प्रतिभा से युवाओं ने उत्सव में मचाई धूम, रिजल्ट सुना तो मचा हंगामा

Gopal Bajpai

Publish: Jan, 14 2018 11:49:48 (IST)

Ujjain, Madhya Pradesh, India
प्रतिभा से युवाओं ने उत्सव में मचाई धूम, रिजल्ट सुना तो मचा हंगामा

राज्य स्तरीय युवा उत्सव - कार्यक्रम स्थल से प्रतिभागियों के सामान चोरी, विजेताओं को मिले गलत नाम के चेक, परिणाम को लेकर अंसतोष

उज्जैन. विक्रम विश्वविद्यालय में आयोजित तीन दिवसीय युवा उत्सव के पुरस्कार वितरण समारोह के बाद हंगामा हो गया। विवि की तरफ से घोषित रिजल्ट में जबलपुर विवि को पूरी तरह से प्राथमिकता दी गई। यह बात शोभायात्रा के परिणाम से झलक भी गई, क्योंकि जबलपुर विवि के प्रतिभागियों ने कुछ भी प्रयोग नहीं किया, जबकि विक्रम विवि के प्रतिभागियों ने बाबा महाकाल की सवारी का दृश्य निकाला था। इसके बाद उज्जैन के प्रतिभागियों ने नारेबाजी शुरू कर दी। सूचना मिलते ही एनएसयूआई प्रदेश प्रवक्ता आयुष शुक्ला व अन्य भी मौके पर पहुंच गए। आयोजन समिति ने जब रिजल्ट को पुनर्अवलोकन किया तो बड़ी गड़बड़ी सामने आई। उज्जैन का दल सीधे सांत्वना से प्रथम स्थान पर पहुंच गया। यह इकलौता मामला नहीं है। वेस्टर्न सांग प्रतियोगिता में जबलपुर की टीम को अयोग्य करार देने के बाद भी द्वितीय स्थान दे दिया गया। बता दें कि गायन प्रतियोगिता में वाद्य यंत्रों के लिए संगतकार लाए जाते हैं, लेकिन जबलपुर की टीम ने संगतकार की जगह रिकॉर्ड म्यूजिक पर प्रस्तुति दी। कुछ प्रतिभागियों ने पत्रिका को उक्त इवेंट का वीडियो भी उपलब्ध करवा दिया। युवा उत्सव के परिणामों में उजाकर हुई गड़बड़ी ने पूरे इवेंट को ही सवालों में ला दिया है।


गलत नाम से बन गए चेक और प्रमाण पत्र
युवा उत्सव के समापन के बाद प्रतिभागियों में बड़ी हलचल मच गई। विजेताओं को मिले चेक में नाम गलत थे और प्रमाण पत्र में भी स्पेलिंग गलत थी। एेसा किसी एक टीम के दल के साथ नहीं हुआ। जीवाजी ग्वालियर, रीवा, भोपाल के आधा दर्जन से अधिक प्रतिभागियों को उक्त परेशानी का सामना करना पड़ा।
बड़ी बात यह थी कि कार्यक्रम खत्म होते ही सभी कर्मचारी चले गए तो सुधार करने वाला कोई नहीं बचा। इसके बाद प्रतिभागी चेक विवि को ही वापस कर गए। रीवा की तरफ से आई महिला टीम मैनेजर में जाते-जाते एक कर्मचारी से कहा कि उनका अनुभव काफी दुखद है।

कार्यक्रम शुरू होने एक घंटे बाद पहुंचे चंकी

विवि में समापन समारोह में अतिथि अभिनेता चंकी पाडे को बुलाया गया था। कार्यक्रम शुरू होने का समय ३.३० था। मुख्य अतिथि संजय पाठक राज्य मंत्री उच्च शिक्षा विभाग कार्यक्रम में नहीं पहुंचे। इसके बाद ४.३० बजे तक चंकी भी नहीं आए तो विवि प्रशासन ने कार्यक्रम की शुरुआत कर दी। करीब एक घंटे बाद चंकी पाण्डे कार्यक्रम स्थल पर पहुंचे। इसके बाद उन्होंने पुरस्कार वितरण में अपनी सहभागिता की। इस दौरान पीके वर्मा कुलपति भोपाल विवि, डॉ. शैलेंद्र कुमार शर्मा कुलानुशासक, राकेश ढण्ड संकायाध्यक्ष छात्र कल्याण आदि मंच पर मौजूद रहे।


प्रतिभागियों के कपड़े और पैसे चोरी
उत्सव के दौरान भोपाल विवि के रायसेन कॉलेज के एक विद्यार्थी के कपड़े, मोबाइल चार्जर और ५०० रुपए हॉस्टल से चोरी हो गए। इसी के साथ जब प्रतिभागी विक्रम कीर्ति मंदिर में प्रस्तुति दे रहे थे। तब उनके ब्लेजर कोई अज्ञात आदमी चुरा ले गए। युवा उत्सव में आए करीब पांच से अधिक प्रतिभागी चोरी का शिकार हुए हैं।

patrika

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned