56 गांव की महिला कलश लेकर पहुंची महाकाल के दरबार में, यह है कामना

56 गांव की महिला कलश लेकर पहुंची महाकाल के दरबार में, यह है कामना

Rishiraj Sharma | Publish: Jul, 26 2019 03:14:25 PM (IST) Ujjain, Ujjain, Madhya Pradesh, India

शहर में निकली शोभा यात्रा, पूजा-अर्चना हुई

उज्जैन. मालवा क्षेत्र में जमकर बारिश हो, ऐसी कामना लेकर 56 गांव की महिला बाबा महाकालेश्वर के दरबार में पहुंची। सभी महिला अपने-अपने क्षेत्र से कलश लेकर आई। यह कलश सिर पर रखकर पैदल शोभा यात्रा के रूप में शहर में पहुंची। यह यात्रा विभिन्न मार्ग से होती हुई मंदिर पहुंची। यहां पर विशेष पूजा-अर्चना के बाद बाबा का अभिषेक किया गया। बता दे कि उज्जैन शहर से कुछ ही दूरी पर पिग्लेश्वर गांव है। यह गांव पंचक्रोशी यात्रा का पहला पड़ाव है। इसी गांव के आसपास के 56 छोटे-बड़े गांव की महिला बारिश की कामना के साथ बाबा के दरबार में पहुंची।

सावन का माह शुरू हो चुका है। कावड़ यात्री बाबा महाकाल का अभिषेक के लिए पहुंच रहे है। इस समय तक शहर में झमाझम बारिश का दौर शुरू होता है। लोगों को गर्मी से राहत मिल जाती है। मां शिप्रा भी पूरी तरह से लबालब हो जाती है, लेकिन इस वर्ष की अभी तक ऐसे हालत नहीं बने है। इससे लोगों में चिंता बढ़ी है। इस कारण लोगों ने अब भगवान को मनाना शुरू कर दिया है। हर कोई अब बारिश की कामना कर रहा है। बता दे कि जल संकट के चलते निगम ने शहर में एक दिन छोड़कर पानी सप्लाय करना शुरू किया था। कुछ दिन की बारिश के बाद हर दिन पानी दिया जाने लगा, लेकिन अब बारिश उम्मीदों के अनुसार नहीं हो रही है।
लेट हो चुकी है बारिश
उज्जैन शहर में बारिश का इंतजार किया जा रहा है, लेकिन अभी तक मानसून लोगों की उम्मीद पर खरा नहीं उतरा है। कुछ दिन बारिश हुई। इससे लोगों ने राहत की सांस ली, लेकिन बारिश उम्मीद के अनुरूप नहीं हुई और ठहर गई। इस कारण गर्मी और बढ़ गई। शहर के मौसम का मिजाज बिगडऩे से आम लोगों को परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। साथ ही किसान लोग भी काफी चिंतित है।

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned