विश्वविद्यालय और कॉलेजों में अब इस चुनाव की मांग जोरों पर

विश्वविद्यालय और कॉलेजों में अब इस चुनाव की मांग जोरों पर

Lalit Saxena | Publish: Sep, 05 2018 08:00:00 AM (IST) Ujjain, Madhya Pradesh, India

दिशा छात्रसंघ ने माधव कॉलेज में सौंपा ज्ञापन

उज्जैन. छात्रसंघ चुनाव की घोषणा नहीं होने से छात्र संगठनों में आक्रोश बढऩे लगा है। नए सत्र में प्रवेश प्रक्रिया पूरी हो चुकी है। अन्य राज्यों में छात्रसंघ चुनाव की प्रक्रिया शुरू हो गई, लेकिन मध्यप्रदेश में अभी स्थिति स्पष्ट नहीं है। ऐसे में अब कैम्पस में जल्द छात्रसंघ चुनाव की मांग उठने लगी है।
कॉलेजों और विश्वविद्यालय में नवीन सत्र २०१८-१९ में प्रवेश प्रक्रिया पूरी हो चुकी है। उच्च शिक्षा विभाग के अकादमिक कैलेंडर के अनुसार छात्रसंघ चुनाव का प्रस्तावित समय आ चुका है, लेकिन विभाग की तरफ से अभी तक चुनाव को लेकर कोई स्थिति स्पष्ट नहीं है। गत सत्र में विभाग ने सरकारी कॉलेजों में छात्रसंघ चुनाव करवाए। इसके बाद मामला न्यायालय में पहुंचा और फिर निजी कॉलेजों में भी छात्रसंघ चुना हुए। हालांकि छात्रसंघ चुनाव की यह प्रक्रिया पूर्ण रूप से प्रत्यक्ष नहीं थी। कैम्पस में कक्षा प्रतिनिधि के निर्वाचन हुए। जहां दावेदार सामने नहीं आए। वहां मैरिट से कक्षा प्रतिनिधि चुने गए। इसके बाद कक्षा प्रतिनिधियों ने अपना छात्रसंघ बनाया। इस प्रक्रिया में अधिकांश मैरिट वाले कक्षा प्रतिनिधि बने। ऐसे में पूरा चुनाव शिक्षकों के अधीन ही हो गया। हालांकि कुछ माह बाद विधानसभा चुनाव होने हैं। ऐसे में सरकार भी छात्रसंघ चुनाव को टालने की कोशिश में है, लेकिन विद्यार्थियों की तरफ से मांग उठना शुरू हो गई।
प्राचार्य से की चर्चा
उच्च शिक्षा आयुक्त के नाम दिशा छात्र संगठन ने माधव कॉलेज प्राचार्य को ज्ञापन सौंपा। इसमें छात्रसंघ चुनाव की स्थिति स्पष्ट कर जल्द ही चुनाव करवाने की मांग शामिल है। ज्ञापन देने वालों में संजय कुमारिया, वीरभद्र वर्मा, यश जैन, चिराग उपाध्याय अनिकेत भारद्वाज, अनीस राठौड़, हर्षित शर्मा व अन्य विद्यार्थी उपस्थित रहे। उच्च शिक्षा आयुक्त के नाम दिशा छात्र संगठन ने माधव कॉलेज प्राचार्य को ज्ञापन सौंपा। इसमें छात्रसंघ चुनाव की स्थिति स्पष्ट कर जल्द ही चुनाव करवाने की मांग शामिल है। ज्ञापन देने वालों में संजय कुमारिया, वीरभद्र वर्मा, यश जैन, चिराग उपाध्याय अनिकेत भारद्वाज, अनीस राठौड़, हर्षित शर्मा व अन्य विद्यार्थी उपस्थित रहे।

Ad Block is Banned