scriptShipra's lap will be seen on Shivratri like never before | शिवरात्रि पर एेसा नजर आएगा क्षिप्रा का आंचल जैसा पहले कभी नहीं दिखा, जानिए क्या है खास | Patrika News

शिवरात्रि पर एेसा नजर आएगा क्षिप्रा का आंचल जैसा पहले कभी नहीं दिखा, जानिए क्या है खास

दीपोत्सव में सात दिन शेष, अब टीम तैयार कर जिम्मेदारी बांटने पर फोकस, अब तक 12 हजार में से 8 हजार वालेंटीयर की लीस्ट तैयार

उज्जैन

Updated: February 21, 2022 09:38:22 pm

उज्जैन. महाशिवरात्रि पर इतिहास रचने का समय नजदीक आ रहा है। दीपोत्सव में महज सात दिन शेष हैं और अभी भी कुछ तैयारियां पूरी करना बाकी है। सामग्री जुटाने के साथ ही बड़ा कार्य वालेंटीयर की टीम निर्धारित कर जिम्मेदारियां बांटने का है। अच्छी बात यह है कि कार्यक्रम स्थल को तैयार करने का कार्य लगभग पूरा हो चुका है। सुनियोजित आयोजना के लिए तीन-चार दिन में शेष तैयारियां भी पूरी करने की जरूरत होगी।

Shipra's lap will be seen on Shivratri like never before
दीपोत्सव में सात दिन शेष, अब टीम तैयार कर जिम्मेदारी बांटने पर फोकस, अब तक 12 हजार में से 8 हजार वालेंटीयर की लीस्ट तैयार

इस वर्ष महाशिवरात्रि पर्व दीपोत्सव का आयोजन किया जा रहा है। १ मार्च को शहर २१ लाख दीपों से जगमगाएगा। इनमें से १२ लाख दीपक क्षिप्रा के विभिन्न घाटों पर लगाए जाएंगे। एेसा आयोजन अब तक क्षिप्रा के घाटों पर इससे पहले कभी नहीं हुआ है। कार्यक्रम स्थल को तैयार करने से लेकर साधन-संसाधन जुटाना और एक समय में १२ लाख दीपों को प्रज्वलित करना आयासान नहीं होगा लेकिन की जा रही तैयारियों से सफल आयोजन की पूरी उम्मीद है। आयोजन को लेकर वर्तमामन में ५० फीसदी से ज्यादा तैयारियां पूरी हो चुकी हैं। प्रयास है कि २५-२६ फरवरी तक सभी पूर्व तैयारियां शतप्रतिशत पूरी हो जाएं।

घाटों के नजदीक बना रहे स्टोर रूम

घाटों पर १२ लाख दीपक लगाने के लिए इतनी ही संख्या में दीपक-सलाई व इनमें लगने वाले तेल, जलाने के लिए मोमबत्ती आदि की आवश्यकता होगी। सामग्री की सप्लाई शुरू हो रही है। नगर निगम इन सामग्रियों को घाटों के आसपास ही रखने के लिए सुरक्षित स्टोर रूम की व्यवस्था कर रहा है। कुछ स्थानों पर स्टोर रूम तैयार कर सामग्रियों को बांट इनमें रखा जाएगा ताकि कार्यक्रम के दिन आसानी से इन्हें घाटों तक पहुंचाया जा सके।

अभी तक क्या हुआ, क्या शेष

घाट-
घाटों के अधिकांश भाग की सफाई हो चुकी है। घाटों पर सेक्टर, सब सेक्टर व ब्लॉक बनाने का कार्य ८० फीसदी तक हो गया है। मंगलवार या अधिकतम बुधवार तक घाट पूरी तरह तैयार करने का प्रयास है।

दीपक-तेल-

१२ लाख दीपक व इनमें लगने वाले तेल आदि के लिए टेंडर कर खरीदी की जा रही है। सोमवार से दीपों की सप्लाई शुरू हो गई है। तेल आदि की सप्लाई का कार्य प्रचलित है। दीपक जलाने एक संस्था द्वारा मोमबत्ती दान की जा रही है। मसलन उक्त सभी सामग्रियों को प्राप्त करने का कार्य फिलहाल प्रारंभिक स्थिति में ही है।

वालेंटीयर-

आयोजन के लिए टीम लीडर सहत करीब १२ हजार वॉलेंटीयर सेवा देंगे। अभी तक प्रशासन को ८ हजार वॉलेंटीयर के नाम मिले हैं। शेष वॉलेंटीयर चिन्हित करना होंगे। सभी के आइडी बनाने, सेक्टर व ब्लॉक आवंटन करने जैसा महत्वपूर्ण प्रबंधकीय कार्य शेष है।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

इन बर्थ डेट वालों पर शनि देव की रहती है कृपा दृष्टि, धीरे-धीरे काफी धन कर लेते हैं इकट्ठाLiquor Latest News : पियक्कडों की मौज ! रात एक बजे तक खरीदी जा सकेगी शराबशुक्र देव की कृपा से इन दो राशियों के लोग लाइफ में खूब कमाते हैं पैसा, जीते हैं लग्जीरियस लाइफMorning Tips: सुबह आंख खुलते ही करें ये 5 काम, पूरा दिन गुजरेगा शानदारDelhi Schools: दिल्ली में बदलेगी स्कूल टाइमिंग! जारी हुई नई गाइडलाइनMahindra Scorpio 2022 का लॉन्च से पहले लीक हुआ पूरा डिजाइन और लुक, बाहर से ऐसी दिखती है ये पावरफुल कारबैड कोलेस्‍ट्राॅल और डिमेंशिया को कम करके याददाश्त को बढ़ाता है ये लाल खट्‌टा-मीठा फल, जानिए इसके और भी फायदेAC में लगाइये ये डिवाइस, न के बराबर आएगा बिजली बिल, पूरे महीने होगी भारी बचत

बड़ी खबरें

अफगानिस्तान के काबुल में भीषण धमाका, तालिबान के पूर्व नेता की बरसी पर शोक मना रहे लोगों को बनाया गया निशानाPunjab Borewell Accident: बोरवेल में गिरे 6 साल के बच्चे की नहीं बचाई जा सकी जान, अस्पताल में हुई मौतBJP को सरकार बनाने के लिए क्यों जरूरी है काशी और मथुरा? अयोध्या से बड़ा संदेश देने की तैयारीपश्चिम बंगाल का पूर्व मेदिनीपुर जिला बम धमाकों से दहला, तलाशी के दौरान बरामद हुए 1000 से अधिक बमIPL 2022, SRH vs PBKS Live Updates: पंजाब ने हैदराबाद को 5 विकेट से हरायाकपिल देव के AAP में शामिल होने की चर्चा निकली गलत, सोशल मीडिया पर पूर्व कप्तान ने खुद साफ की स्थितिआख़िर क्यों असदुद्दीन ओवैसी बार-बार प्लेसेज ऑफ़ वर्शिप एक्ट की बात कर रहे हैं, जानें क्या है यह एक्टपुजारा और कार्तिक की टीम में वापसी, उमरान मालिक को भी मिला मौका, देखें दक्षिण अफ्रीका और इंग्लैंड दौरे का पूरा स्क्वाड
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.