scriptrohini nakshatra 2022 weather news | 25 मई से खूब तपेगी धरती, अच्छी बारिश के भी आसार | Patrika News

25 मई से खूब तपेगी धरती, अच्छी बारिश के भी आसार

15 दिनों के लिए शुरू होगी रोहिणी, वृषभ राशि में सूर्य, बुध की युति रहेगी, प्रीति योग के साथ बुधादित्य योग

उज्जैन

Updated: May 16, 2022 12:59:29 pm

ललित सक्सेना

उज्जैन। इस बार 25 मई से रोहणी नक्षत्र की शुरुआत होगी। हर बार की तरह इस बार भी धरती खूब तपेगी। वहीं 15 दिनों के लिए शुरू हो रही रोहणी में पड़ने वाली तीखी गर्मी के कारण अच्छी वर्षा के योग भी बनेंगे। ज्योतिष की नजर से देखें तो वृषभ राशि में सूर्य, बुध की युति रहेगी, साथ ही प्रीति योग के साथ बुधादित्य का योग बनने जा रहा है।

ujjain1.png

ज्येष्ठ मास के कृष्ण पक्ष की दशमी तिथि पर सूर्य का रोहिणी नक्षत्र में प्रवेश हो रहा है। ग्रह गोचर की गणना से देखें तो वृषभ राशि में सूर्य बुध की युति रहेगी। 25 मई से आरंभ हो रहा नौतपा 2 जून तक रहेगा। ज्योतिषाचार्य पं. अमर डब्बावाला ने बताया कि सामान्यत: नौतपा की परिभाषा सूर्य के रोहिणी नक्षत्र के प्रवेश से लेकर प्रथम 9 दिन तक के संचरण से मानी जाती है। इस दृष्टि से 25 मई को सूर्य का रोहिणी में प्रवेश होगा, जिसके नौतपा के 9 दिन 2 जून तक रहेंगे, हालांकि सूर्य का मृगशिरा नक्षत्र में प्रवेश 8 जून को होगा।

नौतपा के दौरान बुध पूर्व में होंगे उदय

मेदिनी ज्योतिष शास्त्र की गणना से देखें तो जलवायु पर मौसम प्रभाव में बुध ग्रह का विशेष योगदान रहता है। हालांकि चंद्रमा भी अपनी साक्षी को दर्शाते हुए मौसम के परिवर्तन की ओर संकेत करता है। नौतपा के दौरान 9 दिन सूर्य का रोहिणी में परिभ्रमण रहता है, ऐसी मान्यता है कि इन्हीं 9 दिनों में वर्षा ऋतु का चक्र तैयार होता है। क्योंकि 9 में से तीन दिन के तीन भाग अलग-अलग प्रकार के देशों में अलग-अलग प्रकार के योग बनाते हैं, इन्हीं में कहीं-कहीं वर्षा होती है, कहीं उमस पड़ती है, तो कहीं तपिश। चूंकि बुध का वर्तमान में वृषभ राशि में गोचर है, इस दृष्टि से उत्तर दिशा विशेष रूप से प्रभावित होगी।

31 मई को पूर्व दिशा में होगा बुध का उदय

पूर्व दिशा में बुध का उदय होने से पूर्व दिशा में वर्षा की स्थिति दिखाई देगी। पहाड़ी क्षेत्रों पर वर्षा का प्रभाव नजर आएगा।

रोहिणी का निवास समुद्र में

इस बार रोहिणी का निवास समुद्र में है, अतिवृष्टि, समुद्रे स्यात, श्रेष्ठ वृष्टि होने पर धान्य वर्धन होता है, इस बार समय का निवास मालाकार अर्थात माली के घर रहेगा। ऐसी मान्यता है कि माली के घर रहने से वर्षा अच्छी होती है और समय का वाहन भैंसा है, जो कहीं-कहीं कुछ स्थानों पर अतिवृष्टि करवाएगा।

भारतीय ज्योतिष शास्त्र में दो प्रकार के विभाग में पहला विभाग भारतीय ज्योतिष शास्त्र का गणितीय पद्धति का इसी में फलित भी होता है। दूसरा प्रभाग जलवायु को समझने के लिए मेदिनी ज्योतिष शास्त्र का नियम सामने प्रस्तुत होता है। ज्योतिष शास्त्र में सूर्य तथा चंद्र के परिभ्रमण से संबंधित नक्षत्रों की गणना और नक्षत्रों का प्रवेश आदि से जुड़े सिद्धांत, प्रश्नों का उत्तर, प्राचीन धर्म ग्रंथ में प्राप्त होता है। सूर्य का किस नक्षत्र में प्रवेश का क्या नियम है, वह कितने समय तक उस नक्षत्र में विद्यमान रहता है, या परिभ्रमण करता है, इन सभी विषयों को लेकर अलग-अलग रूपरेखा, राशि, वार, सिद्धांत, सूत्र दिया हुआ है। इसी आधार पर वर्षा चक्र का निर्माण होता है। सूर्य का रोहिणी नक्षत्र प्रवेश क्रम तकरीबन 13 से 15 दिन का माना गया है जो कि 13 से 15 दिन के पहले 9 दिन जो होते हैं, वही नौतपा कहलाते हैं, इसलिए यह 9 दिन वर्षा के आगमन की स्थिति को तय करते हैं। इन्हीं 9 दिनों में वर्षा ऋतु का चक्र भी तैयार होता है।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

बड़ी खबरें

नुपूर शर्मा को सुप्रीम कोर्ट की फटकार, कहा- आपके बयान के चलते हुई उदयपुर जैसी घटना, पूरे देश से टीवी पर मांगे माफीहैदराबाद में आज से शुरू हो रही BJP की कार्यकारिणी बैठक, प्रधानमंत्री मोदी कल होगें शामिल, जानिए क्या है बैठक का मुख्य एजेंडाआज से प्रॉपर्टी टैक्स, होम लोन सहित कई अन्य नियमों में हुए बदलाव, जानिए आपके जेब में क्या पड़ेगा असरकेंद्रीय मंत्री आर के सिंह का बड़ा बयान, सिर काटने वाले आतंकियों के खिलाफ बनेगा UAPA की तरह सख्त कानून!LPG Price 1 July: एलपीजी सिलेंडर हुआ सस्ता, आज से 198 रुपए कम हो गए दामकेंद्रीय मंत्री आर के सिंह का बड़ा बयान, सिर काटने वाले आतंकियों के खिलाफ बनेगा UAPA की तरह सख्त कानून!Jagannath Rath Yatra 2022: देशभर में भगवान जगन्नाथ रथयात्रा की धूम, अमित शाह ने अहमदाबाद में की 'मंगल आरती'Kerala: सीपीआई एम के मुख्यालय पर बम से हमला, सीसीटीवी में कैद हुआ आरोपी
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.