चीलर डैम फुल होने में केवल इतना फीट बचा

चीलर डैम फुल होने में केवल इतना फीट बचा

rajesh jarwal | Updated: 15 Aug 2019, 12:50:43 AM (IST) Ujjain, Ujjain, Madhya Pradesh, India

शाजापुर में 24 घंटें में शहर में 3 इंच से अधिक वर्षा दर्ज की जा चुकी है। बुधवार को हुई बारिश मिलाकर शहर में अब तक 40 इंच (1 हजार एमएम) बारिश हो चुकी है।

 

शाजापुर. पिछले तीन साल से शहरवासी चीलर बांध के छलकने की बाट जोह रहे हैं। शहरवासियों की यह उम्मीद अब पूरी होने की कगार पर है, क्योंकि लगातार बारिश के कारण न सिर्फ आसपास के तालाब, नदी-नाले ही नहीं बल्कि शहर का प्रमुख जलस्रोत भी अपनी क्षमता के 90 प्रतिशत तक भर चुका है। वहीं मौसम विभाग द्वारा जताई जा रही संभावनाओं के चलते बांध 23 फीट तक भर सकता है। पिछले 24 घंटें में शहर में 3 इंच से अधिक वर्षा दर्ज की जा चुकी है। बुधवार को हुई बारिश मिलाकर शहर में अब तक 40 इंच (1 हजार एमएम) बारिश हो चुकी है।

शहर में मंगलवार शाम करीब 5 बजे से शुरू हुई बारिश बुधवार को भी दिन भर जारी रही। कभी तेज तो कभी रिमझिम बारिश से 24 घंटे में 3 इंच से अधिक वर्षा दर्ज की गई और चीलर डैम का जल स्तर भी 24 घंटे में 18 फीट से बढ़कर 20.5 फीट तक पहुंच गया। लगातार बारिश से लोगों को गर्मी और उमस से भी राहत मिली। मौसम विभाग से मिली जानकारी के अनुसार बुधवार को शहर का अधिकतम तापमान 25.3 और न्यूनतम तापमान 23.0 दर्ज किया गया। मौसम पर्यवेक्षक सत्येंद्र धनोतिया ने बताया कि अभी 24 घंटे और बारिश की संभावना है।
होमगार्ड ने डैम पर किए सुरक्षा के इंतजाम

चीलर डैम पिछले तीन साल से पूरी तरह नहीं भर पा रहा था। हालांकि इस बार बारिश से चीलर डैम का जल स्तर भी बढऩे से इसका वेस्टवेयर चालू होने की संभावना नजर आ रही है। तीन साल बाद डैम के भरने की जानकारी मिलते ही बड़ी संख्या में शहरवासी डैम पर पहुंचने लगे हैं। बुधवार को ही बड़ी संख्या में शहरवासी डैम को निहारने के लिए पहुंचे। ऐसे में होमागार्ड ने यहां पर सुरक्षा के इंतजाम किए है। डैम की छतरी पर लोगों का जाना प्रतिबंधित करते हुए छतरी तक पहुंचने वाले मार्गपर कांटे वाली झाडिय़ां लगाई गई है।
पुलिया के ऊपर से बहने लगा पानी, कई जगह आवागमन हुआ बाधित

जहां एक तरफ बारिश से शहरवासियों का तीन साल का इंतजार पूरा होने जा रहा है। वहीं इस बारिश के कारण कई जगह लोगों को परेशानी का भी सामना करना पड़ रहा है। ग्राम करेड़ी स्थित जादमी पुलिया पर लखुंदर नदी के उफान पर आने से रास्ता बंद हो गया। वहीं लखुंदर नदी उफान पर आने के कारण दुपाड़ा रोड के समीप ग्राम रागबेल की पुलिया का मार्ग बंद हो गया।
शहर में दो कच्चे मकान ढहे

शहर में लगातार बारिश के कारण दो कच्चे मकान धराशायी हो गए। हालांकि इस हादसे में किसी प्रकार की जनहानि नहीं हुई। मीरकला क्षेत्र के समीप बोहरा बाखल में अब्बास अली कांचवाला का खाली पड़े कच्चे मकान का पिछला हिस्सा बारिश के कारण भरभराकर गिर गया। इसी मकान के समीप रहने वाले दीपमल पिता गौरीलाल पांचाल का कच्चा मकान भी धराशायी हो गया। जब ये हादसा हुआ उस समय दीपमल अपने घर में ही मौजूद था। जैसे ही घर में लगी लकडिय़ां गिरने लगी तो आसपास के लोगों ने तत्काल दीपमल को बाहर निकाल लिया। इसके कुछ देर बाद पूरा मकान धराशायी हो गया। घर गिरने से हुए नुकसान का आंकलन किया जा रहा है। सूचना मिलते ही नगर पालिका की टीम मौके पर पहुंची और राहत कार्य में जुट गई थी।
दीवार गिरने से एक वृद्धा घायल

जिले के सलसलाई क्षेत्र के समीप स्थित ग्राम बाड़ीगांव में बुधवार को बारिश के चलते एक दीवार गिर गई। दीवार गिरने से यहां रहने वाली दरियावबाई (60) पति कन्हैयालाल घायल हो गई। जिन्हें कमर व पैर में गंभीर चोट आई हैं। सूचना मिलने पर 108 एंबुलेंस से इएमटी जितेंद्र देवतवाल व पायलट राहुल एवले ने मौके पर पहुंचे और वृद्धा को प्राथमिक उपचार देते हुए जिला अस्पताल में लाकर भर्ती कराया।
चालू वर्षाकाल में अब तक 743.5 एमएम औसत वर्षा

जिले में चालू वर्षाकाल में अब तक 743.5 एमएम औसत वर्षा दर्ज हुई है। जबकि गत वर्ष इस अवधि में 473.1 एमएम वर्षा दर्ज हुई थी। चालू वर्षाकाल में अब तक सर्वाधिक वर्षा तहसील शाजापुर में 988 .3 एमएम हुई। इसी तरह मो. बड़ोदिया में 8 25 एमएम, शुजालपुर में 616 एमएम, कालापीपल में 6 21 एमएम एवं गुलाना में 6 6 7 एमएम वर्षा दर्ज हुई है। पिछले 24 घंटे में बुधवार सुबह 8 बजे तक तहसील शाजापुर में 54 एमएम, मो. बड़ोदिया में 55 एमएम, शुजालपुर में 5 एमएम, कालापीपल में 18 एमएम एवं गुलाना में 6 0 एमएम इस प्रकार कुल 38.4 एमएम औसत वर्षा हुई है।

 

 

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned