scriptShivling appeared from the ground Neelkantheshwar Mahadev Temple becam | भूमि से प्रकट हुआ शिवलिंग, अन्य देवी-देवताओं की निकली हैं प्रतिमाएं | Patrika News

भूमि से प्रकट हुआ शिवलिंग, अन्य देवी-देवताओं की निकली हैं प्रतिमाएं

1000 वर्ष से आस्था का केंद्र बना नीलकंठेश्वर महादेव मंदिर

उज्जैन

Published: July 23, 2022 07:14:17 pm

उज्जैन. शहर के साथ ग्रामीण क्षेत्रों में भी अनेक धार्मिक, प्राकृतिक और चमत्कारिक धर्म स्थल है, जो अपनी प्राचीनता को बयां कर रहे हैं। शहर से करीब 33 किमी दूर घट्टिया तहसील के ग्राम बिछड़ौद के मुक्तिधाम मार्ग पर अतिप्राचीन श्री नीलकंठेश्वर महादेव मंदिर स्थित है।

patrika_mp_ujjain_mangalnath_1.jpg

मंदिर के पुजारीद्वय रतनलाल द्विवेदी, रमेशचन्द्र द्विवेदी ने बताया, श्री नीलकंठेश्वर महादेव मंदिर 1000 वर्षों से भी अधिक पुराना और प्राचीन होने के साथ यहां कई प्रकार के चमत्कार होते रहते है। श्रद्धालुओं को साक्षात नागदेव के भी दर्शन होते है। महादेव मंदिर पर एक घाट के साथ एक कुंड भी बना हुआ है। जो पुराना बताया जाता है। मंदिर परिसर के बाहर चारों ओर छाई हरियाली घास भी यहां का मनोरम दृश्य झलकाती है। ग्रामीणों के जनसहयोग से सावन माह में श्री नीलकंठेश्वर महादेव की पांच सवारी भी निकाली जाती हैं।

अन्य देवी-देवताओं के मंदिर भी स्थापित
श्री नीलकंठेश्वर महादेव मंदिर से करीब 50 मीटर दूर फुटे डेरे के नाम से शिव मंदिर भी स्थापित है, जो कई हजारों साल पुराना होते हुए अंग्रेजो के जमाने का बताया जाता है। यहां मंदिर की भूमि को खोदने पर शिवलिंग सहित अन्य देवी- देवताओं की खंडित प्रतिमा भी निकल चुकी है। यहां मंदिर में सोए हुए हनुमान जी का भी मंदिर स्थापित है। मंदिर परिसर की खुदाई के दरमियान यहां नागचंदेश्वर महादेव की प्रतिमा भी निकाली जा चुकी है, जोकि मंदिर में स्थापित है। बता दें कि उज्जैन के बाबा महाकालेश्वर मंदिर में श्री नागचंद्रेश्वर महादेव के दर्शन श्रद्धालुओं को एक वर्ष में एक ही बार मिलते है, लेकिन यहां श्री नागचंद्रेश्वर महादेव के दर्शन श्रद्धालुओं को रोजाना मिलते है।

हरियाली की चादर से निखर रहा मंदिर
मंदिर की दीवार पर बनी भगवान शिव जी की कलाकृति भी आकर्षक का केंद्र बनी है। मंदिर परिसर में प्राचीन श्री खेड़ापति हनुमान जी सहित अन्य देवी- देवताओं के मंदिर भी स्थापित है। जहां दर्शनार्थियों को साक्षात रुप में दर्शन लाभ प्राप्त होने के साथ यहां उनकी मनोकामनाएं पूरी होती है। मंदिर परिसर में बना खुला मैदान अपनी हरियाली की चादर ओढ़े अपना अलग ही रंग बिखेर रहा है। जहां दर्शनार्थियों के साथ बच्चे भी हरी घास को अपने खेल- खुद का मैदान समझकर पिकनिक के रूप में यहां आनंद लेते है।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

Monsoon Alert : राजस्थान के आधे जिलों में कमजोर पड़ेगा मानसून, दो संभागों में ही भारी बारिश का अलर्टमुस्कुराए बांध: प्रदेश के बांधों में पानी की आवक जारी, बीसलपुर बांध के जलस्तर में छह सेंटीमीटर की हुई बढ़ोतरीराजस्थान में राशन की दुकानों पर अब गार्ड सिस्टम, मिलेगी ये सुविधाधन दायक मानी जाती हैं ये 5 अंगूठियां, लेकिन इस तरह से पहनने पर हो सकता है नुकसानस्वप्न शास्त्र: सपने में खुद को बार-बार ऊंचाई से गिरते देखना नहीं है बेवजह, जानें क्या है इसका मतलबराखी पर बेटियों को तोहफे में देना चाहता था भाई, बेटे की लालसा में दूसरे का बच्चा चुरा एक पिता बना किडनैपरबंटी-बबली ने मकान मालिक को लगाई 8 लाख रुपए की चपत, बलात्कार के केस में फंसाने की दी थी धमकीराजस्थान में ईडी की एन्ट्री, शेयर ब्रोकर को किया गिरफ्तार, पैसे लगाए बिना करोड़ों की दौलत

बड़ी खबरें

Maharashtra News: महाराष्ट्र के रायगढ़ में संदिग्ध नाव मिलने से हडकंप, AK 47 सहित कई हथियार हुए बरामदपश्चिम बंगाल में STF को मिली बड़ी सफलता, अल-कायदा से जुड़े दो आतंकवादियों को किया गिरफ्तारBJP में शामिल होंगे JDU के पूर्व अध्यक्ष RCP सिंह, नीतीश के बारे में कहा- 7 जन्म में नहीं बन सकेंगे प्रधानमंत्रीराजू श्रीवास्तव की हालत नाजुक, ब्रेन हुआ डेड, दिल नहीं कर रहा काम, शुरू कराया गया महामृत्युंजय जापअशोक गहलोत ने गुजरात सरकार पर साधा निशाना, प्रदेश के विकास मॉडल को बताया खोखलाJammu Kashmir: बाहरी लोगों को वोट के अधिकार देने पर भड़के कश्मीरी नेता, मुफ्ती और उमर ने केंद्र पर साधा निशानाGujarat Assembly Elections: AAP ने जारी की उम्मीदवारों की दूसरी लिस्ट, जानें किसे कहां से मिला टिकट?शुभेंदु अधिकारी का दावा, दिसंबर तक टूट जाएगी TMC, बंगाल में दोहराया जाएगा महाराष्ट्र!
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.