशा, भोपाल, होशंगाबाद, ललितपुर, कानपुर होते हुए फिरोजपुर पहुंचती है। लेकिन इटारसी की घटना के बाद ट्रेन को सूरत, वडोदरा, गोधरा, दाहोद, रतलाम, नागदा, कोटा, मथुरा, दिल्ली होते हुए फिरोजपुर रवाना किया जा रहा है। इस कारण ट्रेन में बैठे भोपाल, होशंगाबाद, ललितपुर, झांसी, विदिशा के यात्रियों ने हंगामा कर दिया। इनका कहना था कि वे किस रूट से घर जाएंगे।  
दिया था आश्वासन
यात्रियों का कहना था कि मुंबई स्टेशन पर कुछ लोगों ने ये कहा था कि ट्रेन नागदा-उज्जैन होते हुए भोपाल जाएगी, लेकिन नागदा पहुंचने पर पता चला कि ट्रेन कोटा रूट से जा रही है।
अन्य ट्रेन भी प्रभावित
हंगामे के कारण अन्य ट्रेन आउटर पर खड़ी रहीं। दाहोद-मेमू ट्रेन का नागदा पहुंचने का समय रात 8 बजे का है। ये ट्रेन प्लेटफॉर्म नं. 1 पर आती है, लेकिन पंजाब मेल के कारण इसे आउटर पर रोकना पड़ा। मथुरा-लोकल भी जंगल में खड़ी रही। इंदौर-निजामुद्दीन प्लेटफार्म नं 2 व जोधपुर-इंदौर 3 पर खड़ी थी। हंगामे के कारण ये भी लेट हुईं।
रोगी हुआ परेशान  
ट्रेन की लेटलतीफी से एक कैंसर रोगी परेशान होता रहा है। मुंबई से उपचार करा कर आ रहे भोपाल का रोगी स्टेशन पर परेशान होता रहा। रोगी बोलने में भी असमर्थ था। बाद में रोगी स्टेशन अधीक्षक बिरेंद्रराम के कक्ष द्वार पर बैठ गया।  
75  मिनट रुकी ट्रेन
ट्रेन नागदा स्टेशन पर प्लेटफॉर्म नं.1 पर शाम 7:17 बजे पहुंची। 2 मिनट बाद ट्रेन को सिगनल दिया, लेकिन यात्री चेन पुलिंग कर हंगामा करते रहे। लगभग 1 घंटा 15 मिनट बाद रात 8:35 बजे ट्रेन कोटा के लिए रवाना हुई।  

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned