scriptSingapore company will prepare world class technical staff, will get t | सिंगापुर की कंपनी तैयार करेगी वर्ल्ड क्लॉस तकनीकी कर्मचारी, यहां मिलेगी ट्रेनिंग | Patrika News

सिंगापुर की कंपनी तैयार करेगी वर्ल्ड क्लॉस तकनीकी कर्मचारी, यहां मिलेगी ट्रेनिंग

आइटीएस कंपनी की देखरेख में तैयार हो रहा 27 करोड़ का संभागीय आइटीआई भवन

उज्जैन

Published: November 20, 2021 08:06:15 pm

उज्जैन. भगवान कृष्ण की शिक्षा सस्‍थली उज्जैयनी अब कौशल विकास का बड़ा हब बनने वाली है। यहां औद्योगिक प्रशिक्षण संस्थान में विदेशी एक्सपर्ट की देखरेख में वर्ल्ड क्लास तकनीकी कर्मचारी तैयार होने वाले हैं। ऐसा सिंगापुर की आइटीएस कपनी द्वारा संभागीय आइटीआई को उन्नत करने से होगा। यह कंपनी स्कील्ड ट्रेनों की मदद से फैकल्टी को ट्रेंड करेगी तो विद्यार्थियों को प्रशिक्षित करेगी। खास बात यह कि कंपनी निर्माणाधीन आइटीआई भवन के निर्माण भी अपने देखरेख में करवा रही ताकि यहां उन्नत मशीनरी स्थापित हो सके।

ujjian_iti.png

स्थानीय औद्योगिक प्रशिक्षण संस्थान अब संभागीय आइटीआई में परिवर्तित किया जा रहा है। इसके लिए 27 करोड़ की लागत से नया संभागीय आइटीआई भवन बनाया जा रहा है। अगले मार्च तक हैंडओवर होने वाले इस भवन को सिंगापुर की कंपनी की देखरेख में बनाया जा रहा है। कंपनी अपने कंसलटेंट के माध्यम से एडवांस मशीनरी, वर्कशॉप बना रही है।

Must See: जेल से जज, आईएएस और आईपीएस के मोबाइल हैक

24 ट्रेड होंगे, हाई सैलरी पर 100 फीसदी प्लेसमेंट
नए संभागीय आइटीआई में करीब 24 ट्रेड में पढ़ाई करवाई जाएगी। वर्तमान में संचालित 19 ट्रेड के अलावा पांच नए ट्रेड शुरू होंगे। इसमें मेशन, प्लंबर, कारपेंटर, ड्राफ्टमैन सिविल, पेंटर जनरल कोर्स शामिल होंगे। आइटीआई में एडवांस ट्रेनिंग होगी लिहाजा यहां 100 फीसदी प्लेसमेंट तो होगा ही वेतन भी अधिक मिलेगा। संभागीय आइटीआई में एक समय में करीब 1250 विद्यार्थी ट्रेनिंग ले सकेंगे।

कपनी जैसे कारीगर मांगेगी वैसी ट्रेनिंग
संभागीय आइटीआई में कंपनियों को ध्यान में रखते हुए प्रशिक्षण दिया जाएगा। यहां अल्प अविध के कोर्स भी रहेंगे। यदि कोई कंपनी अपने खास मशीन के संचालन करने के लिए कारीगर मांगेगी तो उसी अनुरूप ट्रेनिंग देकर उसे तैयार किया जाएगा। वहीं कारपेंटर, प्लंबर, पेंटर जनरल जैसे कोर्स तो ऐसे हैं, जो कम समय में प्रशिक्षित होकर रोजगार मुहैया हो सकेगा।

Must See: कोरोना की आहटः एम्स में कोविड इमरजेंसी यूनिट फिर हुई शुरू

मप्र शासन के विदेशी कंपनी के टाइअप के चलते यह सुविधा मिल रही है, कंपनी के प्रतिनिधि फैकल्टी को ट्रेनिंग भी दे चुके हैं। अब एडवांस मशीनरी से लेकर फैकल्टी और विद्यार्थियों को ट्रेनिंग मिल सकेगी। अगले वर्ष जब संभागीय आइटीआई शुरू होगा तो यह कंपनी विद्यार्थियों को विश्व स्तरीय ट्रेनिंग दिलवाएगी। इसके लिए फैकल्टी को भी ट्रेंड किया जाएगा। कंपनी ने कुछ फैकल्टी को ट्रेंड करने के लिए वर्कशॉप भी लगा चुकी है। आइटीआई के अधिकारी बता रहे हैं कि अगले दो वर्षों में उजैन संभाग के लिए कौशल विकास का बड़ा केंद्र बन जाएगा। इससे संभाग के विभिन्न जिलों के आइटीआई के विद्यार्थी और प्रशिक्षकों को भी यहां से ट्रेनिंग मिलेगी।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

धन-संपत्ति के मामले में बेहद लकी माने जाते हैं इन बर्थ डेट वाले लोगशाहरुख खान को अपना बेटा मानने वाले दिलीप कुमार की 6800 करोड़ की संपत्ति पर अब इस शख्स का हैं अधिकारजब 57 की उम्र में सनी देओल ने मचाई सनसनी, 38 साल छोटी एक्ट्रेस के साथ किए थे बोल्ड सीनMaruti Alto हुई टॉप 5 की लिस्ट से बाहर! इस कार पर देश ने दिखाया भरोसा, कम कीमत में देती है 32Km का माइलेज़UP School News: छुट्टियाँ खत्म यूपी में 17 जनवरी से खुलेंगे स्कूल! मैनेजमेंट बच्चों को स्कूल आने के लिए नहीं कर सकता बाध्यअब वायरल फ्लू का रूप लेने लगा कोरोना, रिकवरी के दिन भी घटेइन 12 जिलों में पड़ने वाल...कोहरा, जारी हुआ यलो अलर्ट2022 का पहला ग्रहण 4 राशि वालों की जिंदगी में लाएगा बड़े बदलाव
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.