Video बैंक कर्मियों ने लगाए नारे, निकाली आक्रोश रैली

यूनाइटेड फोरम ऑफ बैंक यूनियन्स के आह्वान पर मंगलवार को बैंक कर्मचारी हड़ताल पर रहे।

By: Gopal Bajpai

Published: 22 Aug 2017, 01:00 PM IST

उज्जैन. यूनाइटेड फोरम ऑफ बैंक यूनियन्स के आह्वान पर मंगलवार को बैंक कर्मचारी हड़ताल पर रहे। हड़ताल के तहत सुबह ११ बजे कर्मचारियों की रैली टॉवर चौक से शुरू हुई जो शहीद पार्क, मुंगी चौराह होते हुए टॉवर चौक पर पहुंची। यहां बड़ी संख्या में बैंककर्मी रैली में शामिल हुए। हाथों में बैनर झंडे लेकर आक्रोशित नारे लगाए।

यूनाइटेड फोरम ऑफ बैंक यूनियन्स के आह्वान पर बैंक कर्मचारी हड़ताल पर हैं, इसलिए बैंकों से संबंधित सभी कार्य शिथिल हैं। हड़ताल के तहत कर्मचारियों की रैली निकली, जो विभिन्न मार्गों से होकर टॉवर चौक पर पहुंची।

ये हैं मुख्य मांगें
बैंककर्मी सरकार की आर्थिक एवं जनविरोधी नीतियों एवं बैंकों का विलयीकरण, निजीकरण, एनपीए की रिकवरी के सख्त नियम बनाने, जानबूझकर पैसा वापस नहीं करने वालों के विरुद्ध सख्त कार्रवाई, नए कर्मचारियों को पुरानी पेंशन का लाभ, बैंक ब्यूरो को समाप्त करने, बैंक अधिकारी, कर्मचारियों निर्देशकों की नियुक्ति शीघ्र करने, अनुकंपा नियुक्ति को प्रारंभ करने, सेवानिवृत्त लोगों की पेंशन योजना में सुधार आदि मांग शामिल है। हड़ताल की तैयारी के लिए बैंक कर्मचारी व यूनियन के सदस्यों ने एक दिन पूर्व बैठक भी की। इसमें हेमंत श्रीवास्तव, सुनील जैन, प्रमोद मंत्री, केशव पण्ड्या, मुकेश नीम, रवींद्र जेठवा, राजेश गिरि आदि उपस्थित रहे।

शाजापुर में भी बैंक कर्मियों ने लगाए नारे
शाजापुर. शहर में सुबह से ही बैनर-झंडे लिए बैंक कर्मी सड़कों पर नारेबाजी करते नजर आए। यूनाइटेड फोरम ऑफ बैंक यूनियन्स के आह्वान पर मंगलवार को बैंक कर्मचारी हड़ताल पर रहे। सरकार की आर्थिक एवं जनविरोधी नीतियों एवं बैंकों का विलयीकरण, निजीकरण, एनपीए की रिकवरी के सख्त नियम बनाने, जानबूझकर पैसा वापस नहीं करने वालों के विरुद्ध सख्त कार्रवाई, नए कर्मचारियों को पुरानी पेंशन का लाभ, बैंक ब्यूरो को समाप्त करने, बैंक अधिकारी, कर्मचारियों निर्देशकों की नियुक्ति शीघ्र करने, अनुकंपा नियुक्ति को प्रारंभ करने, सेवानिवृत्त लोगों की पेंशन योजना में सुधार आदि मांग शामिल है।

Gopal Bajpai Editorial Incharge
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned