भीड़ कम दिखी तो इस मंत्री ने रैली को नहीं दिखाई झंडी

जिला मंत्री ने झंडी दिखाकर किया रवाना

By: Gopal Bajpai

Published: 03 Mar 2019, 08:02 AM IST

नागदा. लोकसभा चुनाव के मद्देनजर शनिवार को भाजपा के प्रांत व्यापी कार्यक्रम के तहत विजय संकल्प बाइक रैली निकाली गई। रैली का मकसद लोकसभा में भाजपा के पक्ष में माहौल तैयार करना था। शहर में रैली का आयोजन भारतीय जनता युवा मोर्चा के बैनर तले रखा गया था। रैली का शुभारंभ केंद्रीय मंत्री थावरचंद गेहलोत को करना था, लेकिन रैली में सम्मानजनक भीड़ एकत्रित नहीं होने के कारण ऐन वक्त पर केंद्रीय मंत्री ने कार्यक्रम से किनारा कर लिया। बाद में रैली को जिला मंत्री राकेश यादव ने झंडी दिखाकर रवाना किया। रैली का शुभारंभ बिरलाग्राम चौराहे से किया जो शहर के प्रमुख मार्गों व विधानसभा के कई ग्रामीण क्षेत्रों से होते हुए खाचरौद उज्जैन दरवाजा पहुंच कर इसका समापन हुआ।
रैली में पूर्व विधायक दिलीपसिंह शेखावत, नपाध्यक्ष अशोक मालवीय, सुल्तानसिंह शेखावत, लालसिंह राणावत, डॉ. तेज बहादुरसिंह चौहान, मंडल अध्यक्ष राजेश धाकड़, महेश व्यास, नपा उपाध्यक्ष सज्जन शेखावत, अशोक मावर, मोहनलाल धाकड़, हरीश अग्रवाल, रामसिंह शेखावत, जीवन आंजना, भवानीसिंह देवड़ा, साहिल शर्मा आदि शामिल हुए। बिरलाग्राम चौराहे से रैली प्रारंभ होकर मेहतवास, दुर्गापूरा, गर्वमेंट कॉलोनी, शिवपुरा रेलवे फाटक, चंबल मार्ग, महात्मा गांधी मार्ग, जवाहर मार्ग महिदपुर रोड मार्ग होते हुए बायपास पहुंची, जहां से बैरछा, मोकड़ी घिनोदा आदि ग्रामीण क्षेत्रों में भ्रमण करते हुए खाचरौद में इसका समापन हो गया।
------
मेले का शुभारंभ करने पहुंचे केंद्रीय मंत्री को करना पड़ा पंडित का इंतजार
नागदा. आपने ये तो सूना होगा कि मंत्री के लेट पहुंचने के कारण लोगों को इंतजार करना पड़ा, लेकिन शहर में इससे ठीक उल्टा हुआ। यहां मेले का शुभारंभ करने पहुंचे केंद्रीय मंत्री डॉ. थावरचंद गेहलोत को शुभारंभ अवसर पर की जाने वाली पूजा के लिए पंडित का इंतजार करना पड़ा। करीब 15 मिनट बाद पंडित आए और उन्होंने वैदिक मंत्रों के साथ चंबल तट पर लगने वाले महाशिवरात्रि मेले का शुभारंभ करवाया। शनिवार को सुबह 10 बजे चंबल तट पर सात दिवसीय महाशिवरात्रि मेले का शुभारंभ होना था, इसका शुभारंभ करने के लिए केंद्रीय सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता मंत्री डॉ. थावरचंद गेहलोत पहुंचे थे। मंत्री गेहलोत ठीक समय पर मेले में पहुंच गए, लेकिन जब मंत्री गेहलोत वहां पहुंचे तब तक वहां पंडित नहीं था, फिर दो लोग मुक्तेश्वर मंदिर पहुंचे जो की मेला प्रांगण में ही है। वहां से बाइक पर बैठकर पंडित को लेकर आए उसके बाद मेले का शुभारंभ हो पाया। दरअसल मंत्री डॉ. गेहलोत अपने टाइम मैनेजमेंट के लिए जाने जाते हैं। जिस समय का आयोजन तय हो वे ठीक उसी समय पर आयोजन स्थल पर पहुंच जाते हैं।
मेले के शुभारंभ अवसर पर पूर्व विधायक दिलीपसिंह शेखावत, नपाध्यक्ष अशोक मालवीय, पूर्व विधायक लालसिंह राणावत, भाजपा नेता डॉ. तेजबहादूरसिंह चौहान, सुल्तानसिंह शेखावत, मंडल अध्यक्ष राजेश धाकड़, नगरपालिका उपाध्यक्ष सज्जनसिंह शेखावत, पूर्व नगरपालिका अध्यक्ष गोपाल यादव, विमला चौहान, रामसिंह शेखावत, ओमप्रकाश चौहान, हरीश अग्रवाल, राकेश यादव, ओपी गेहलोत, पंकज माखरिया, अनिल जोशी आदि मौजूद रहे।

Gopal Bajpai Editorial Incharge
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned