श्वेतांबर जैन मंदिरों में रहेगी धार्मिक आयोजनों की धूम

श्वेतांबर जैन समाज के आठ दिवसीय पर्वाधिराज पर्युषण शुक्रवार से शुरू होंगे। इस दौरान जैन धर्मावलंबी तप और आराधना में लीन होंगे

By: Gopal Bajpai

Published: 18 Aug 2017, 10:43 AM IST

उज्जैन. श्वेतांबर जैन समाज के आठ दिवसीय पर्वाधिराज पर्युषण शुक्रवार से शुरू होंगे। इस दौरान जैन धर्मावलंबी तप और आराधना में लीन होंगे और मंदिरों में सजावट, अंगरचना के साथ विभिन्न धार्मिक आयोजन होंगे। चातुर्मास के लिए विराजित साधु-साध्वी इन दिनों में कल्पसूत्र का वाचन करेंगे और २२ अगस्त को प्रभु का जन्मवाचन मनाया जाएगा।
तप-आराधना व लोगों को प्रभु भक्ति के मार्ग से जोडऩे विभिन्न मंदिरों में साधु-साध्वी मंडल विराजित हैं। पर्युषण १८ से २५ अगस्त तक चलेंगे। वहीं स्थानक समाज के पर्युषण  १९ अगस्त से प्रारंभ होंगे। वहीं दिगंबर जैन समाज के पर्युषण २६ अगस्त से प्रारंभ होकर ५ सितंबर तक चलेंगे।

दिनचर्या में बदलाव
पर्युषण के दौरान जैन समाजजनों की दिनचर्या में बदलाव आ जाएगा। वैसे तो अधिकांश जैन धर्मावलम्बी जैन नियमों का पालन करते हैं पर पर्युषण के दौरान नियमों का पूर्ण रूप से पालन किया जाएगा।
प्रतिदिन मंदिर में दर्शन,पूजन.
प्रतिक्रमण,सामायिक,स्वध्याय।
रात्रि भोजन का त्याग।
कंद-मूल का उपयोग पूर्णत: वर्जित।
गच्छाधिपति की निश्रा में ये आयोजन
श्री हीर विजय सूरिश्वर बड़ा उपाश्रय में सागर समुदाय गच्छाधिपति आचार्य गच्छाधिपति आचार्य दौलतसागर सूरिश्वर,आचार्य नंदीवर्धन सूरिश्वर,आचार्य आचार्य हर्षसागर सूरिश्वर साध्वी मुक्तिदर्शना के सान्निध्य में प्रतिदिन प्रवचन व प्रतिक्रमण होंगे। विविध धार्मिक कार्यक्रमों के साथ कल्पसूत्र वाचन होगा।
ऋषभदेव छगनीराम पेढ़ी मंदिर
खाराकुआं स्थित पेढ़ी मंदिर पर गच्छाधिपति के अनुयायी साधु नित्य सुबह ९.१५ से १०.१५ प्रवचन देंगे। यहां भी कल्पसूत्र भी वाचन होगा। पेढ़ी सचिव जयंतीलाल तेलवाला के अनुसार नित्य स्नात्र पूजा व शाम को प्रभु भक्ति व अंगरचना होगी।
पाश्र्वनाथ तीर्थ हासामपुरा
हासामपुरा स्थित श्री आलौकिक पाश्र्वनाथ जैन मंदिर में भी आठ दिनी उल्लास छाएगा। प्रतिदिन स्नात्र पूजन, दिन में बड़ी पूजा व संध्या में भक्ति व अंगरचना होगी। ट्रस्टी अशोक जैन व जयंतीलाल फाफरिया के अनुसार आचार्य हर्षतिलक विजय की प्रेरणा से २२ अगस्त को दोपहर १२.३९ बजे जन्मवाचन मनेगा।
स्थानक भवन नमकमंडी
महावीर भवन जैन स्थानक नमकमंडी में पर्युषण पर्वाधिराज की मंगल आराधना 19 से 26 अगस्त तक होगी। साध्वी प्रवीणाश्री, नम्रता श्री, अनेकांतश्री के सान्निध्य में प्रतिदिन सुबह 8.30 से 10.30 बजे तक प्रवचन व शाम 6.30 बजे प्रतिक्रमण होंगे। दोपहर 1.30 से 2.30 बजे तक कल्पसूत्र वाचन होगा। श्रावक संघ अध्यक्ष प्रकाशचंद सूर्या व उत्सव महोत्सव संयोजक सुनील श्रीमाल ने बताया पर्युषण में रोज दोपहर 2.30 से शाम 4.30 बजे तक श्रावक-श्राविका, बच्चे व युवाओं द्वारा विभिन्न विषयों पर धार्मिक ज्ञानवर्धन कार्यक्रम होंगे। 27 अगस्त को सुबह 6.30 बजे महावीर भवन में विराजित सती मंडल से सामूहिक क्षमायाचना का ७कार्यक्रम होगा।

Gopal Bajpai Editorial Incharge
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned