scriptSecret inquiry of SIT in case of fraud by hacking from jail | जेल से हैकिंग कर फ्रॉड के मामले में एसआईटी की सीक्रेट पूछताछ | Patrika News

जेल से हैकिंग कर फ्रॉड के मामले में एसआईटी की सीक्रेट पूछताछ

एसआइटी पहुंची भेरवगढ़ जेल, साइबर क्राइम एक्सपटर्स आरोपी के बारे में कैदियों व अधिकारियों से गोपनीय पूछताछ

उज्जैन

Published: December 18, 2021 07:54:26 pm

उज्जैन. शुक्रवार को भोपाल साइबर सेल की एसआइटी केंद्रीय भेरवगढ़ जेल पहुंची। यहां टीम ने जेल अधिकारियों से पूछताछ के बाद कैदियों से साइबर एक्सपर्ट आरोपी अमर आनंद अग्रवाल के बारे में पूछताछ की और यह पता लगाया कि आरोपी किस बैरक में रहता था और कहां बैठकर जेल अधिकारियों के कहने पर देश विदेश के खाते लैपटॉप और इंटरनेट डोंगल के जरिए हैक करता था। इस संबंध में एसआइटी ने करीब 50 से ज्यादा पेज की फाइल तैयार की है।

jail_prisoners_hacking.png

अधिकारियों के अनुसार एसआइटी द्वारा की जा रही जांच में यह आखिरी पूछताछ है अब इसके बाद रिपोर्ट तैयार कर साइबर सेल को सौंप दी जाएगी, जिसके बाद तय होगा कि आखिर दोषियों पर क्‍या कार्रवाई की जाए। हालांकि एसआइटी ने इस बात को स्वीकार किया है कि तत्कालीन जेल अधिकारियों ने साइबर क्राइम एक्सपर्ट आरोपी से देश-विदेश के खाते हैक करवाए थे। एसआइटी ने इसके लिए अलग अलग करीब आधा दर्जन से ज्यादा जेल प्रहरी से पूछताछ की।

बिट क्राइन और डार्कवेब के जरिए हैकिंग
दरअसल महाराष्ट्र का रहने वाला साइबर क्राइम एक्सपर्ट अमर आनंद अग्रवाल 15 फरवरी 2018 से साइबर ठगी के मामले में भेरवगढ़ जेल में बंद था। करीब 4 माह पूर्व अमर अग्रवाल ने राज्य साइबर सेल को शिकायत की है कि भैरवगढ़ जेल सहायक अधीक्षक सुरेश गोयल, जेलर संतोष लड़िया अन्य अधिकारियों द्वारा उससे साइबर क्राइम करवाया जा रहा है। इसके लिए उसे लैपटॉप व इंटरनेट कनेक्शन तक दे रखा है, जिसमें डार्क बेब व बिट क्वाइन के जरिए डाटा जुटाकर देशी और विदेशी खातों में सेंध लगा रिश्तेदारों व अन्य अधिकारियों के खातों में करोड़ों रुपए ट्रांसफर करवाए गए।

इस मामले में शिकायत के बाद जेल प्रशासन के बीच हड़कंप मच गया, जिसके बाद 1 नंवबर को आनन फानन में राज्य साइबर सेल द्वारा गठित एसआइटी को जांच सौंपी गई थी और आरोपी को तुरंत उज्जैन से भोपाल जेल भेजा गया था। इसके पहले भी इस मामले में एसआईटी ने गोपनीय पूछताछ की थी। हालांकि मामले में राज्य साइबर एडीजी योगेश देशमुख का कहना है कि इस संबंध में फिलहाल जांच चल रही है। जल्द ही इस मामले में दोषियों के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

धन-संपत्ति के मामले में बेहद लकी माने जाते हैं इन बर्थ डेट वाले लोगशाहरुख खान को अपना बेटा मानने वाले दिलीप कुमार की 6800 करोड़ की संपत्ति पर अब इस शख्स का हैं अधिकारजब 57 की उम्र में सनी देओल ने मचाई सनसनी, 38 साल छोटी एक्ट्रेस के साथ किए थे बोल्ड सीनMaruti Alto हुई टॉप 5 की लिस्ट से बाहर! इस कार पर देश ने दिखाया भरोसा, कम कीमत में देती है 32Km का माइलेज़UP School News: छुट्टियाँ खत्म यूपी में 17 जनवरी से खुलेंगे स्कूल! मैनेजमेंट बच्चों को स्कूल आने के लिए नहीं कर सकता बाध्यअब वायरल फ्लू का रूप लेने लगा कोरोना, रिकवरी के दिन भी घटेइन 12 जिलों में पड़ने वाल...कोहरा, जारी हुआ यलो अलर्ट2022 का पहला ग्रहण 4 राशि वालों की जिंदगी में लाएगा बड़े बदलाव
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.