scriptOmicron is not too dangerous, the decision of offline examination | ओमिक्रॉन ज्यादा घातक नहीं, कुलपति बोले-इसलिए लिया ऑफलाइन परीक्षा का फैसला | Patrika News

ओमिक्रॉन ज्यादा घातक नहीं, कुलपति बोले-इसलिए लिया ऑफलाइन परीक्षा का फैसला

ओमिक्रॉन पर रिसर्च एवं जानकारी में सामने आ रहा है कि यह ज्यादा घातक नहीं है, इसलिए परीक्षाएं ऑफलाइन कराने का फैसला किया है, संक्रमण से बचाव की पूरी व्यवस्था रहेगी।

उज्जैन

Published: January 23, 2022 04:36:05 pm

उज्जैन. देश-प्रदेश में बढ़ते कोरोना संक्रमितों के बीच सुरक्षा और बचाव पर हर महकमा फोकस कर रहा है। पाबंदियों के बीच विक्रम विश्वविद्यालय ऑफलाइन परीक्षाएं कराएगा। उज्जैन संभाग के सभी प्रमुख जिलों में इसी विश्वविद्यालय से संबंधित प्रमुख शासकीय एवं अन्य महाविद्यालय हैं। परीक्षाओं को लेकर अब भी असमंजस बना हुआ है, ऐसे में पत्रिका ने विद्यार्थियों के मन की आशंका को थामने विश्वविद्यालय के कुलपति प्रोफसर अखिलेशकुमार पांडेय से खास बातचीत की।

omicron:जो पहले संक्रमित हुए, उन्हें ज्यादा इफैक्ट करेगा
omicron:जो पहले संक्रमित हुए, उन्हें ज्यादा इफैक्ट करेगा


ओमिक्रॉन ज्यादा घातक नहीं है
उन्होंने साफ किया कि ओमिक्रॉन पर रिसर्च एवं जानकारी में सामने आ रहा है कि यह ज्यादा घातक नहीं है, इसलिए परीक्षाएं ऑफलाइन कराने का फैसला किया है, संक्रमण से बचाव की पूरी व्यवस्था रहेगी। साथ ही यह भी तय किया गया है कि परीक्षा में वे ही विद्यार्थी शामिल हो सकेंगे, जिनको कोरोनारोधी टीका की दोनों ही डोज लग चुकी है व उनको वर्तमान में संक्रमण भी नहीं है।

पत्रिका- इस शैक्षणिक सत्र में आरंभ किए गए नए कोर्स से कितनी उम्मीद थी और क्या परिणाम मिला।

कुलपति: हमने इस वर्ष करीब 152 कोर्स शुरू किए हैं। हर कोर्स में कुछ न कुछ बच्चों ने एडमिशन लिया है। कुछ ऐसे कोर्स हैं, जिन्हें हम पापुलर नहीं कर पाए। नए सत्र में उनसे उम्मीद है, लेकिन कुछ कोर्स बहुत अच्छे रहे, जैसे कृषि । इसमें सभी सीटें फुल हो गई। जबकि फारेंसिक साइंस, फूड टेक्नोलॉजी जैसे कोर्स में अच्छे एडमिशन हुए हैं।

पत्रिका- कितने कोर्स ऐसे हैं, जिनमें विद्यार्थियों का प्रवेश कम रहा।

कुलपति- नए पाठ्यक्रम में फॉरेस्ट्री और हॉर्टिकल्चर में अच्छे एडमिशन नहीं मिल सके। बच्चों की ज्यादा रूची एग्रीकल्चर में है। पुलिस साइंस कोर्स भी लोगों को ज्यादा समझ नहीं आया। कोर्स लांच करने में भी हमे देरी हुई लेकिन अगने सत्र में अच्छे एडमिशन की उम्मीद है।

पत्रिका-कोरोना के नए वैरिएंट ओमिक्रॉन में भी ऑफलाइन परीक्षा का फैसला क्यों।
कुलपति- परीक्षा बच्चों के कॅरियर से जुड़ा महत्वपूर्ण विषय है। ओमिक्रॉन का उतना इंपेक्ट नहीं है, जितना कोविड-19 का था। ओपन बुक और ऑनलाइन में हमारे पास इतनी व्यवस्था नहीं है, जो ग्रामीण क्षेत्र के विद्यार्थी हैं उनका भी ध्यान रखना जरूरी है।

पत्रिका- ऑफलाइन परीक्षा के दौरान संभावित संक्रमण से निपटने की क्या तैयारी है।

कुलपति- हमारी सबसे पहली प्राथमिकता में वैक्सिनेशन है। जिन बच्चों ने दोनों डोज लगवा लिए हैं, परीक्षा हॉल में उन्हें ही प्रवेश दिया जाएगा। इसके अलावा यदि कोई बच्चा पॉजिटिव आता है तो उसकी परीक्षा दोबारा ली जाएगी, इस संबंध में परीक्षा गाइडलाइन तैयार हो गई है।

यह भी पढ़ें : ओमिक्रॉन हो चाहे कोरोना लक्षण नजर आते ही खाना शुरू करें यह चीजें

पत्रिका- कोरोनाकाल का लगातार हर क्षेत्र पर प्रभाव हो रहा है, उच्च शिक्षा में कैसे हालात है।

कुलपति: इस दौरान नए कोर्सेस में जिस तरह की उम्मीद थी, उस अनुसार परिणाम नहीं आ पाए हैं. प्रवेश की संख्या कुछ नए कोर्स में तो अच्छी रही तो कुछ में अपेक्षा अनुसार प्रवेश नहीं हुए है। कोरोनाकाल ने समूची दुनिया को प्रभावित किया है तो निश्चित ही उसका असर उच्च शिक्षा क्षेत्र पर भी हो रहा है।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

बड़ी खबरें

सीएम Yogi का बड़ा ऐलान, हर परिवार के एक सदस्य को मिलेगी सरकारी नौकरीचंडीमंदिर वेस्टर्न कमांड लाए गए श्योक नदी हादसे में बचे 19 सैनिकआय से अधिक संपत्ति मामले में हरियाणा के पूर्व CM ओमप्रकाश चौटाला को 4 साल की जेल, 50 लाख रुपए जुर्माना31 मई को सत्ता के 8 साल पूरा होने पर पीएम मोदी शिमला में करेंगे रोड शो, किसानों को करेंगे संबोधितराहुल गांधी ने बीजेपी पर साधा निशाना, कहा - 'नेहरू ने लोकतंत्र की जड़ों को किया मजबूत, 8 वर्षों में भाजपा ने किया कमजोर'Renault Kiger: फैमिली के लिए बेस्ट है ये किफायती सब-कॉम्पैक्ट SUV, कम दाम में बेहतर सेफ़्टी और महज 40 पैसे/Km का मेंटनेंस खर्चIPL 2022, RR vs RCB Qualifier 2: राजस्थान ने बैंगलोर को 7 विकेट से हराया, दूसरी बार IPL फाइनल में बनाई जगहपूर्व विधायक पीसी जार्ज को बड़ी राहत, हेट स्पीच के मामले में केरल हाईकोर्ट ने इस शर्त पर दी जमानत
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.