ऐसा कंट्रोल सेंटर कि महिलाओं को छेड़ने वाले बच ही न सके

केंद्रीय आवास एवं शहरी विकास सचिव ने मृदा प्रोजेक्ट को राष्ट्रीय स्तर का बताया, योजना के कुछ बिंदुओं पर उठाए सवाल

उज्जैन. स्मार्ट सिटी योजना अंतगत बने इंट्रीगेटेड कमांड कंट्रोल सेंटर (आइ ट्रिपल सी) को केंद्रीय आवास एवं शहरी विकास सचिव दुर्काशंकर मिश्रा ने शहर में अपराध नियंत्रण और महिला सुरक्षा के लिए महत्वपूर्ण बताया है। उन्होंने निर्देश दिए है कि सेंटर का उपयोग सिर्फ यातायात व्यवस्था की निगरानी तक सीमित न रहे। कैमरों का जाल इस तरह फैलाया जाए कि शहर में महिलाएं स्वयं को सुरक्षित महसूस करें और अपराधियों को भी यह भय बना रहे कि यदि उन्होंने कोई अपराध किया तो उनके पकड़े जाने में समय नहीं लगेगा।

सोमवार को सचिव मिश्रा ने इंदौर व उज्जैन में स्मार्ट सिटी योजना अंतर्गत कार्यों की समीक्षा की। स्मार्ट सिटी सीइओ प्रदीप जैन ने शहर में प्रचलित कार्यों के साथ ही स्वीकृत व प्रस्तावित प्रोजेक्ट की जानकारी दी। इसी तरह इंदौर नगर निगम आयुक्त आशीषसिंह ने इंदौर के कार्य व मेट्रो ट्रेन प्रोजेक्ट का प्रंजेटेशन दिया। महाकाल क्षेत्र में प्रचलित उज्जैन के मुख्य मृदा प्रोजेक्ट की प्रशंसा करते हुए मिश्रा ने कहा, यह स्थानीय नहीं राष्ट्रीय स्तर का प्रोजेक्ट है। आइ ट्रिपल सी को उन्होंने महत्वपूर्ण बताते हुए इसका उपयोग महिला सुरक्षा के लिए भी करने का कहा। बैठक के बाद मिश्रा ने अधिकारियों के साथ नए स्वीमिंग पूल और मृदा प्रोजेक्ट के कार्यों का निरीक्षण भी किया। मृदा प्राजेक्ट के कुछ बिंदुओं पर मिश्रा ने सवाल खड़े किए, जिसका अधिकारी संतोषजनक जवाब नहीं दे सके। उन्होंने कहा, मैं समाधान नहीं बता रहा हूं, सवाल कर रहा हूं ताकि इनके जवाब के लिए आप लोग सोच व कुछ और बेहतर हो सके। बैठक में खान व सरस्वती नदी को लेकर भी उन्होंने इंदौर के अधिकारियों से चर्चा की। साथ ही उन्होंने कहा कि खान नदी में नाले का पानी ट्रीट करने के बाद ही छोड़ें। इस दौरान नगरीय प्रशासन एवं विकास विभाग प्रमुख संजय दुबे, नगरीय प्रशासन एवं विकास विभाग आयुक्त पी नरहरि, संभागायुक्त अजीत कुमार, कलेक्टर शशांक मिश्र, अपर कलेक्टर क्षितिज सिंघल, स्मार्ट सिटी प्रभारी एसइ धर्मेंद्र वर्मा आदि मौजूद थे।

भोपाल में होगी सीवरेज की समीक्षा

सीवरेज प्रोजेक्ट को लेकर बैठक में विशेष चर्चा नहीं हुई। मीडिया से चर्चा के दौरान प्रोजेक्ट की गति खासी धीमी होने का मामला सामने आने के बाद मिश्रा ने बताया, जल्द ही भोपाल में वह बैठक लेने वाले हैं, जिसमें सीवरेज प्रोजेक्ट की विस्तृत चर्चा करेंगे। सूत्रों के अनुसार इसके बाद वरिष्ठ नेताओं ने प्रोजेक्ट को लेकर रिपोर्ट मांगना शुरू कर दी है।

यह भी बोले सचिव

- शिव प्रतिमाएं योग मुद्रा वाली भी बनाई जाएं।

- प्रतिमाओं के पीछे धार्मिक पौराणिक कथा है तो आरएफआइडी सिस्टम लगाएं ताकि ऑडियो के जरिए श्रोताओं को कथा सुनने को मिले।

- प्रोजेक्ट बहुत अच्छे हैं, कार्यों की स्थिति संतोषजनक है। क्वालिटी एेसे ही मेंटेन रखें।

- नूतन स्कूल क्षेत्र में चार-पांच स्कूलों को एक स्थान पर लाना, यही स्मार्ट प्लानिंग कहलाती है।

- नया स्वीमिंग पूल अच्छा बना है। यहां कुछ इवेंट करवाए ताकि राष्ट्रीय-अंतराष्ट्रीय स्तर तक इसकी जानकारी पहुंचे।

aashish saxena
और पढ़े

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned