video - तीन तलाक बिल का खुला विरोध, हजारों मुस्लिम महिला उतरी सड़क पर

video - तीन तलाक बिल का खुला विरोध, हजारों मुस्लिम महिला उतरी सड़क पर

Gopal Bajpai | Publish: Feb, 15 2018 04:15:33 PM (IST) Ujjain, Madhya Pradesh, India

हाथ में हिंदी और उर्दू में तख्तियों से की बिल निरस्ती की मांग, तीन तलाक पर राष्ट्रपति के बयान का विरोध, तीन तलाक को बताया धर्म विरूद्ध

उज्जैन. मुस्लिम महिलाओं ने केंद्र सरकार के तीन तलाक बिल के उपहार का विरोध कर दिया है। गुरूवार दोहपर उज्जैन में हजारों की संख्या में मुस्लिम महिला सड़क पर उतरी और केंद्र सरकार के तीन तलाक बिल का विरोध किया। महिलाओं का कहना है कि शरीयत कानून ही उनकी इज्जत है। इसके खिलाफ किसी भी तरह के बिल की आवश्यकता नहीं है। उन्होंने सरकार से बिल वापस लेने की मांग की।
राष्ट्रपति के उपहार का विरोध
संसद में अपने अभिषाण के दौरान राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने तीन तलाक को मोदी सरकार की उपलब्धि बताया था। उन्होंने कहा कि तीन तलाक बिल संसद में पास हो जाएगा और मुस्लिम महिलाओं को नए साल का सरकार की तरफ से सबसे बड़ा उपहार होगा, लेकिन उज्जैन की मुस्लिम महिलाओं ने राष्ट्रपति के बयान का विरोध कर दिया है। उनका कहना है कि शरीयत के खिलाफ जाकर महिलाओं को मुस्लिम महिलाओं को इज्जत नहीं मिल सकती है।
शहर काजी से किया संबोधित
तीन तलाक बिल के खिलाफ महिला बेगमबाग रोड पर एकत्रित हो गई। यहां से हजारों की संख्या में मुस्लिम महिला हाथों में तख्तियां लेकर सभी ने कहा कि शरीयत कानून हमारी इज्जत है। लिखे संदेश लेकर निकली। इन पर हिंदी व उर्दू में नारों में राष्ट्रपति के बयान का विरोध था। इस दौरान महिलाओं को शहर काजी सहित मुस्लिम समाज की महिलाओं ने संबोधित किया।

भाजपा नेताओं की चिंता बढ़ी
तीन तलाक बिल को केंद्र सरकार के साथ भाजपा नेता अपनी बड़ी उपलब्धि बता रहे थे। इस बिल से महिला सुरक्षा जैसे दावों की बात की जा रही थी, लेकिन महिलाओं के बड़े स्तर पर बिल के विरोध में आने से भाजपा नेताओं की चिंता बढ़ गई है। उज्जैन शहर की ही एक हजार से ज्यादा महिला सड़क पर आ गई। मुस्लिम समाज की नाराजगी आगामी चुनाव में भाजपा को नुकसान कर सकती है।

MP/CG लाइव टीवी

Ad Block is Banned