स्वच्छता सर्वेक्षण : प्रदेश में नागदा ने मारी बाजी, मिला यह स्थान

स्वच्छता सर्वेक्षण : प्रदेश में नागदा ने मारी बाजी, मिला यह स्थान

Gopal Swaroop Bajpai | Publish: Mar, 07 2019 08:04:04 AM (IST) Ujjain, Ujjain, Madhya Pradesh, India

एक से तीन लाख तक की आबादी वाले शहर में वेस्ट सालिड मैनजमेंट में हम अव्वल

नागदा. देशभा के जानेमाने शहरों को पछाडकऱ हम स्वच्छता के मामले में 18वीं पायदान पर आ गए हैं, जबकि प्रदेश में हमारा नंबर पांचवा है। इसके साथ ही एक से तीन लाख तक की आबादी वाले शहरों में यानी तमाम नगरपालिकाओं में सालिडवेस्ट का प्रबंधन करने में हमें नंबर वन का तमगा मिला है। खास बात यह है कि हमने बिते वर्ष का खुद का भी रिकॉर्ड तोड़ा है। बुधवार को नईदिल्ली में स्वच्छता सर्वेक्षण जारी किया गया है। जिसमें स्वच्छता को लेकर ये सारी उपलब्धियां शहर के खाते में आई हैं। इन उपलब्धियों के लिए हमारे शहर के नपाध्यक्ष अशोक मालवीय को नई दिल्ली में सम्मानित किया गया है।
खास बात यह है कि ये तमगा शहर को इसलिए मिला क्योंकि नगरपालिका के प्रयासों के साथ ही साथ हमारे शहर के लोगों में स्वच्छता को लेकर जबरदस्त जाग्रति आई है। नगरपालिका ने तो सालों तक जिस महिदपुर रोड पर सड़े कचरे की बदबू के कारण मुंह बंद कर निकलना पड़ता था उस कचरे के ढेर को गार्डन में तब्दील कर दिया, जिसका नाम संभव दिया गया है। संभव की भी हमारी रैटिंग सुधारने में बढ़ी भूमिका रही है। खास बात यह भी है कि हमने इस साल राजधानी भोपाल और चंडीगढ़ जैसे शहरों को भी पटखनी दी है। हमारा स्कोर 3794.48 है, जबकि हमसे एक पायदान ऊपर रहने वाले खरगौन का स्कोर 3798 .34 है। यदि हम चार पाइंट का जोर ओर लगाते तो शायद हमारा नाम एक पायदान और ऊपर आता, लेकिन ये संतोषवाली बात है कि तमाम अभावों व असुविधाओं के बावजूद हम देश में 18 वें नंबर पर हैं।
कचरे के ढेर को संभव गार्डन में बदलने की बड़ी उपलब्धि
केंद्र सरकार ने बाद में नगर सरकार ने पहले ही शुरू कर दिया था खास बात यह है कि स्वच्छता को लेकर केंद्र सरकार नरेंद्र मोदी के प्रधानमंत्री बनने के बाद अवेयर हुई, लेकिन नगर सरकार की मुखिया शोभा यादव ने तो उसके भी पहले घरों ये कचरा उठाना शुरू कर दिया था उससे लोगों की आदत बनी और उसके बाद वर्तमान नपाध्यक्ष अशोक मालवीय व उनकी टीम ने इस काम को ओर अधिक सक्रियता से किया। यहां तक की सुबह 4 बजे उठकर अचानक किसी भी वार्ड में पहुंचकर स्वच्छता की स्थिति को देखना और असंभव कचरे के ढेर को संभव गार्डन में बदलने की बड़ी उपलब्धि भी मालवीय ने अपने नाम दर्ज की है। ये ही सब कारण है जिसके चलते हमने बाजी मारी है।
स्वागत रैली आज
दिल्ली से पुरस्कार प्राप्त करने के बाद नपाध्यक्ष अशोक मालवीय गुरुवार को शहर पहुंचेंगे। इस दौरान सुबह 8 बजे नागदा रेलवे स्टेशन से एक स्वागत रैली का आयोजन किया जाएगा, जो उनके निवास पहुंचकर खत्म होगी। रैली को सफल बनाने की अपील भाजपा मंडल ने की है।

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पड़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते है । हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते है ।
OK
Ad Block is Banned