इस नदी के दोनों छोर पर लोग फंसे रहे

इस नदी के दोनों छोर पर लोग फंसे रहे

rajesh jarwal | Publish: Aug, 08 2019 11:47:52 PM (IST) Ujjain, Ujjain, Madhya Pradesh, India

शाजापुर. नदी उफान पर आई, दोनों छोर से आवागमन रुका
पहली बार रपट पर पानी आया, अब तक बारिश का आंकड़ा 808 एमएम

शाजापुर. शहर में बुधवार के बाद गुरुवार को भी दिनभर रह-रहकर सावन के सेहरे बरसते रहे। दिनभर में शहर में ढाई इंच (67 एमएम) से ज्यादा पानी बरस गया। झमाझम बारिश से शहर के बीच से निकली चीलर नदी उफान पर आ गई। नदी में आए उफान से दोनों छोर का एक-दूसरे से संपर्क कट गया। लोग दोनों किनारों पर ही खड़े रह गए। दो फीट से ज्यादा पानी होने के कारण यहां से अवागमन पूरी तरह से बंद हो गया। इस सीजन में पहली बार इतना पानी रपट पर आया है।
भारी बारिश से शहर का जनजीवन अस्त-व्यस्त हो गया। झमाझम बारिश के कारण दिनभर लोगों को अलग-अलग जगह रुकना पड़ा। गुरुवार शाम 5 बजे तक हुई बारिश का आंकड़ा मिलाकर इस साल शहर में अब तक 808 एमएम (32 इंच से ज्यादा) तक पहुंच गया। झमाझम बारिश के कारण शहर के बस स्टैंड के आसपास पानी भर गया। वहीं बेरछा रोड सहित शहर के सोमवारिया बाजार, सब्जी मंडी आदि क्षेत्र में भी सड़कें जलमग्न हो गई। बेरछा रोड पर सड़क के किनारे कई दुकानों में भी एक से डेढ़ फीट तक पानी भर गया। लगातार बारिश के बाद भी उमस के कारण अधिकतम तापमान 28 डिग्री तक पहुंच गया। वहीं न्यूनतम तापमान 23.6 डिग्री दर्ज किया गया। मौसम पर्यवेक्षक सत्येंद्रकुमार धनोतिया ने बताया कि बारिश का दौर शुक्रवार को भी जारी रहने की संभावना है।
रपट पर बहने लगा था, लोगों ने बचा लिया
झमाझम बारिश के बाद उफान पर आई चीलर नदी महुपुरा रपट से तीव्र वेग से बह रही थी। उफनती नदी के बाद भी एक व्यक्ति ने बाइक से महुपुरा रपट को पार करने का प्रयास किया, लेकिन कुछ दूर चलने के बाद ही उसकी बाइक असंतुलित होकर रपट पर गिर गई। हालांकि किनारे पर खड़े लोगों ने तत्काल दौड़ लगाकर उसकी बाइक को खड़ा किया और उक्त व्यक्ति को नदी में बहने से बचा लिया।
पांडव खोह में लोगों ने लिया प्राचीन झरने का आनंद
एक ओर शहर में बारिश से जन-जीवन अस्त-व्यस्त हो गया, वहीं शहर से करीब 4 किमी दूर पांडव खोह में प्राकृतिक झरना शुरू हो गया। इसकी जानकारी मिलने पर शहर के अनेक युवा यहां पहुंच गए और इस प्राकृतिक झरने का आनंद उठाया। लोगों के अनुसार बारिश के मौसम में अच्छी बारिश होने पर ही ये झरना शुरू होता है।
चीलर डैम का जल स्तर साढ़े 13 फीट
शहरवासियों की प्यास बुझाने वाले क्षेत्र के सबसे बड़े जलस्रोत चीलर डैम में भी गुरुवार को हुई बारिश से पानी बढ़ गया। गुरुवार शाम तक चीलर डैम का जल स्तर करीब साढ़े 13 फीट तक पहुंच गया। संभावना जताई जा रही है कि अभी डैम में जो पानी की आवक आसपास के नदी-नालों से बनी हुई है उससे इसका जल स्तर और बढ़ जाएगा। उल्लेखनीय है कि चीलर डैम की कुल भराव क्षमता 23 फीट है। पूरा भरने के बाद ही इस डैम की दो नहरों से क्षेत्र सहित आसपास के दर्जनों ग्रामों के किसानों को सिंचाई के लिए पानी मिल पाता है।

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned